Jharkhand के Support से UP CM Yogi ममता बनर्जी के गढ़ में भरेंगे हुंकार

by

Ranchi: पश्चिम बंगाल में Mamta Banerjee की सरकार के साथ तनातनी के बीच भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने काट निकाला है. खबरों के मुताबिक उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ मंगलवार को बंगाल में जनसभा करेंगे.

इसके लिए उनका हेलिकॉप्टर बंगाल की सीमा से सटे Jharkhand में उतरेगा. यहां से सड़क मार्ग से मुख्यमंत्री योगी बंगाल के पुरूलिया जाएंगे.

मुख्यमंत्री का हेलिकॉप्टर Bokaro जिले के नगेन में उतारने का तैयारी है. यहां से पुरूलिया नजदीक है. और सड़क मार्ग से कुछ ही देर में पहुंचा जा सकता है.

दरअसल रविवार को बंगाल की सरकार ने योगी आदित्यनाथ के हेलिकॉप्टर को बंगाल में उतरने की अनुमति नहीं दी थी. इसके बाद योगी आदित्यनाथ ने ट्वीट करके कहा था कि वे बहुत जल्दी बंगाल आएंगे.

Read Also  उग्रवाद नियंत्रण के लिये प्रतिबद्ध झारखंड सरकार, 173 नक्सलियों के विरुद्ध पुरस्कार की राशि प्रभावी

हेलिकॉप्टर लैंडिग की तैयारी पूरी

खबरों के मुताबिक मंगलवार को बीजेपी के मुख्यमंत्री की पुरूलिया में जनसभा होगी. सीएम के हेलिकॉप्टर की लैंडिग को लेकर बोकारो जिला प्रशासन ने सारी तैयारियां कर रखी है.

सोमवार को चास अनुमंडल अधिकारी सतीश चंद्रा के अलावा स्थानीय पुलिस अधिकारियों और भाजपा नेताओं ने लैंडिंग स्थल का जायजा लिया. इस मौके पर पश्चिम बंगाल के भाजपा उपाध्यक्ष विश्वप्रिय राय चौधरी भी मौजूद थे.

उन्होंने मीडिया से कहा है कि पश्चिम बंगाल में लोकतंत्र पूरी तरह से समाप्त हो चुका है. मुख्यमंत्री Mamta Banerjee खुद अराजक स्थिति बना रही हैं. मुख्यमंत्री होते हुए भी वह गड़बड़ियों को छुपाने के लिए धरने पर बैठ गई हैं.

 

बीजेपी नेता ने भी यह भी कहा कि पश्चिम बंगाल के लोग भाजपा के नेताओं को सुनना चाहते हैं, लेकिन वहां की सरकार जनता को भाजपा नेताओं से दूर करना चाहती है. लेकिन बीजेपी यह होने नहीं देगी. हमारी लड़ाई कुशासन के खिलाफ है.

Read Also  उग्रवाद नियंत्रण के लिये प्रतिबद्ध झारखंड सरकार, 173 नक्सलियों के विरुद्ध पुरस्कार की राशि प्रभावी

गौरतलब है कि पिछले दिनों बंगाल में पंचायत का चुनाव जीतने वाले बीजेपी के बहुत प्रतिनिधि टीएमसी के हमले और डर से झारखंड में ठौर ले रखा था. तब भी झारखंड और बंगाल में बीजेपी के नेताओं ने टीएमसी और उसकी सरकार के खिलाफ तीखी आलोचना की थी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.