Corona के नए वेरिएंट से दुनिया में हड़कंप, झारखंड के हेल्‍थ मिनिस्‍टर ने पीएम से की ये अपील

by

Ranchi: कोरोना के नए वेरिएंट दक्षिण अफ्रीका में सामने आने के बाद दुनियाभर के देशों में दहशत है. कई देशों ने यात्रा पर प्रतिबंध की घोषणा की है. इधर, झारखंड के हेल्‍थ मिनिस्‍टर बन्‍ना गुप्‍ता ने भी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को पत्र लिखा है. उन्‍होने पीएम से इंटरनेशनल उड़ाने पर प्रतिबंध लगाने की अपील की है.

बन्‍ना गुप्‍ता ने कहा कि कोरोना के दूसरे वेव को हमने देखा हैं और उसके प्रभाव से हम वाकिफ हैं, इसलिए जरूरत हैं कि इस नए वेब को समय से पहले रोक दी जाये. दूसरे वेव में डेल्टा समेत चार वेरिएंट ने तबाही मचाई थी. इस बार कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन को देश में आने से रोकना होगा.

मंत्री बन्ना गुप्ता ने कहा कि जिन देशों में नए वेरिएंट पाए गए हैं उन देशों से उड़ान पर रोक लगनी चाहिए, साथ ही उन्होंने कहा कि पीएम मोदी के कोरोना के नए वेरिएंट ओमीक्रॉन से निपटने के लिए अभी से ही रणनीति बनानी चाहिए. पूरे देश में समन्वय स्थापित करते हुए इसके लिए तैयारी की जानी चाहिए.

उन्होंने कहा कि पीएम मोदी को पिछली गलतियों से सबक लेते हुए इस बार पहले ही चौकस होना चाहिए. स्वास्थ्य विभाग ऐसा है जहां राजनीति नहीं होनी चाहिए. लेकिन, पीएम मोदी ने खुद इसे राजनीति का अखाड़ा बना दिया. जब देश में लोग मर रहे थे पीएम मोदी लोगों को कहते हैं कि आपदा को अवसर में बदलें और अवसर को उत्सव में,जिनके घर में लोग कोरोना से मर गए हैं. उनके घर के लोग कैसे उत्सव मना सकते हैं?

मंत्री बन्ना गुप्ता ने बताया कि राज्य में कोरोना वैक्सिंग अभियान में तेजी लाने का निर्देश दिया गया है. त्योहारों को लेकर थोड़ी रफ्तार में कमी आई थी. लेकिन, अब तेजी से टीकाकरण अभियान चलाया जा रहा हैं. कोरोना रिकवरी दर भी राज्य में 99% के करीब हैं. लेकिन, अभी भी हमें सतर्कता बरतने की आवश्यकता हैं.

उन्होंने बताया कि विभाग को निर्देश दिया गया हैं कि ट्रेनों और घरेलू उड़ानों से आने वाले लोगों के जांच के लिए विशेष तैयारी की जाए. उन्होंने बताया कि राज्य सरकार जल्द ही बड़े पैमाने पर इस स्थिति को लेकर समीक्षा करेगी.

कोरोना का नया वेरिएंट ओमिक्रोन और मॉर्डना का बूस्‍टर शॉट

विश्व स्वास्थ्य संगठन ने इसका नाम ओमिक्रोन देते हुए इसके खतरे को लेकर दुनिया को चेताया है. इधर, अमेरिका दवा निर्माता कंपनी मॉर्डना ने शुक्रवार को कहा कि वह नए कोरोना वेरिएंट ओमिक्रोन के खिलाफ बूस्टर शॉट तैयार करेगा!

न्यूज़ एजेंसी एएफपी के मुताबिक, मॉडर्ना ने कहा कि यह कंपनी की उन तीन रणनीतियों में शामिल है, जो वे नए खतरों से निपटने के लिए कर रही है, जिसमें मौजूदा वैक्सीन के उत्पादन को बढ़ाना भी शामिल है! मॉडर्ना के सीईओ स्टीफन बैंसेल ने कहा- कई दिनों से कोरोना के म्यूटेट कर बना नया वेरिएंट ओमिक्रोन चिंता का कारण बना हुआ है! इस वैरिएंट के खिलाफ हम अपनी रणनीतिक को जल्द से जल्द अंजाम देने में लगे हुए हैं!

गौरतलब है कि कोरोना वायरस के डेल्टा वेरिएंट को भी ‘बेहद तेजी से फैलने वाले चिंताजनक वेरिएंट’ की कैटेगरी में रखा गया था, जिसका प्रसार दुनियाभर में हुआ था और बड़ी संख्या में लोग इसका शिकार हुए थे. ओमिक्रोन पहले वेरिएंट से ज्यादा तेजी से फैलता था और तेजी से ही लोगों को बीमार बनाता था! ऐसा ही नए वेरिएंट ‘Omricron’ के बारे में कहा जा रहा है!

शुक्रवार को WHO के टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप ऑन वायरस एवोल्यूशन (TAG-VE) की बैठक बुलाई गई, जिसमें नए वेरिएंट B.1.1.529 और इसके व्यवहार पर चर्चा हुई! मीटिंग के बाद डब्ल्यूएचओ के प्रवक्ता ने बताया कि अभी शुरुआती अध्ययन से पता चला है कि नया वेरिएंट बहुत अधिक संख्या में म्यूटेंट हुआ है!

मिले साक्ष्यों के आधार पर WHO के टेक्निकल एडवाइजरी ग्रुप ने उसे सलाह दी कि इस वेरिएंट को चिंता के रूप में नामित किया जाना चाहिए और WHO ने B.1.1529 को ‘वेरिएंट ऑफ कंसर्न’ के रूप में नामित कर दिया! इसके साथ ही, ग्रीक अक्षर प्रणाली के तहत “Omricron” नाम भी दे दिया!

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.