डॉ रामदयाल मुंडा के विचार, व्यक्तित्व अमिट रहेंगे, नई पीढ़ी उन्हें पढ़े और जानें- सुदेश महतो

Ranchi: आजसू पार्टी (AJSU Party) के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो (Sudesh Mahto) ने कहा है कि धरतीपुत्र डॉ रामदयाल मुंडा ने जीवन के कैनवास पर अदभुत, अद्वितीय और अविस्मरणीय रंग भरे. रांची जिले के एक साधारण गांव से निकलकर देश-दुनिया में उन्होंने झारखंड का मान बढ़ाया. उन्हें याद करने के लिए किसी खास तारीख की जरूरत नहीं. वे हमेशा हमारे दिलों में रहेंगे। नई पीढ़ी डॉ मुंडा को पढ़े और जानें. इससे समृद्ध झारखंड गढ़ने की राह सशक्त होगी.

डॉ मुंडा की जयंती पर रांची में डॉ रामदयाल मुंडा पार्क स्थित मूर्ति पर फूल-माला चढ़ाकर श्रद्धांजलि अर्पित करने के साथ उन्होंने ये बातें कही.

आजसू प्रमुख ने कहा कि झारखंड आंदोलन के प्रणेता, आदिवासी अधिकार और उत्थान के मुखर प्रवक्ता, महान शिक्षाविद, चिंतक डॉ मुंडा ने झारखंडी, संस्कृति, अस्मिता, पंरपरा, भाषा, विषय को सहेजने की दिशा में महत्वपूर्ण दर्शन देते लोगों को राह दिखलाई स्वाभिमान जगाया.

उन्होंने कहा कि डॉ मुंडा धैर्य, सहनशीलता और विचारों के प्रतिमूर्ति थे. वे हर किसी की बात धैर्य से सुनते. उसे गुनते. फिर अपनी कहते. कई मौके पर लेखक, कलाकार, साहित्यकार, पत्रकार को एक मंच पर करते और अपनी आवाज देकर ऊर्जा भरते. झारखंड आंदोलन के दौरान उनके बौद्धिक विचार युवाओं के लिए प्रेरणास्त्रोत बना रहा. उनके जीवन दर्शन से हमें हर पल सीखते रहने की जरूरत है.

श्री महतो ने कहा कि तमाम विद्वता, पहचान हासिल करने और विदेशों के दौरे के बाद भी वे ताउम्र कला, संस्कृति, प्रकृति में रचते-बसते रहे. भाषा और साहित्य को समृद्ध बनाने में उन्होंने अहम भूमिका निभाई. उनके लिए राजनीति के मायने भी अलग थे.

उन्होंने कहा कि सच्चे अर्थों में डॉ रामदयाल मुंडा धैर्य, सहनशीलता, रचनाधर्मिता के वे प्रतिमूर्ति थे. वे जैसे अंदर थे वैसे बाहर थे.

मुख्य केंद्रीय प्रवक्ता डॉ देवशरण भगत ने कहा कि गौरव और गुमान का दिन है कि महान झारखंडी शख्सियत को याद करने गम सभी आंदोलनकारी जुटे हैं.

इस अवसर पर डॉ संजय बसु मल्लिक, महानगर अध्यक्ष ज्ञान सिन्हा, छात्र संघ के प्रदेश प्रभारी हरीश कुमार, वरीय उपाध्यक्ष अब्दुल जब्बार, प्रदेश उपाध्यक्ष नीरज वर्मा, प्रदेश सचिव ओम वर्मा, अजीत कुमार, ज्योत्सना केरकेट्टा, राँची वि०वि वरीय उपाध्यक्ष राहुल तिवारी, एकरामुल अंसारी, दीपक दुबे, अभिषेक झा, सोनू ओझा, कृष्णा सिंह, जगत मुरारी, कुमार गौरव, नीरज झा, बबलू, प्रेम, धीरज, अंकित, विकास, मुकेश, विकास उरांव इत्यादि मुख्य रूप से उपस्थित थे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.