Take a fresh look at your lifestyle.

‘हाउडी मोदी’ में ट्रम्प बोले- आतंकवाद से मिलकर लड़ेंगे भारत-अमेरिका

0 12

Houston: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बहुप्रतीक्षित ‘हाउडी मोदी’ कार्यक्रम को संबोधित किया. कार्यक्रम में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प भी मौजूद थे. ट्रम्प ने कहा कि दोनों देश आतंकवाद के खिलाफ साथ मिलकर काम करेंगे. सुरक्षा के खतरों को देश में आने नहीं देंगे. हम इस्लामिक आतंकियों से बचाव के लिए तैयार हैं. 

मोदी ने अपने संबोधन की शुरुआत गुड मार्निंग ह्यूस्टन, गुड मार्निंग टेक्सास और गुड मार्निंग अमेरिका से की. 

उन्होंने कहा कि अरबों लोग ट्रम्प के एक-एक शब्द को फालो करते हैं. आज हमारे साथ विशेष अतिथि मौजूद हैं. ट्रम्प किसी परिचय के मोहताज नहीं हैं. उनका वैश्विक राजनीति में बड़ा महत्व है. मुझे राष्ट्रपति ट्रम्प में हमेशा अपनापन दिखता है.

राष्ट्रपति ट्रम्प अद्भुत और अभूतपूर्व हैं. ट्रम्प व्हाइट हाउस में भारत के सच्चे मित्र हैं. मोदी ने इस दौरान नारा दिया कि अमेरिका में अबकी बार ट्रम्प सरकार. 

मोदी ने कहा कि ट्रम्प का लक्ष्य अमेरिका को फिर से महान बनाने का है, वो अमेरिकी अर्थव्यवस्था को मजबूत कर रहे हैं.

उन्होंने अमेरिकी और दुनिया के लिए काफी कुछ किया है. मैं इनसे कई बार मिला हूं, हर बार इनका व्यवहार गर्मजोशी भरा, ऊर्जापूर्ण और दोस्ताना रहा है. मैं इनके नेतृत्व की प्रंशसा करता हूं. 

मोदी के बाद कार्यक्रम को डोनाल्ड ट्रम्प ने संबोधित किया. उन्होंने कहा कि भारत और अमेरिका के बीच आज रिश्ते काफी प्रगाढ़ हो चुके हैं. मैं आपको भरोसा दिलाता हूं भारत के हित के लिए अब तक का सबसे अच्छा मित्र व्हाइट हाउस में हैं, पीएम मोदी को यह बात पता है.

हमारे दोनों देशों के रिश्ते लोकतंत्र की बुनियाद पर खड़े हैं. कानून के हिसाब से दोनों देशों में शासन चलता है. दोनों देशों का संविधान ‘वी द पीपल’ जैसे तीन महान शब्दों के साथ शुरू होता है. 

ट्रम्प ने भारतीय समुदाय को धन्यवाद देते हुए कहा कि आप हमारी संस्कृति को समृद्ध बनाते हैं. आपने अमेरिका के लिए काफी योगदान दिया है. मैं भरोसेमंद दोस्त पीएम मोदी को धन्यवाद देता हूं.

वह भारत के लिए काफी अच्छा काम कर रहे हैं. कुछ महीने पहले भारत में चुनाव हुए और लोगों ने पीएम मोदी और उनकी पार्टी के लिए मतदान किया. मैं उन्हें बधाई देता हूं. पीएम को जन्मदिन की भी बधाई देता हूं. 

कार्यक्रम में भारतीय विदेश मंत्री एस. जयशंकर भी मौजूद थे. कार्यक्रम में राष्ट्रपति ट्रम्प के पहुंचने पर जयशंकर ने उनका स्वागत किया.

कार्यक्रम के लिए रवाना होने से पहले ट्रम्प ने ट्वीट कर लिखा, ”अपने दोस्त के साथ ह्यूस्टन में रहूंगा. टेक्सास में एक बेहतरीन दिन होगा.” 

ऐसा पहली बार है जब कोई अमेरिकी राष्ट्रपति ऐसे कार्यक्रम में शामिल हुआ है, जिसे दूसरे देश के प्रधानमंत्री संबोधित किया. कार्यक्रम का आयोजन टेक्सास इंडिया फोरम ने किया था.

प्रधानमंत्री मोदी संयुक्त राष्ट्र महासभा की बैठक में शामिल होने के लिए 21 से 27 सितम्बर तक अमेरिका के दौरे पर हैं. 

वह महासभा के 74वें सत्र को संबोधित करने के साथ ही अन्य कई द्विपक्षीय और बहुपक्षीय मुद्दों से जुड़े कार्यक्रमों में भाग लेंगे.  

गुरुवाणी से हुआ सांस्कृतिक कार्यक्रम का शुभारंभ 

ह्यूस्टन के एनआरजी स्टेडियम में आयोजित कार्यक्रम में भारतीय समुदाय के करीब 55 हजार लोग उपस्थित थे. डेमोक्रेट और रिपब्लिकन पार्टी के 50 से ज्यादा नेता भी कार्यक्रम में मौजूद थे. कार्यक्रम शुरू होने से तीन घंटे पहले ही भारतीय समुदाय के लोग स्टेडियम पहुंचने लगे थे. 

मोदी और ट्रम्प के संबोधन के पहले सांस्कृतिक कार्यक्रम भी आयोजित किए गए. इसमें भारत और संयुक्त राज्य अमेरिका की संस्कृतियों की झलक देखने को मिली. इसमें करीब 400 कलाकारों ने प्रस्तुति दी. 

सांस्कृतिक कार्यक्रम का शुभारंभ सिख गुरुवाणी से हुआ. इसे ग्रेटर सिनसिनाटी के गुरुनानक सोसाइटी के कीर्तन गायकों ने प्रस्तुत किया.  

अमेरिका में मोदी का तीसरा कार्यक्रम 

प्रधानमंत्री मोदी का अमेरिका में इस प्रकार का यह तीसरा कार्यक्रम था. मोदी ने वर्ष 2014 में न्यूयार्क में और 2016 में सिलिकॉन वैली में भारतीय समुदाय को संबोधित किया था. दोनों कार्यक्रमों में करीब 22 हजार लोग मौजूद थे. 

उल्लेखनीय है कि अमेरिका के टेक्सास प्रांत में भारतीय समुदाय के करीब एक लाख लोग रहते हैं. ह्यूस्टन का क्षेत्रफल 1558 वर्ग किमी. है. वर्ष 2017 की जनगणना के अनुसार ह्यूस्टन की जनसंख्या करीब 23.50 लाख है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.