रांची हिंसा की उच्‍चस्‍तरीय जांच के लिए दो सदस्‍यीय कमिटी गठित, बंद है इंटरनेट

by

Ranchi: रांची में हुई हिंसा के बाद झारखंड के मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन ने जांच के आदेश दिए हैं. सीएम ने उच्चस्तरीय जांच के लिए दो सदस्यीय कमेटी गठित करने का निर्देश दिया है. इसमें सचिव अमिताभ कौशल व अपर पुलिस महानिदेशक संजय लाटकर शामिल हैं. इन्हें 7 दिनों के भीतर जांच कर रिपोर्ट देने को कहा गया है.

रांची में उपद्रव के बाद रविवार सुबह तक इंटरनेट ठप

रांची में हुए बवाल के बाद इंटरनेट की सेवाएं बंद कर दी गई हैं. इसके बाद यहां के लोगों की जिंदगी कई तरह से प्रभावित हुआ है. यहां के लोग ऑनलाइन पेमेंट के आदि हैं, अब वह कहीं भी भुगतान के लिए बटुए टटोल रहे हैं. यहां पहले मोबाइल इंटरनेट बंद की गई. उसके बाद ब्रॉडबैंड सेवाएं भी ठप्प कर दी गईं. इसके बाद ऑफिशियल कामकाज भी बुरी तरह से प्रभावित हो गए हैं. इंटरनेट बैठ जाने के बाद कई डिजिटल मीडिया प्लेटफॉर्म की सेवाएं भी प्रभावित हुई हैं. लोग जरूरी खबर और जानकारी से बेखबर महसूस कर रहे हैं.

Read Also  मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन को कोर्ट में लगानी होगी हाजिरी

राजधानी रांची के महात्मा गांधी मार्ग (मेन रोड) में शुक्रवार को हुए उपद्रव के बाद पूरा शहर पुलिस प्रशासन के साये में हैं. मेन रोड सहित शहर के सभी हिस्से में दुकानें बंद हैं. मेन रोड में पुलिस चौकस है. सर्जना चौक से डेली मार्केट-सुजाता चौक की ओर जाने से लोगों को रोका जा रहा है. पुलिस प्रशासन ने अल्बर्ट एक्का चौक के पास बेरिकेडिंग की है. आवश्यक सेवाओं को छोड़ कर किसी को भी डेली मार्केट-सुजाता चौक की ओर नहीं जाने दिया जा रहा है. मेन रोड और उससे सटे 500 मीटर के दायरे में धारा 144 लगा दी गयी है. तनावपूर्ण स्थिति को देखते हुए गृह विभाग के प्रधान सचिव राजीव अरुण एक्का ने राजधानी रांची क्षेत्र में सभी तरह की इंटरनेट सेवाओं पर अस्थायी रोक लगा दी है. प्राप्त जानकारी के अनुसार यह रोक रांची जिले में रविवार सुबह तक लागू रहेगी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.