Take a fresh look at your lifestyle.

Unlock 3: झारखंड में 31 अगस्‍त तक लॉकडाउन में कोई नया छूट नहीं

Support Journalism
0 46

Ranchi: केंद्र सरकार ने अनलॉक 3 का ऐलान कर दिया है. इसके तहत लॉकडाउन में कई छूट बढ़ाने की बातें हैं. इधर झारखंड सरकार ने अनलॉक 3 के छूटों को प्रदेश में 31 अगस्‍त तक लागू नहीं करने का फैसला किया है. जिन मामलों में छूट मिली हुई है, वह जारी रहेगी. अलग से कोई राहत देने की संभावना नहीं है. धार्मिक स्थल, शिक्षण संस्थाएं, समूह में धार्मिक कार्यक्रम या अन्य कार्यक्रमों पर रोक जारी रहेगी.

मुख्य सचिव सुखदेव सिंह ने गुरुवार रात लॉकडाउन बढ़ाने संबंधी आदेश जारी करते हुए लोगों के लिए एसओपी भी रिलीज किया है. तय गाइडलाइन का कड़ाई से पालन के लिए सभी डीसी को दिशा-निर्देश दिया गया है.

होम क्वारेंटाइन पर विशेष जोर

आदेश में दूसरे राज्यों से आने वालों के होम क्वारेंटाइन पर विशेष जोर है. नए दिशा-निर्देश में कहा गया है कि बाहर से आने वाले लोगों को अंतरराज्यीय सीमा पर, रेलवे स्टेशन पर और एयरपोर्ट पर दाहिने हाथ के अंगूठे को छोड़कर सभी अंगुलियों के नाखून पर पक्की स्याही लगाई जाएगी। साथ ही क्वारेंटाइन अवधि में क्या करना है और क्या नहीं, इससे संबंधित आदेश की कॉपी दी जाएगी.

अंतरराज्यीय सीमा पर बनेगा हेल्प डेस्क

सभी रेलवे स्टेशन, एयरपोर्ट और अंतरराज्यीय सीमा पर हेल्प डेस्क बनेगा, जहां दूसरे राज्यों से आने वाले लोगों के रजिस्ट्रेशन की जांच होगी. जिनका रजिस्ट्रेशन नहीं है, उनका रजिस्ट्रेशन भी किया जाएगा.

होम क्वारेंटाइन वालों के घर के बाहर स्टिकर लगेगा

होम क्वारेंटाइन में रह रहे लोगों के घर के बाहर स्टिकर चिपकाया जाएगा, जिसमें नाम और क्वारेंटाइन अवधि लिखा रहेगा. मोबाइल ट्रैकिंग के साथ नियमित मॉनिटरिंग भी होगी. निगरानी के लिए प्रशासनिक टीम बनेगी, जो क्वारेंटाइन व्यक्ति के घर जाएगी.

नियम नहीं मानने पर पेड क्वारेंटाइन सेंटर भेजे जाएंगे

प्रशासन को लगता है कि होम क्वारेंटाइन व्यक्ति यदि नियमों का पालन नहीं कर रहा है तो उसे पेड क्वारेंटाइन सेंटर भेजा जा सकता है. यानी प्रशासन जहां क्वारेंटाइन करेगा, संबंधित व्यक्ति को राशि का भुगतान करना होगा.

2-3 दिन में 3 लाख टेस्ट का लक्ष्य: सीएम

मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन ने कहा है कि 31 अगस्त तक लॉकडाउन में कोई बदलाव नहीं होगा. संक्रमण को लेकर सरकार की पैनी नजर है. अगले दो-तीन दिनों में से दो से तीन लाख लोगों के टेस्ट का लक्ष्य रखा गया है. उसकी रिपोर्ट आने के बाद सरकार परिस्थिति के अनुरूप बीच में कोई निर्णय लेगी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.