Take a fresh look at your lifestyle.

कौन है अमुल्या लियोना जिसने लगाया ओवैसी की सभा में पाकिस्‍तान जिंदाबाद का नारा

0 272

Bengaluru: ऑल इंडिया मजलिस-ए-इत्तेहादुल मुसलमीन (AIMIM) प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी की सभा में उस समय हड़कंप मच गया जब अचानक मंच पर एक लड़की आ गई और पाकिस्‍तान जिंदाबाद के नारे लगाये. पुलिस ने लड़की के खिलाफ देशद्रोह का मामला दर्ज कर लिया. वहीं,ओवैसी ने कहा कि वह पाकिस्तान जिंदाबाद के नारों का समर्थन नहीं करते.

अमुल्‍या लियोना को ओवैसी की सभा में किसने बुलाया

शुरुआती जानकारी में पता चला है कि लड़की का नाम अमुल्या लियोना है. उसे सेव कॉन्स्टिट्यूशन नाम की संस्था की तरफ सेमंच पर बोलने के लिए बुलाया गया था. मंच पर पाकिस्तान के समर्थन में नारे लगाते ही ओवैसी समेत मंच पर मौजूद सभी लोग उससे माइक वापस लेने के लिए आगे बढ़े.
अमूल्‍या इसके बाद भी मंच से नारेबाजी करती रही. बाद में पुलिस की मदद से उसे नीचे उतारा गया. पुलिस ने लड़की के खिलाफ आईपीसी की धारा 124 ए के तहत देशद्रोह का मामला दर्ज कर लिया. उससे पूछताछ के बाद पुलिस उसे अदालत में पेश करेगी. घटना के बाद ओवैसी ने कहा- मैं इस घटना की निंदा करता हूं. वो महिला हमारे साथ जुड़ी हुई नहीं है. हमारे लिए भारत जिंदाबाद था, जिंदाबाद रहेगा.

मुझे जानकारी होती, तो यहां नहीं आता: ओवैसी

ओवैसी ने कहा कि आयोजकों को इस लड़की को नहीं बुलाना चाहिए था. यदि मुझे यह बात पता होती, तो मैं इस रैली में शामिल होने नहीं आता. हम लोग भारत के लिए हैं और किसी भी तरह दुश्मन देश पाकिस्तान का समर्थन नहीं करते. हमारी पूरी मुहिम भारत को बचाने के लिए है.

मंच पर ही मौजूद जनता दल (एस) के कॉर्पोरेटर इमरान पाशा ने कहा कि लड़की को किसी विरोधी समूह ने भेजा होगा. उसका नाम बोलने वालों की लिस्ट में शामिल नहीं था. पुलिस को गंभीरता से मामले की जांच करनी चाहिए.

सीएए विरोधी आंदोलन का भ्रूण हत्‍या

इस विवाद के बढ़ने के बाद कांग्रेस पार्टी के नेता संजय निरुपम ने इस तरह की घटना को नागिरकता कानून विरोधी आंदोलन की भ्रूण हत्या बताया. उन्होंने एक ट्वीट कर कहा, ‘ये है CAA विरोधी मंच. मंच सजाया है जनाब ओवैसी ने. यहां नारा लग रहा है पाकिस्तान जिंदाबाद का. कभी कश्मीर की आजादी. कभी शरजील का भाषण और अब ये. क्या नागरिकता कानून विरोधी आंदोलन की भ्रूण हत्या करने की किसी ने सुपारी ले ली है?’

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.