कोरोना वैक्सीन का ड्राई क्या है, जानें पूरे देश में कैसी है तैयारी?

by

New Delhi: देशभर में शनिवार यानि कि आज से कोरोना वैक्सीन का ड्राई रन शुरू करने की तैयारी है. यह ड्राई रन देश के हर राज्य में दो-दो शहरों में आयोजित किया जाएगा. स्वास्थ्य मंत्रालय के मुताबिक, इससे पहले देश के चार राज्यों के दो-दो जिलों में वैक्सीनेशन टीकाकरण की तैयारियों का जायजा लेने के लिए ड्राई रन किया गया था. फिलहाल इस ड्राई रन के दौरान कोई वैक्‍सीन इस्‍तेमाल नहीं होगी. ड्राई रन के जरिए यह टेस्‍ट किया जाएगा कि सरकार ने टीकाकरण का जो प्‍लान बनाया है, वह असल में कितना उपयोगी है.

Read Also  रांची में 400 से अधिक निजी अस्‍पतालों का अवैध संचालन, 76 का मेडिकल लाइसेंस फेल

महाराष्ट्र और केरल संभवत अपनी राजधानी से इतर अन्य बड़े शहरों में ड्राई रन करेंगे. ड्राई रन के दौरान यह देखा जाएगा कि टीकाकरण के लिए लोगों का ऑनलाइन पंजीकरण, डाटा एंट्री, लोगों के मोबाइल पर मैसेज भेजने और टीका लगने के साथ ही इलेक्ट्रॉनिक प्रमाण पत्र जारी करने में कोई परेशानी तो नहीं आ रही. इसके लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक विशेष टीम का भी गठन किया है, जो पूरी प्रक्रिया पर बारीकी से नजर बनाए रखेगी.

इस तरह लगाया जाएगा टीका

वैक्सीन लगाने के लिए एक अलग रूम बनाया जाएगा. जहां पर वैक्सीन को रखने के लिए डीप फ्रीजर की व्यवस्था की जाएगी. इसके साथ ही एक अन्य कमरे में वैक्सीन देने के बाद व्यक्ति को आधे घंटे के लिए बैठाकर यह देखा जाएगा कि कहीं कोई साइड इफेक्ट तो नहीं दिख रहा है.

Read Also  रांची में 400 से अधिक निजी अस्‍पतालों का अवैध संचालन, 76 का मेडिकल लाइसेंस फेल

ड्राई रन के बाद क्‍या होगा?

दो दिन तक चलने वाले इस ड्राई रन के पूर्ण होने के बाद, एक रिपोर्ट तैयार की जाएगी. स्‍टेट लेवल पर बनी टास्‍क फोर्स उसका रिव्‍यू करेगी. इसके बाद रिपोर्ट केंद्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मंत्रालय को भेजी जाएगी. केंद्रीय स्‍तर पर चारों राज्‍यों में चले ड्राई रन की फाइंडिंग्‍स का फिर रिव्‍यू होगा. अगर निरीक्षक अधिकारियों को प्‍लान में किसी तरह की बदलाव की जरूरत महसूस हुई तो वह भी किया जाएगा. अगर सबकुछ ठीक रहता है तो अभी के प्‍लान के हिसाब से ही जनवरी में टीकाकरण अभियान शुरू कर दिया जाएगा.

बता दें कि अब तक देश के चार राज्यों पंजाब, असम, गुजरात और आंध्र प्रदेश में ऐसा ही ड्राई रन किया गया था. इन चारों राज्यों में ड्राई रन को लेकर अच्छे रिजल्ट सामने आए थे. इसके बाद अब सरकार ने पूरे देश में इस ड्राई रन को लागू करने का फैसला किया. इसके लिए केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक विशेष टीम का भी गठन किया है, जो इस पूरी प्रक्रिया पर नगरानी रखे हुए हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.