2018 के टॉप म्यूचुअल फंड जो 2019 में भी करा सकते हैं अच्छी कमाई

by
Advertisements

म्यूचुअल फंड में इस बार कमाई में बाजी मारी है लार्ज कैप फंड ने. कई सालों से ये खिताब अब तक स्मॉल और मिडकैप फंड को मिलता आया है.

सेंसेक्स ने 2018 में अच्छी शुरुआत की थी लेकिन महंगे क्रूड, कमजोर रुपए और ग्लोबल आर्थिक हालात ने मूड बिगाड़ दिया. सेंसेक्स ने सालभर में सिर्फ 7 परसेंट ही रिटर्न दिया. लेकिन निफ्टी के मिडकैप इंडेक्स में 17 परसेंट गिरावट रही जबकि स्मॉल कैप इंडेक्स में 30.5 परसेंट की जोरदार गिरावट रही.

म्यूचुअल फंड में निवेश से पहले ये ‘सुपर-7’ बातें जाननी जरूरी

लार्ज कैप फंड

  • नंबर वन फंड एक्सिस ब्लू चिप फंड- डायरेक्ट प्लान
  • 2018 में रिटर्न- 7.2%
  • सेंसेक्स का रिटर्न करीब 5%
  • शेयर जिनमें मिला बंपर रिटर्न
  • HDFC बैंक
  • कोटक महिंद्रा बैंक
  • बजाज फाइनेंस
  • TCS 42%

शेयर जिसमें सबसे ज्यादा नुकसान

इस फंड में जिन शेयरों में निवेश किया था उसमें सिर्फ मारुति सुजुकी में उसे नुकसान हुआ है. देश की सबसे बड़ी कार कंपनी मारुति के शेयर में इस साल 20 परसेंट से ज्यादा गिरावट रही है. इस फंड को बाकी सभी शेयरों से अच्छी कमाई हुई है.

लंबी अवधि में सालाना रिटर्न

फंड में सालाना रिटर्न 7.2 परसेंट ही हुआ लेकिन 3 साल में औसत सालाना रिटर्न करीब 14 परसेंट और पांच साल के पीरियड में औसत सालाना रिटर्न 16 परसेंट मिला.

  • 3 साल में सालाना रिटर्न- 13.9%
  • 5 साल में सालाना रिटर्न- 15.9%

इस फंड ने इंडेक्स फंड से ज्यादा रिटर्न दिया है. निफ्टी-50 का 3 और 5 साल के पीरियड में सालाना औसत रिटर्न 11परसेंट रहा है.

ये भी जानिए- 

  • मिडकैप फंड
  • नंबर वन फंड- एक्सिस मिडकैप फंड
  • 2018 में कमाई 3.4 परसेंट
  • निफ्टी मिडकैप में नुकसान 17%

इस साल मिडकैप में कमाई करने वाला ये एकमात्र म्यूचुअल फंड है. सालभर में इसमें 3.5 परसेंट कमाई हुई है. निफ्टी मिडकैप फंड में 17 परसेट गिरावट को देखते हुए इस कमाई को बहुत अच्छा माना जाएगा.

लंबी अवधि में सालाना कमाई

  • 3 साल में सालाना औसत रिटर्न- 13.3 परसेंट
  • 5 साल में सालाना औसत रिटर्न- 21.3 परसेंट
  • फंड को किन शेयरों में कमाई हुई
  • (30 नवंबर 2018 के मुताबिक)
  • सिटी यूनियन बैंक
  • गृह फाइनेंस
  • एस्टल पॉली
  • HDFC बैंक

मिडकैप शेयरों की इस कदर पिटाई हुई है कि 2018 में रिटर्न के मामले में दूसरे नंबर के फंड भी नुकसान वाला ही है जिसमें 5.5 परसेंट गिरावट रही.

स्मॉल कैप फंड

  • नंबर वन फंड: HDFC स्मॉल एंड मिडकैप फंड
  • 2018 में रिटर्न- – 7 परसेंट
  • 2018 में निफ्टी स्मॉलकैप इंडेक्स में 30 परसेंट गिरावट हुई है लेकिन इस फंड में सिर्फ 7 परसेंट गिरावट दिखाई है.
  • लंबी अवधि में सालाना रिटर्न ज्यादा
  • तीन साल की मियाद में औसत सालाना रिटर्न 17 परसेंट
  • 5 साल की मियाद में औसत सालाना रिटर्न 4 परसेंट

फंड का रिटर्न इंडेक्स के मुकाबले बेहतर रहा है क्योंकि ज्यादातर निवेश सोनाटा सॉफ्टवेयर और NIIT टेक जैसे टेक्नोलॉजी शेयरों में किया गया था. दूसरे नंबर का बेस्ट फंड L&T इमर्जिंग बिजनेस फंड है जिसके NAV में 13.8 परसेंट गिरावट रही.

HDFC स्मॉल एंड मिडकैप फंड

  • 2018 में रिटर्न- (-7) परसेंट
  • मुख्य शेयर जिनमें निवेश किया
  • अरविंदो फार्मा
  • NIIT टेक
  • चंबल फर्टिलाइजर
  • शारदा क्रॉपकैप
  • सोनाटा सॉफ्टवेयर
  • मल्टीकैप फंड
  • मल्टीकैप फंड
  • नंबर वन फंड: एक्सिस मल्टीकैप फंड
  • 2018 में रिटर्न: 8 परसेंट

इस तरह के फंड का इंडेक्स से ज्यादा लेना देना नहीं होता. इसमें अलग अलग स्तर के शेयर सिलेक्ट किए जाते हैं. इस फंड ने सालभर में 8 परसेंट कमाई की है. जबकि दूसरे नंबर के फंड UTI इक्विटी फंड ग्रोथ ऑप्शन की सालभर में 2.2 परसेंट ही कमाई रही है.

मुख्य शेयर जिनमें निवेश हुआ

  • HDFC बैंक
  • बजाज फाइनेंस
  • कोटक महिंद्रा बैंक
  • मारुति सुजुकी
  • TCS

मल्टीकैप फंड हर तरह के शेयरों में निवेश करता है. इनमें मिडकैप, लार्जकैप और स्मॉल कैप फंड भी शामिल होते हैं.

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.