Take a fresh look at your lifestyle.

एक दूल्‍हे संग शादी पर अड़ी दो गर्लफ्रेंड, पुलिस भी कंफ्यूज

0 42

Chandwa (Jharkhand): लातेहार के चंदवा में सोमवार को प्यार का एक दिलचस्‍प मामला देखने को मिला. यहां एक दूल्हे पर दो युवतियों ने अपना हक जताया. दोनों उस युवक से शादी करने की जिद पर अड़ गईं. दोनों युवतियों का कहना है कि उनकी शादी होगी तो सिर्फ इसी युवक से. दोनों युवतियों ने उस लड़के का गर्लफ्रेंड बताया और कहा कि वह प्यार करती हैं उससे.

गबज तो तब हुआ जब लड़के ने भी कहा कि वह दोनों युवतियों से प्यार करता है. युवतियों द्वारा पुलिस की मदद लेने से भयभीत युवक दोनों से शादी करने के लिए तैयार हो गया. हालांकि सामाजिक बाध्यता के कारण ऐसा संभव नहीं हो पाया. पुलिस के साथ ग्रामीण और परिजन उन्हें समझाने में जुटे.

यह है मामला

जानकारी के अनुसार कर्रा (खूंटी) निवासी सुचित्रा हेरेंज को पढ़ाई के दौरान वर्ष 2014 में सदावर (नगर) निवासी संतोष उरांव (पिता जयनंदन उरांव) से प्रेम हुआ. प्रेम परवान चढ़ा और वह उसके घर भी आने-जाने लगी.

वर्ष 2018 में दोनों के प्रेम संबंध में किसी बात को लेकर खटास आ गया. दोनों के बीच आई खटास को पाटने के लिए गांव में बैठक भी हुई. बैठक में दोनों ने एक-दूसरे से सारे रिश्ते-नाते खत्म कर अलग रहने पर सहमति जताई.

इसके बाद लड़के की मित्रता बाघा (लोहरदगा) निवासी प्यारी नाम की एक युवती से हुई और दोनों के प्यार पर घरवालों ने सहमति भी जताई. दोनों शादी करने के लिए भी तैयार हो गए. कार्ड छप गया और शादी की रस्में भी शुरू हो गई.

इधर, इसकी भनक सुचित्रा को मिली तो वह अपने भाई महावीर के साथ चंदवा पहुंची और शादी पर विरोध जताया. सुचित्रा ने युवक से कहा कि वह किसी दूसरे के साथ शादी नहीं कर सकता.

सुचित्रा के विरोध की सूचना पर संतोष के साथ शादी करने जा रही प्यारी नाम की लड़की वहां पहुंची और सुचित्रा की बात पर आपत्ति जताई. कहा कि उसने तो युवक से अपने सारे रिश्ते खत्म कर दिए हैं. अब जब शादी की रस्में शुरू हो गई हैं, तो उसका विरोध उचित नहीं है.

इसके बाद दो वर्ष पूर्व गांव में हुई पंचायत की बैठक में शामिल कुछ लोग भी थाना पहुंचे और कहा कि यदि उसे उसी लड़के से शादी करनी थी तो उसी पंचायत में ही यह बात कहना चाहिए था. गांव के लोग उसकी शादी उस युवक से करा देते. अब जब दूसरी लड़की से उसका रिश्ता तय हो चुका है, शादी की रस्में शुरू हो चुकी है तो विरोध उचित नहीं है.

क्या कहते हैं पुलिस निरीक्षक

पुलिस निरीक्षक सह थाना प्रभारी मदन कुमार शर्मा ने इस बाबत कहा कि मामले की तफ्तीश की जा रही है. सभी बालिग हैं. यदि किसी पक्ष द्वारा लिखित शिकायत दर्ज कराई जाती है तो न्यायसंगत कार्रवाई अवश्य की जाएगी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.