Take a fresh look at your lifestyle.

Surgical Strike 2:  12 मिराज फाइटर का अटैक, PAK में गिराया 1000kg का बम

0 0

कुछ समय पहले हुए भारत के पुलवामा में टेररिस्‍ट अटैक से सभी बहुत दुखी थे. इंडिया के 40 जवान शहदी हो गये थे. पूरा देश एक साथ होकर इस हमले के बदले के लिए सर्जिकल स्ट्राइक 2 की मांग कर रहा था.

सोमवार की रात में इंडियन एयरफोर्स ने पाकिस्तान में घुसकर उनके आतंकी ठिकानों को ध्‍वस्‍त कर दिया. हमले की ज़िम्मेदारी लेने वाले जैश-ए-मोहम्मद के ठिकाने पूरी तरह से तबाह कर दिये गये.

सर्जिकल स्ट्राइक 2 के बारे में जानकारी (Surgical Strike 2 Detail in Hindi)

इंडियन एयरफोस्‍ट ने पाकिस्तान के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक कर पाकिस्तानी आतंकवादी जैश–ए–मोहम्मद से बदला ले लिया, जोकि पुलवामा गांव में हुए हमले का मास्टर माइंड था. यह बदला 12 दिनों के बाद पूरा हुआ. इस सर्जिकल स्ट्राइक को एयर स्ट्राइक भी कहा गया है. यह सर्जिकल स्ट्राइक किस तरह से और क्यों की गई और इससे दोनों देशों में क्या प्रतिक्रिया हो रही है, यह जानकारी विस्तार से आपको यहां दी जा रही है.

सर्जिकल स्ट्राइक 2 क्यों की गयी ? (Why The Surgical Strike 2 ?)

आप यह जानते ही होंगे कि पाकिस्तान के आतंकियों ने 14 फरवरी के दिन पुलवामा गांव में हमला किया था, जिसमें उन्होंने इंडिया के सीआरपीएफ जवानों की एक बस को 200 किलो बारूद से भरी एक स्कॉर्पियो गाड़ी से उड़ा दिया था. इस बस में लगभग 40 भारतीय जवान सवार थे, जोकि शहीद हो गये.

इससे न सिर्फ इंडिया में बल्कि विदेशों में भी पाकिस्तान द्वारा की गयी इस करतूत की कड़ी निंदा की गयी थी. इसमें अमेरिका, रूस, फ्रांस, चीन और इजराइल जैसे कई देश ने भारत का साथ देते हुए पाकिस्तान की निंदा की थी.

1550238057-pulwama_terror_attack

इसके साथ ही सभी देशवासियों ने शहीद हुए जवानों के परिवार वालों के प्रति अपना दुःख व्यक्त किया. दुःख व्यक्त करने के साथ ही साथ पाकिस्तान के खिलाफ उनका गुस्सा भी काफी बढ़ गया था. इसलिए वे सरकार से सर्जिकल स्ट्राइक 2 करने की मांग कर रहे थे.

इस हमले के बाद देश के प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी भी चुप नहीं बैठे, उन्होंने देश की सभी सेनाओं यानि वायु सेना, जल सेना और थल सेना को पूरी–पूरी छूट दे दी थी, कि वे इसके खिलाफ अपने अनुसार कोई भी कार्यवाही कर सकते हैं. और इसी के चलते 26 फरवरी की सुबह–सुबह भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान के आतंकियों के खिलाफ सर्जिकल स्ट्राइक 2 की.

सर्जिकल स्ट्राइक 2 कैसे की गई ? (How to Execute Surgical Strike 2 ?)

भारतीय वायुसेना ने सर्जिकल स्ट्राइक 2 या एयर स्ट्राइक पाकिस्तानी आतंकियों को ख़त्म करने के लिए की है. भारत द्वारा यह दूसरी बार सर्जिकल स्ट्राइक की गयी है. पहली बार सन 2016 में पाकिस्तान द्वारा किये गये उरी हमले के बाद भारतीय आर्मी द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक की गई थी. और अब पुलवामा हमले के बाद भारत ने पाकिस्तान के खिलाफ फिर से यह सर्जिकल स्ट्राइक की है.

इस सर्जिकल स्ट्राइक या एयर स्ट्राइक की शुरुआत 26 फरवरी की सुबह – सुबह करीब 3 बज कर 30 मिनट पर की गयी और इसे 21 मिनिट में अंजाम दिया गया. दरअसल सुबह करीब 3 बज कर 30 मिनिट पर भारत की.

वायु सेना द्वारा 12 मिराज – 2000 लडाकू विमानों ने पाकिस्तान के कब्जे में आने वाले गुलाम कश्मीर एवं पाकिस्तान में स्थित 3 गांवों में बमबारी कर हमले की शुरुआत की. वे 3 गांव चकोटा, मुज्जफराबाद और बालाकोटा हैं.

pakistanannn

जिसमें से चकोटा और मुज्जफराबाद पाकिस्तान के कब्जे वाले कश्मीर में स्थित हैं और बालाकोटा पाकिस्तानी सीमा के अंदर स्थित है. सबसे पहले 3 बज कर 45 मिनिट पर चकोटा गांव में हमला किया गया, इसके बाद 3 बज कर 48 मिनिट में मुजफ्फराबाद में हमला किया गया और अंत में 3 बजकर 58 मिनिट पर बालाकोटा में वायु सेना ने हमला किया. इस तरह से भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तान में 40 किलोमीटर तक अंदर घुस कर यह ऑपरेशन किया और सफलता हासिल की.

इससे पहले मिराज 2000 का इस्तेमाल 20 साल पहले कारगिल युद्ध में हुआ था, जहां भारतीय वायु सेना ने पाकिस्तानी सेना को पीछे होने पर मजबूर कर दिया था. इतने सालों में मिराज का उपयोग नहीं किया गया था,

कहा जा रहा है कि इन गांवों में से बालाकोटा गांव में आतंकी जैश–ए–मोहम्मद का अल्फ़ा– 3 कंट्रोल रूम था, जहां पर आतंकवादियों को ट्रेनिंग दी जाती थी.

जैश–ए–मोहम्मद वही आतंकी है, जिसने पुलवामा में हुए हमले की योजना बालाकोटा गांव में अपने इसी कंट्रोल रूम में बैठ कर बनाई थी. इसलिए इसे उन आतंकियों का मुख्य ठिकाना कहा जा रहा था. और इसी ठिकाने को भारतीय वायु सेना द्वारा हमला कर तबाह कर दिया गया है.

इस ऑपरेशन के चलते लगभग 300 से भी अधिक आतंकी मारे गये हैं. जिसमें जैश–ए– मोहम्मद के मुख्य साथी एवं कमांडर भी शामिल हैं. यह पूरा ऑपरेशन करीब 40 मिनिट तक चला, जिसमे से लगभग 21 मिनिट तक भारतीय वायु सेना द्वारा लगातार बमबारी की गयी.

इस तरह से यह सर्जिकल स्ट्राइक को अंजाम दिया गया और पाकिस्तान के कुछ आतंकवादियों को खत्म कर देश के उन शहीदों का बदला लिया गया.

पाकिस्तान की प्रतिक्रिया (Pakistan’s Response)

इस हमले के चलते पाकिस्तानी वायु सेना ने भी भारत से लड़ने की कोशिश की. उसने अपने एफ– 14 लड़ाकू विमान के द्वारा भारत के मिराज लड़ाकू विमान को नुकसान पहुंचाने की कोशिश की, लेकिन वे इसमें नाकामयाब रहे और उन्हें वापस लौटने पर मजबूर होना पड़ा. क्योंकि, जब तक पाकिस्तान भारतीय वायुसेना पर हमला कर पाता, इससे पहले ही वायुसेना के ये विमान इस ऑपरेशन को अंजाम देकर वापस भारत लौट आयें.

इस हमले के बाद से पूरे पाकिस्तान में काफी खलबली मच गई है. पाकिस्तान के विदेश मंत्री द्वारा यह स्वीकार कर लिया गया है, कि भारत द्वारा किया गया यह हमला काफी बड़ा हमला था. इसके चलते पाकिस्तान की संसद में बैठक हुई, जहां से यह खबरें आ रही है, कि पाकिस्तान भारत के द्वारा किये गये इस हमले की शिकायत संयुक्त राष्ट्र अमेरिका से करेंगे.

भारत की प्रतिक्रिया (India’s Response)

इस सर्जिकल स्ट्राइक के बाद भारतीय वायुसेना को किसी भी प्रकार का कोई भी नुकसान नहीं हुआ है. और यह स्ट्राइक पूरी तरह से सफल साबित हुई है. इससे देशभर के लोगों में ख़ुशी की लहर दौड़ रही है. देश के आम नागरिकों के साथ–साथ सभी बड़े नेताओं ने ट्वीट करते हुए देश की वायुसेना को सलाम किया है. और लोगों द्वारा फिल्म उरी के प्रसिद्ध डायलॉग ‘हाउ’स द जोश : हाई सर’ के नारे लगाये जा रहे हैं.

इससे देश का आत्मबल और अधिक बढ़ गया है. इस ऑपरेशन को अंजाम देने के बाद वायुसेना प्रमुख एयर चीफ मार्शल बिरेंद्र सिंह धनोआ द्वारा प्रधानमंत्री को जानकारी दी गई और इसके बाद विदेश महासचिव ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर इस हमले की पूरी जानकारी सभी के साथ साझा की.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.