भगवा हुआ रामलीला मैदान, राम मंदिर निर्माण के लिए विधेयक लाने की मांग

New Delhi: राम मंदिर निर्माण को लेकर विश्व हिंदू परिषद (VHP) ने अपने कोशिशों को तेज कर दिया है. शीतकालीन सत्र के ठीक पहले एक बार फिर से विहिप ने सरकार पर दबाव बनाने के लिए विशाल रैली का आयोजन किया है. इसमें कई और संगठनों के शामिल होने का अंदेशा है. पिछले काफी दिनों से इसके लिए तैयारियां की जा रही थीं. इस धर्मसभा में हिस्सा लेने के लिए देशभर के कई साधु-संत भी रामलीला मैदान पहुंच रहे हैं. इस रैली में काफी बड़ी संख्या में वीएचपी कार्यकर्ताओं के पहुंचने का अनुमान है.

भगवा रंग में रंगा रामलीला मैदान

दिल्ली के रामलीला मैदान में विश्व हिंदू परिषद के हजारों कार्यकर्ताओं का जमावड़ लग चुका है. राम मंदिर के समर्थन में लोग भगवा रंग में रंगे दिख रहे हैं. यहां लोग तरह-तरह के वेश बनाकर पहुंचे हैं. किसी ने हनुमान जी का रूप धारण किया है तो कोई भगवान राम का नाम जपने में जुटा है. पूरे रामलीला मैदान का रंग ही बदल चुका है.

विश्व हिंदू परिषद के प्रवक्ता विनोद बंसल ने क्विंट हिंदी से बातचीत में बताया कि राम मंदिर निर्माण को लेकर बिल (विधेयक) लाने पर पूरा जोर दिया जाएगा. उन्होंने कहा, हम सरकार पर दबाव बनाएंगे कि संसद के इस सत्र में सरकार मंदिर बनाने को लेकर कानून पास करे.

इन रास्तों पर पड़ेगा असर

इस रैली को देखते हुए दिल्ली के जिन रास्तों पर ट्रैफिक की समस्या हो सकती है, उनमें रिंग रोड, असफ अली रोड, जवाहर लाल नेहरू मार्ग, बहादुरशाह जफर मार्ग, दीन दयाल उपाध्याय मार्ग, मिंटो रोड, देशबंधु गुप्ता रोड, आईटीओ, अजमीरी गेट जैसे मार्ग शामिल हैं. दिल्ली ट्रैफिक पुलिस की तरफ से इसके लिए पहले ही एडवाइजरी जारी कर दी गई है.

ट्रैफिक पुलिस ने लागू किया डायवर्जन प्लान

वीएचपी की ‘विराट धर्म सभा’ में देशभर से हजारों लोग दिल्ली पहुंच रहे हैं. ऐसे में दिल्ली के ट्रैफिक पर भी इसका असर पड़ेगा. ट्रैफिक पुलिस का कहना है कि, रविवार सुबह 8 बजे से आयोजित होने वाली रैली को देखते हुए सुबह से ही ट्रैफिक डायवर्जन प्लान लागू कर दिया गया है. राजघाट से दिल्ली गेट के बीच जवाहरलाल नेहरू मार्ग और बाराखंबा रोड के नजदीक रंजीत सिंह रोड, कनॉट प्लेस आउटर सर्किल, DDU मार्ग पर ट्रैफिक की एंट्री पर रोक है.

ये लोग करेंगे संबोधित

राम मंदिर पर अध्यादेश की मांग के लिए आयोजित इस धर्म सभा को जूना अखाड़ा पीठाधीश्वर महा-मण्डलेश्वर स्वामी अवधेशानंद गिरी महाराज, गीता मनीषी महा-मण्डलेश्वर स्वामी ज्ञानानंद ,श्रीजगन्नाथ पीठाधीश्वर जगद्गुरू रामानंदाचार्य स्वामी हंसदेवाचार्य, वात्सल्य ग्राम संस्थापक साध्वी ऋतंभरा, राष्ट्रीय स्वयं सेवक संघ के सरकार्यवाह भैया जी जोशी, विश्व हिन्दू परिषद् के अंतर्राष्ट्रीय अध्यक्ष विष्णु सदाशिव कोकजे और कार्याध्यक्ष एडवोकेट आलोक कुमार के अलावा कई अन्य लोग संबोधित करेंगे. सभी लोग राम मंदिर निर्माण को लेकर अपने विचार रखेंगे.

तैयारियां और व्यवस्था पूरी

वीएचपी के मुताबिक, एनसीआर से आने वाली सभी तरह की गाड़ियों के लिए 16 जगहों पर पार्किंग बनाई गई हैं. पार्किंग स्थल पर पीने के पानी, शौचालय और अनाउन्समेंट सिस्टम लगाए गए हैं. इसके अलावा दिल्ली बॉर्डर पर भी कार्यकर्ताओं के स्वागत के लिए होर्डिंग और गेट बनाए गए हैं. रामलीला मैदान पर जमा होने वाले कार्यकर्ताओं के लिए पानी और खाने के पैकेट्स का भी इंतजाम किया गया है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.