Take a fresh look at your lifestyle.

येस बैंक ने डिश टीवी द्वारा समय पर लोन नहीं चुकाने पर गिरवी रखे शेयर जब्‍त किए

0 71

New Delhi: प्राइवेट सेक्‍टर के येस बैंक (YES Bank) ने डिश टीवी (DISH TV) की 24 प्रतिशत से अधिक हिस्सेदारी का अधिग्रहण करने की शनिवार को जानकारी दी. बैंक ने कहा कि डीटीएच सेवा प्रदाता कंपनी डिश टीवी (Dish TV Share) तथा कुछ अन्य कंपनियों ने ये शेयर कर्ज के एवज में गिरवी रखे थे. कर्ज के भुगतान में चूक के कारण इन शेयरों का अधिग्रहण किया गया है.

बैंक ने शेयर बाजारों को बताया कि डिश टीवी में 24.19 प्रतिशत हिस्सेदारी का अधिग्रहण किया गया है. उसने कहा कि ये 44,53,48,990 शेयर हैं. डिश टीवी इंडिया लिमिटेड को दिए गए कर्ज का समय पर भुगतान नहीं होने के कारण इन शेयरों का अधिग्रहण किया गया है.

बैंक ने बताया कि इसके अलावा एस्सेल बिजनेस एक्सीलेंस सर्विसेज, एस्सेल कॉरपोरेट रिसॉर्सेज, लिविंग एंटरटेनमेंट एंटरप्राइजेज, लास्ट माइल ऑनलाइन, पैन इंडिया नेटवर्क इंफ्रावेस्ट, आरपीडब्ल्यू प्रॉजेक्ट्स प्राइवेट, मुंबई डब्ल्यूटीआर और पैन इंडिया इंफ्राप्रोजेक्ट्स को दिए गए कर्ज की किस्तों के भुगतान में भी चूक हुई हैं. ये कंपनियां सुभाष चंद्रा की अगुवाई वाले एस्सेल समूह का हिस्सा हैं.

डिश टीवी इंडिया एक डायरेक्‍ट-टू-होम एंटरटेनमेंट सर्विस प्रदाता है. कंपनी के पास 1422 मेगाहर्ट्ज का बैंडविथ है और इसके पास 655 से अधिक चैनल और सेवाएं प्रदान करने की क्षमता है. यह 40 ऑडियो चैनल और 70 एचडी चैनल और सेवाएं भी उपलब्‍ध कराती है.

31 मार्च, 2019 को समाप्‍त वित्‍त वर्ष के दौरान कंपनी की कुल आय 6218.28 करोड़ रुपए रही है. डिश टीवी इंडिया का परिचालन जी ग्रुप और वीडियोकॉन ग्रुप द्वारा किया जाता है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.