Take a fresh look at your lifestyle.

राज्य के 6512 गांवों में चलेगा ग्राम स्वराज अभियान : रघुवर दास

0

#RANCHI: मुख्यमंत्री रघुवर दास ने कहा कि राज्य सरकार गांव, गरीब, किसान, महिला, युवा, वंचितों के कल्याण वाली सरकार है. ग्राम स्वराज अभियान के दूसरे चरण में 15 अगस्त तक राज्य के 19 आकांक्षी (एसपिरेशनल) जिलों के 6512 गांवों में केंद्र सरकार की सात फ्लैगशिप योजनाओं का शत-प्रतिशत क्रियान्वयन करना है. इसके लिए टाइमलाइन बनाकर कर लक्ष्य निर्धारित करें.

Like पर Click करें Facebook पर News Updates पाने के लिए

दास ने कहा कि हर 15 दिन में प्रगति की समीक्षा करें. क्रियान्वयन की रियल टाइम मॉनिटरिंग करें. अधिकारियों की जवाबदेही तय करें. मिशन मोड पर काम करने से ही लक्ष्य हासिल होगा. लोगों को कैंप लगाकर योजनाओं का लाभ दें. स्थानीय सांसद, विधायक, स्वयं सहायता समूह सहित अन्य लोगों को इसमें शामिल करें. पूरे अभियान का लक्ष्य गरीबों तक सरकार की योजनाओं का लाभ पहुंचाना है.

रघुवर दास सोमवार को प्रोजेक्ट भवन में आकांक्षी (एसपिरेशनल) जिलों व ग्राम स्वराज योजना की समीक्षा बैठक में राज्य के आला अधिकारियों को निर्देश दे रहे थे. मुख्यमंत्री ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के निर्देश पर बाबा साहेब डॉ भीमराव अम्बेडकर जयंती के अवसर पर ग्राम स्वराज अभियान का पहला चरण सफलतापूर्वक पूरा किया गया. ग्राम स्वराज अभियान के दूसरे चरण में केंद्र सरकार की सात फ्लैगशिप योजना (प्रधानमंत्री उज्जवला योजना, सौभाग्य योजना, उजाला योजना, प्रधानमंत्री जन धन योजना, प्रधानमंत्री जीवन ज्योति बीमा योजना, प्रधानमंत्री सुरक्षा बीमा योजना व मिशन इंद्रधनुष) के साथ राज्य सरकार की आधारभूत संरचना का लाभ पर इन गांवों तक पहुंचायें.

इन गांवों में हर घर बिजली, एलपीजी कनेक्शन, दुर्घटना और जीवन बीमा, एलइडी बल्ब, बच्चों और गर्भवती महिलाओं का टीकाकरण जैसे कार्य पूर्ण करें. इन गांवों तक संपर्क रास्ता बनायें. गांवों में शिक्षा, स्वास्थ्य सुविधा, आइसीडीएस केंद्र, कृषि-पशुपालन आदि से जुड़े लक्ष्यों को प्राथमिकता में पहुंचायें. इसके साथ ही राज्य में चल रहे कार्य यथावत चलते रहें.

आपातकालीन एंबुलेंस सेवा 108 पर विशेष ध्यान दें. वाहन के चालक और अन्य कर्मियों के साथ सिविल सर्जन बैठें. उन्हें प्रोत्साहित करते रहें. बैठक में बताया गया कि उज्ज्वला योजना के तहत इन 6512 गांवों में 15 अगस्त तक 6,45,560 कनेक्शन दिये जाएंगे.

सौभाग्य योजना के तहत इन गांवों के 15.41 लाख घरों तक बिजली पहुंचा दी जाएगी. किसानों को हेल्थ कार्ड, दलहन और तिलहन के बीजों के 1,08,100 मिनी किट का वितरण, 47500 किसानों के बीच आम, अमरूद, पपीता, नीबू के पौधे का वितरण, पशुओं का टीकाकरण आदि पूर्ण कर लिया जाएगा. दास ने कहा कि बैंकों में लोगों के जन-धन खाते खुलाने के लिए पंचायत स्वयंसेवक, ब्लॉक को-ऑर्डिनेटर, लेबर इंस्पेक्टर की मदद लें. विस्थापित लोगों को कैंप लगाकर पट्टा दें.

बैठक में मुख्य सचिव सुधीर त्रिपाठी, विकास आयुक्त सुखदेव सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव सुनील कुमार बर्णवाल सहित विभिन्न विभागों के अधिकारी उपस्थित थे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More