Take a fresh look at your lifestyle.

दिल्ली हिंसा में फरार ताहिर हुसैन का नाम दो और FIR में दर्ज

0 16

New Delhi: दिल्ली हिंसा मामले में फरार ताहिर हुसैन के नाम से दो और एफआईआर दर्ज किये गये हैं. ताहिर पहले एफआईआर के बाद से ही फरार हैं. इसके बाद उसकी परेशानी और बढ़ सकती है. ताहिर का नाम दिल्‍ली हिंसा को लेकर दर्ज की गई दो और एफआईआर में भी आया है. दोनों एफआईआर दर्ज कराने वाले ने मकान से पेट्रोल बम फेंकने का आरोप लगाया है.

उधर मामले की जांच में जुटी क्राइम ब्रांच की एसआईटी ने उसके खिलाफ लुक आउट नोटिस जारी करने की तैयारी कर ली है. इसकी प्रक्रिया शुरू कर दी गई है. ताहिर के पासपोर्ट डिटेल्स खंगाले जा रहे हैं. इसके बाद इसे एफआरआरओ को भेजा जाएगा.

पहली एफआईआर दयालपुर में

दिल्ली हिंसा को लेकर ताहिर का नाम दयालपुर थाने में दर्ज एफआईआर में आया है. यह एफआईआर गोली लगने से घायल हुए अजय गोस्वामी नाम के एक व्यक्ति के बयान पर उत्तर पूर्वी जिले के दयालपुर थाने में दर्ज की गई है, जिसमें अजय ने कहा है कि ताहिर हुसैन के मकान से गोलियां, पत्थर और पेट्रोल बम चल रहे थे. एफआईआर नंबर-88 के अनुसार, पुलिस को दी गई शिकायत में अजय ने बताया कि वो गत 25 फरवरी 2019 को अपने अंकल राकेश शर्मा के घर आया था.

करीब दोपहर 3 बजकर 50 मिनट पर वह खजूरी जा रहा था. वह जैसे ही गली के कोने पर पहुंचा तो देखा कि मेन करावल नगर रोड पर भीड़ जमा थी जो पत्थरबाजी और गोलीबारी कर रही थी. यह देख वह अंकल के घर की तरफ भगाने लगा इसी बीच उसके दाहिने कूल्हे पर कोई गोली जैसी चीज लगी. वहां खड़े लोग गोलियां चला रहे थे. जिन लड़कों ने पीड़ित को उठाया था, वो कह रहे थे कि ताहिर हुसैन के मकान से काफी लोग गोलियां चला रहे हैं.

दूसरी एफआईआर खजूरी में

खजूरी खास थाने में सिपाही संग्राम सिंह ने जो एफआईआर दर्ज कराई है, उसमें भी ताहिर हुसैन का नाम है. संग्राम सिंह ने शिकायत में बताया कि वह थाना खजुरी खास में बतौर सिपाही तैनात है. गत 24 फरवरी को उसकी और हेडकांस्टेबल विक्रम की ड्यूटी चांद बाग पुलिया ई-ब्लाक में लगी थी, तभी शेरपुर चौक की तरफ जाने वाले रास्ते व आसपास की गलियों मे काफी भीड़ इकट्ठा होने लगी और उपद्रवी आगजनी-पत्थरबाजी कर रहे थे.

संग्राम सिंह के अनुसार, यहीं के रहने वाले प्रदीप की छत पर एक शादी का खाना बन रहा था. प्रदीप की पार्किंग के पास ताहिर हुसैन के मकान की छत पर काफी सख्या में उपद्रवी इकट्ठा थे, जो छत से पार्किंग की तरह पत्थर व आग लगाने वाली चीजें फेंक रहे थे. इसके चलते शादी का समान भी खराब हो गया. उस भीड़ ने आसपास की दुकान में भी तोडफोड़ की.

एसआईटी ने कॉल डिटेल रिकॉर्ड निकाली

मामले की जांच में जुटी क्राइम ब्रांच की एसआईटी ने फरार ताहिर हुसैन के फोन की कॉल डिटेल रिकॉर्ड (सीडीआर) निकाली है, जिसमें उसकी 19 नंबरों पर ज्यादा बातचीत हुई है. इस आधार पर यह माना जा रहा है कि जिन नंबरों पर उसकी ज्यादा बातचीत हुई है, वह उसके करीबी नेटवर्क में हैं और उनकी भूमिका संदिग्ध हो सकती है. इसलिये यह लोग पुलिस की जांच राडार पर हैं.

ताहिर की तलाश में जुटी एसआईटी ने दिल्ली-एनसीआर व पश्चिमी यूपी के 14 स्थानों पर उसकी तलाश में छापेमारी की है. एसआईटी सूत्रों की मानें तो ताहिर 2 मोबाइल नंबरों का इस्तेमाल करता है. 24 तारीख को 12 बजे तक की कॉल डिटेल्स खंगाली गई, जिसमें ताहिर हुसैन 24 की रात 12 बजे के आस-पास तक चांद बाग के उसी घर में मौजूद था. जांच में यह बात भी सामने आ रही है कि ताहिर ने 24 तारीख को (हिंसा के दिन) दिन भर में करीब 150 कॉल की थीं. जांच में जुटी पुलिस यह पता लगाने में जुटी है कि यह कॉल उसने किसको की थी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.