धनतेरस पर योगी का तोहफा, यूपी में बनेंगे दो और एक्सप्रेस-वे

lucknow: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh Government) की योगी सरकार ने धनतेरस (Dhanteras Today) के दिन सूबे की जनता को एक बड़ा तोहफा दिया है. राज्य सरकार की दो अति महात्वाकांक्षी परियोजनाओं बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे और गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के निर्माण के लिए शुक्रवार को वित्तीय निविदाएं खोली गयीं.

उप्र एक्सप्रेस-वे औद्योगिक विकास प्राधिकरण (यूपीडा) के मुख्य कार्यकारी अधिकारी एवं शासन के अपर मुख्य सचिव अवनीश अवस्थी ने आज शाम यहां बताया कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के छह पैकेजों के लिए कुल 17 वित्तीय निविदाएं खोली गयीं, जिनमें न्यूनतम निविदा एस्टीमेटेड कास्ट से करीब 12.72 प्रतिशत कम आयी.

उन्होंने बताया कि इससे यूपीडा को लगभग 1131.74 करोड़ रुपये की बचत होगी. अवस्थी ने बताया कि मेसर्स आप्को इन्फ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड, मेसर्स अशोका बिल्डकॉन लिमिटेड, मेसर्स गावर कंस्टक्शन लिमिटेड और मेसर्स दिलीप बिल्डकॉन लिमिटेड बुंदेलखंड एक्सप्रेस वे के निर्माण के लिए चयनित कंपनियां हैं. 

उन्होंने बताया कि गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के निर्माण के लिए मेसर्स आप्को इन्फ्राटेक प्राइवेट लिमिटेड और मेसर्स दिलीप बिल्डकॉ लिमिटेड का चयन किया गया है. यूपीडा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने बताया कि बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे के लिए करीब 93 प्रतिशत से अधिक भूमि अधिग्रहीत की जा चुकी है.

कंपनियों के चयन के बाद अब इस एक्सप्रेस-वे का निर्माण कार्य जल्द ही प्रारम्भ हो जाएगा. 

बुंदेलखंड एक्सप्रेस-वे जनपद चित्रकूट में भरतकूप के पास से प्रारम्भ होकर बांदा, हमीरपुर, जालौन, औरैया होते हुए आगरा-लखनऊ एक्सप्रेस-वे पर इटावा-बेवर मार्ग से करीब 16 किमी. पहले कुदरैल गांव के पास समाप्त होगा. करीब 296 किमी लम्बा यह एक्सप्रेस-वे चार लेन का होगा, जिसका बाद में छह लेन में विस्तार भी किया जा सकेगा. 

यूपीडा के मुख्य कार्यकारी अधिकारी ने बताया कि गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे के सभी दो पैकजों के लिए भी आज 12 निविदाकर्ताओं की वित्तीय निविदाएं खोली गयीं. इसमें न्यूनतम निविदा एस्टीमेटेड कास्ट से करीब 3.12 प्रतिशत कम आयी.

उन्होंने बताया कि इससे यूपीडा को लगभग 97.44 करोड़ रुपये की बचत होगी. उन्होंने कहा कि इस तरह दोनों परियोजनाओं पर कुल 1229.18 करोड़ रुपये की बचत होगी. 

अवस्थी ने आगे बताया कि गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस वे के लिए भी जमीन अधिग्रहण का काम करीब 51 प्रतिशत हो चुका है. कंपनियों के चयन के बाद अब इस एक्सप्रेस वे का भी निर्माण कार्य शीघ्र ही प्रारम्भ कराया जाएगा. 

गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस-वे गोरखपुर बाईपास स्थित जैतपुर गांव के पास से प्रारम्भ होकर जनपद गोरखपुर, संतकबीर नगर, आम्बेडकर नगर होते हुए जनपद आजमगढ़ में पूर्वांचल एक्सप्रेस-वे पर समाप्त होगा. इस एक्सप्रेस-वे की लम्बाई 91.35 किमी. है और यह भी चार लेन का होगा, जिसका बाद में छह लेन में विस्तार होगा.  

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.