सस्पेंस खत्म, छत्‍तीसगढ़ के मुख्‍यमंत्री भूपेश बघेल

by

Raipur: छत्तीसगढ़ विधानसभा चुनाव 2018 में कांग्रेस की प्रचंड जीत के बाद रविवार को सीएम के नाम का सस्पेंस भी खत्म हो गया. दिल्ली से आए पर्यवेक्षकों ने विधायक दल की बैठक में भूपेश बघेल के नाम का ऐलान किया.

मुख्यमंत्री का नाम तय करने के लिए रायपुर के पीसीसी हेडक्वार्टर इसके लिए चार्टर्ड विमान से कांग्रेस के पर्यवेक्ष मल्लिकार्जुन खड़गे, पीएल पुनिया, टीएस सिंहदेव और चरणदास महंत दिल्ली से रायपुर पहुंचे. उनकी आगवानी के लिए भूपेश बघेल एयरपोर्ट पहुंचे थे. इसके बाद ये सभी राजीव भवन के लिए रवाना हो गए, जहां कांग्रेस विधायक दल की बैठक होना है. यहां बड़ी संख्या में कांग्रेस कार्यकर्ता भी मौजूद रहे.

मुख्यमंत्री पद के दावेदार भूपेश बघेल, साहू, टीएस सिंहदेव

राहुल गांधी ने सीएम पद के सभी दावेदारों के साथ बैठक करने के बाद अपनी पसंद बताई थी, जिस पर सभी के सहमत होने की बात सामने आई. ताम्रध्वज साहू के नाराज होकर बैठक से चले जाने की खबरें भी आईं थीं. साथ ही कोहरे के कारण दिल्ली से रायपुर उड़ान भी रद्द कर दी गई जिससे मुख्यमंत्री पद के दावेदार भूपेश बघेल, साहू, टीएस सिंहदेव और अन्य नेताओं का रायपुर जाना रद्द हो गया था. ऐसे में रायपुर में होने वाली विधायक दल की बैठक को रविवार तक के लिए टाल दिया गया.

इधर चर्चाओं में ताम्रध्वज साहू के अलावा प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष भूपेश बघेल और नेता प्रतिपक्ष टीएस सिंहदेव के नाम चले. लेकिन किसी भी एक नाम को लेकर सहमति नहीं बनीं थी. यहां तक कि एक को सीएम और दो नेताओं को उपमुख्यमंत्री बनाने के फॉर्मूले पर भी चर्चा हुई लेकिन इन नेताओं ने इसे ठुकरा दिया था.

इससे पहले सीएम पद के चारों दावेदारों के लिए समर्थकों ने कैंपेनिंग शुरू की थी. सीएम चयन के लिए पर्यवेक्षक मल्लिकार्जुन खड़गे ने विधायकों की बैठक ली, जिसमें कई विधायक खुले तौर पर टीएस सिंहदेव को मुख्यमंत्री के रूप में देखने के लिए कैंपेनिंग करते नजर आए थे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.