मतगणना को लेकर हिंसा की आशंका, केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सभी राज्‍यों को किया अलर्ट

by

New Delhi: केंद्रीय गृह मंत्रालय ने मतगणना को लेकर हिंसा की आशंका जताते हुए सभी राज्यों के मुख्य सचिव, DGP को अलर्ट किया है. गृह मंत्रालय को हिंसा का डर है.

NDTV ने अपनी Breaking News में कहा है कि गृह मंत्रालय को हिंसा का डर है.

बंगाल में हिंसा की आशंका

भारतीय जनता पार्टी को आशंका है कि मतगणना के दौरान बंगाल में भारी हिंसा हो सकती है. दरअसल बंगाल में हुए सभी चरणों के चुनावों में लगातार हिंसा की खबरें सामने आई थीं. ऐसे में बीजेपी को आशंका है कि ये सिलसिला मतगणना में भी जारी रह सकता है.

Read Also  झारखंड में 22 से 29 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन, जानिए क्‍या है गाइडलाइन

बीजेपी इस बारे में चुनाव आयोग के पास भी जाने पर विचार कर रही है. इतना ही नहीं भाजपा ने अपने सभी उम्मीदवारों को ये निर्देश भी दिया है कि काउंटिंग के दौरान मशीनें खुलने के सभी काउंटर पर उसके प्रतिनिधि भी मौजूद रहें.

भाजपा के लिए बड़ी चिंता का विषय इस समय बंगाल है. पार्टी को आशंका है कि मतदान के सभी चरणों में हुई हिंसा के बाद मतगणना वाले दिन और आक्रामक रूप अख्तियार कर सकती है. काउंटिग सेंटर पर उम्मीदवारों और कार्यकर्ताओं को खतरा हो सकता है. इसी वजह से रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण काउंटिंग तक केंद्रीय सुरक्षा बलों को बंगाल में बनाए रखने की मांग कर चुकी है. इस संबंध में बुधवार को बीजेपी नेता चुनाव आयोग से भी मिल सकते हैं.

Read Also  झारखंड में 22 से 29 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन, जानिए क्‍या है गाइडलाइन

यूपी में ईवीएम को लेकर उठ चुके हैं सवाल

उत्तर प्रदेश में भी एग्ज़िट पोल आने के बाद से ईवीएम को लेकर आवाज़ मुखर हो रही है. इसी को लेकर गठबंधन प्रत्याशी अफज़ाल अंसारी के समर्थकों ने सोमवार को ईवीएम बदले जाने का आरोप लगाते हुए हंगामा किया.

हंगामे के बाद अंसारी भी वहां पहुंचे जिससे विवाद की स्थिति बढ़ गई. विवाद को शांत करने के लिए प्रशासन को बीच-बचाव करना पड़ा. ऐसे में भाजपा की ओर से मतगणना वाले दिन कार्यकर्ताओं को ज़्यादा सतर्क रहने के निर्देश दिए गए हैं.

मध्य प्रदेश में भी भाजपा सतर्क

विधानसभा चुनाव में मिली हार को पीछे छोड़ चुकी भाजपा मध्य प्रदेश में एक बार फिर अपनी मजबूत वापसी की उम्मीद पाले बैठी है. लेकिन इस बीच पार्टी ने छिंदवाड़ा और कुछ अन्य जगहों पर प्रशासन से असहयोग मिलने की शिकायत की है. कुछ जगहों पर ईवीएम सुरक्षा की तैनाती में लगे उसके प्रतिनिधियों से हिंसा होने की भी खबरें आई हैं. इसे देखते हुए पार्टी मध्यप्रदेश में भी बहुत सतर्क रहेगी. पार्टी ने इसके बाबत चुनाव आयोग से शिकायत भी की है.

Read Also  झारखंड में 22 से 29 अप्रैल तक संपूर्ण लॉकडाउन, जानिए क्‍या है गाइडलाइन

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.