Take a fresh look at your lifestyle.

मेलबर्न टेस्ट जीत के बाद विराट कोहली बोले- हम यहीं रुकने वाले नहीं

0

विराट कोहली मेलबर्न टेस्ट मैच जीत के बाद उत्‍साहित हैं. वह जीत से खुश और रिलेक्स नजर आये. टीम इंडिया ने सीरीज के तीसरे मैच में ऑस्ट्रेलिया को 137 रनों से मात दी. पांचवे दिन का पहला सेशन बारिश की वजह से धुल गया, लेकिन पहले दो घंटे के बाद मौसम साफ हो गया. सुबह सात बजकर 25 मिनट पर मैच शुरू हुआ. भारत को केवल 5.3 ओवर लगे और ऑस्ट्रेलिया की बची हुई दोनों विकेट गिर गईं. ऑस्ट्रेलिया की पूरी टीम 261 रन बनाकर आउट हुई.

अब बॉर्डर गावस्कर ट्रॉफी भारते के पास ही रहेगी. पिछले साल भारत ने घरेलू मैदान पर बॉर्डर-गावस्कर ट्रॉफी 4-1 से जीती थी. इस समय भी भारत 2-1 से आगे है. यानी भारत की हारने की संभावना अब खत्म हो चुकी है. मेलबर्न जीतने के बाद टीम के कप्तान विराट कोहली ने कहा, ‘हम यहीं रुकने वाले नहीं हैं. इस जीत ने हम आत्मविश्वास दिया है, हम सिडनी में भी सकारात्मक क्रिकेट खेलेंगे.’

उन्होंने कहा, ‘हमने खेल के हर क्षेत्र में बढ़िया प्रदर्शन किया और इसलिए ट्रॉफी हमारे पास ही रहेगी. हम दक्षिण अफ्रीका में भी ऐसा ही खेले थे. हम फाइनल मुकाबले के लिए तैयार हैं.’ कोहली ने आगे बढ़कर टीम का नेतृत्व किया. पहली पारी में उन्होंने 82 रन बनाए. चेतेश्वर पुजारा के साथ उन्होंने 170 रन की भागीदारी की. पुजारा ने अपना 17वां शतक लगाया.

विराट कोहली के लिए यह पूरा साल ही बेहद सफल रहा है. उन्होंने 1322 रन बनाए. इनमें 5शतक भी शामिल हैं. हालांकि, दक्षिण अफ्रीका में उनकी कप्तानी को लेकर सवाल उठे थे. लेकिन कोहली ने अपनी गलतियों से सबक सीखते हुए टीम का नेतृत्व किया. उन्होंने नियमित ओपनरों को ड्रॉप करके हनुमा विहारी और मयंक अग्रवाल को खिलाया.

रोहित शर्मा को भी विराट कोहली ने खिलाना जरूरी समझा. इसका सुखद परिणाम निकला. भारत को पहली पारी में 292 रन की लीड मिल गई. इसी ने भारत की जीत की बुनियाद रखी.

विराट कोहली ने मेलबर्न टेस्ट जीत के बाद कहा कि हमारे गेंदबाजों ने शानदार गेंदबाजी की. तीनों तेज गेंदबाजों ने एक कैलेंडर ईयर में तेज गेंदबाजों द्वारा लिए गए विकेटों के रिकॉर्ड को तोड़ा. मुझे इस टीम के नेतृत्व पर गर्व है. विराट कोहली की नजर अब सिडनी पर है, अगर वह टेस्ट ड्रॉ भी करा लेते हैं तो भी ट्रॉफी पर भारत का कब्जा रहेगा.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More