क्‍या झारखंड में लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ होंगे?

by

Ranchi: क्‍या झारखंड में लोकसभा और विधानसभा चुनाव एक साथ होंगे? यह सवाल आजकल हर चौक-चौराहे पर चर्चा का विषय बन गया है. भारत के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने जब से कहा है कि लोकसभा और विधानसभा के चुनाव एक साथ कराये जाने चाहिए. तभी से इसकी चर्चा होती रही है.

चर्चा है कि झारखंड के साथ वैसे राज्‍य जहां वर्ष 2019 में विधानसभा चुनाव होने हैं, वहां लोकसभा चुनाव के साथ ही मतदान संपन्न करा लिये जायेंगे. चर्चा के इस विषय पर अभी तक कोई आधिकारिक तौर पर बयान नहीं आया है. लेकिन, चुनाव आयोग की एक टीम रांची पहुंचने वाली है. तब से यह चर्चा का यह विषय एक बार फिर से गर्म हो चली है. झारखंड में एक साथ लोकसभा चुनाव के साथ विधानसभा चुनाव होंगे या नहीं इसकी स्पष्ट तस्वीर सामने आ जायेगी.

चुनाव आयोग की टीम  29 और 30 जनवरी को दो दिन झारखंड का दौरा करेगी. यह टीम राज्‍य के सीनियर्स ऑफिसर्स के साथ साथ राजनीतिक दलों के नेताओं के साथ भी बैठक करेगी. उसके बाद भी इस संबंध में स्‍पष्‍ट तौर पर कुछ संकेत मिल सकते हैं कि लोकसभा चुनावों के साथ विधानसभा चुनाव होंगे या नहीं.

मुख्य चुनाव आयुक्त सुनील अरोड़ा के नेतृत्व में चुनाव आयोग की पूरी टीम 29 जनवरी को दो दिन के झारखंड दौरे पर आ रही है. तय कार्यक्रम के अनुसार, 29 जनवरी की शाम टीम रांची पहुंच जायेगी. रात 8 बजे चुनाव आयोग की टीम राज्य के मुख्य सचिव, पुलिस महानिदेशक समेत अन्य वरीय पदाधिकारियों के साथ बैठक करेगी. 30 जनवरी को टीम राजनीतिक दलों के प्रतिनिधियों से मुलाकात करेगी.

राज्य के वरीय पदाधिकारियों और राजनीतिक दलों से

राय-मशविरा करने के बाद यह टीम सभी जिलों के उपायुक्त सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी और पुलिस अधीक्षकों के साथ चुनावी तैयारियों की बिंदुवार समीक्षा करेगी. सभी बैठकें रांची स्थित होटल रेडिसन ब्लू में होंगी.

राज्य के मुख्य निर्वाचन पदाधिकारी एल ख्यांगते ने केंद्रीय निर्वाचन आयोग की टीम के झारखंड दौरे के बारे में वरीय पदाधिकारियों को सूचित कर दिया है. श्री ख्यांगते ने आला अधिकारियों के साथ-साथ सभी जिलों के उपायुक्तों व पुलिस अधीक्षकों के साथ बैठक करके जरूरी दिशा-निर्देश भी दिये हैं.

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.