Take a fresh look at your lifestyle.

वीडियो: यूपी सीएम योगी से के सामने आत्महत्या का प्रयास

0 0

Lucknow: मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ लखनऊ में आलमबाग स्थित कारागार मुख्यालय भवन के उद्घाटन करने पहुंचे थे. सीएम के भाषण के दौरान ही वरिष्ठ लिपिक रीउत राम मिट्टी का तेल लेकर पहुंच गया. यहां तक कि उसने मिट्टी का तेल अपने ऊपर डाल भी लिया और आग लगाने की कोशिश की.

सीएम की सुरक्षा में तैनात इंस्पेक्टर राम सूरत सोनकर ने तत्परता दिखाई और शख्स को दबोच लिया. फिर बाकी सुरक्षाकर्मी भी दौड़े और लिपिक को परिसर से बाहर भेज दिया गया.

सीएम के अलावा उस वक्त प्रदेश के आलाधिकारी मुख्य सचिव अनूप चंद्र पाण्डेय, प्रमुख सचिव गृह अरविंग कुमार और डीजीपी भी मौजूद थे. ये सभी अधिकारी इस घटना के बाद सकते में आ गए.

दरअसल आत्मदाह का प्रयास करने वाला रीउत सीएम के सामने अपनी गुहार लगाना चाहता था. वह बार बार दोहरा रहा था कि साहब मुझे कुछ कहना है. उसके व्यवहार से लग रहा था कि वो काफी परेशान है. पुलिस ने तत्काल उसे नजरबंद कर लिया और आलमबाग थाने ले आई. लंबी पूछताछ के बाद रीउत के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है.

रीउत की परेशानी पर तमाम कागजात लेकर जेल एडीजी चंद्र प्रकाश ने उसे बुलाया है. दरअसल 2013 में देवबंद सब जेल में तैनाती के दौरान तत्कालीन जेलर गोविंद राम वर्मा ने रीउत के खिलाफ विभागीय शिकायत की थी. जिसके बाद उसकी नौकरी पर इसका नकारात्मक प्रभाव पड़ने लगा. इसी बात से रीउत परेशान है.

घटना जो भी हो और रीउत की जैसी भी परेशानी हो. सवाल ये उठता है कि मुख्यमंत्री की सुरक्षा में सेंध कैसे लगा. वो भी कड़ी सुरक्षा वाले जेल परिसर इलाके में.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.