Take a fresh look at your lifestyle.

देश में गर्मी और लू का कहर, राजस्थान के चुरू में पारा 50.8 डिग्री

0

New Delhi: दिल्ली-एनसीआर समेत देश के कई राज्यों में शरीर को झुलसा देने वाली गर्मी और लू का भीषण प्रकोप जारी है. दिल्ली समेत देश के कई राज्यों में तापमान 44 डिग्री सेल्सियस को पार कर गया है. इनमें राजस्थान, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश, छत्तीसगढ़, पंजाब, दिल्ली, हरियाणा, जम्मू-कश्मीर, तेलंगाना और महाराष्ट्र शामिल हैं.

राजस्थान के चुरू में शनिवार को अधिकतम तापमान 50.8 डिग्री और श्रीगंगानगर में 49 डिग्री सेल्सियस रिकार्ड किया गया. दिल्ली में तेज धूप और गर्मी का यह कहर आने वाले कुछ दिनों तक और जारी रहने की संभावना है.

मौसम विभाग के अनुसार दिल्ली में शनिवार को अधिकतम तापमान 46.1 डिग्री रिकार्ड किया गया. यहां तीन जून तक तापमान इसके आस-पास बना रहेगा. इस दौरान लू का प्रकोप जारी रहेगा. रविवार को हरियाणा, चंडीगढ़, पश्चिमी उत्तर प्रदेश के साथ दिल्ली में 40-50 किमी प्रति घंटा की रफ्तार से आंधी चलने की संभावना है. उसके बाद चार जून की रात से बादलों की आवाजाही के बीच कुछ राहत मिलने की संभावना है.

भारत मौसम विज्ञान विभाग (आईएमडी) ने गर्मी को लेकर अलग-अलग क्षेत्रों के लिए अलग-अलग अलर्ट जारी किये हैं. आईएमडी के अनुसार वर्तमान परिस्थितियां सभी उम्र के लोगों में गर्मी से संबंधित बीमारियों और हीट स्ट्रोक को बढ़ाने में सहायक हैं. फिलहाल दिल्ली ही नहीं बल्कि समूचे उत्तर भारत में कुछ इसी तरह की परिस्थितियां हैं.

पश्चिमी मध्य प्रदेश, तेलंगाना, मराठवाड़ा के कुछ हिस्सों और जम्मू-कश्मीर, हिमाचल प्रदेश, उत्तराखंड, पंजाब, हरियाणा, चंडीगढ़ और दिल्ली, पश्चिमी उत्तर प्रदेश और पूर्वी राजस्थान के अलग-अलग इलाकों में भी गर्मी के तेवर काफी तीखे हैं. अगले पांच दिन में उत्तर पश्चिम भारत में अधिकतम तापमान में अधिक परिवर्तन की संभावना नहीं है. अगले तीन दिन गर्मी की स्थिति गंभीर होने के साथ-साथ लू का कहर जारी रहने की भी संभावना है. पंजाब, हरियाणा और उत्तर प्रदेश के दक्षिणी पश्चिमी भाग में धूल भरी हवाएं चल सकती हैं.

जम्मू-कश्मीर

जम्मू में भी गर्मी अपना प्रचंड रूप दिखा रही है. तपती धूप के साथ गर्म लू के थपेड़े आग में घी का काम कर रहे हैं. जम्मू का तापमान पिछले दो दिनों से 43 से 44 डिग्री सेल्सियस को भी पार रह रहा है.

मौसम विभाग के अनुसार अभी कुछ दिनों तक लोगों को इस भीषण गर्मी और लू के थपेड़ों से राहत मिलने के कोई आसार नहीं हैं. पारा एक से दो डिग्री और ऊपर जाने की संभावना है. जम्मू का शनिवार को अधिकतम तापमान 44 डिग्री सेल्सियस के पार है, जबकि न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस बना हुआ है. पूरे उत्तर भारत में गर्मियों की छुट्टियों के चलते पयर्टक राज्य का रूख कर रहे हैं लेकिन यहां उन्हें भीषण गर्मी और लू का सामना करना पड़ रहा है.

हिमाचल प्रदेश

हिमाचल प्रदेश में पिछले लगभग एक सप्ताह से भीषण गर्मी पड़ रही है. मैदानी इलाकों में दिन का तापमान 45 डिग्री सेल्सियस तक पहुंच गया है. इसका आम जनजीवन पर खासा असर देखा जा रहा है.  प्रदेश में रातें भी बेहद गर्म हो गई हैं.

जिला सिरमौर के पांवटा में बीती रात सबसे गर्म रही. यहां शुक्रवार की रात न्यूनतम तापमान 30 डिग्री सेल्सियस रिकॉर्ड किया गया. नाहन, पालमपुर, हमीरपुर और बिलासपुर में न्यूनतम तापमान क्रमशः 23.1, 22.5, 21.6 और 21.5 डिग्री सेल्सियस रहा. अहम बात यह है कि मैदानी इलाकों के साथ-साथ पहाड़ी क्षेत्र भी खूब तप रहे हैं. आलम यह है कि राजधानी शिमला में रात का पारा 21.4 डिग्री सेल्सियस पहुंच गया.

उत्तर प्रदेश

पिछले करीब एक पखवाड़े से तपिश के रूप में आसमान से बरसती आग से बेहाल उत्तर प्रदेश के लोगों को एक-दो दिन में कुछ राहत मिल सकती है. आंचलिक मौसम केन्द्र के निदेशक जे.पी. गुप्ता ने शनिवार को बताया कि अगले एक-दो दिन में प्रदेश के कुछ पूर्वी हिस्सों में तेज हवा के साथ बूंदाबांदी हो सकती है. इससे लोगों को प्रचंड तपिश से राहत मिलने की उम्मीद है. हालांकि पश्चिमी भागों में गर्मी का कहर जारी रहने की सम्भावना है. उन्होंने कहा कि राज्य के पूर्वी हिस्सों में पिछले दो-तीन दिन से पुरवा हवा चलने के कारण तापमान में मामूली गिरावट हुई है.

बिहार

बिहार की राजधानी पटना और इसके आसपास के क्षेत्रों में आंशिक बदली छाई हुई है. इस बीच शुक्रवार की तुलना में शनिवार को न्यूनतम तापमान में गिरावट दर्ज की गई है लेकिन पुरवैया हवा चलने से उमस भरी गर्मी का दौर जारी है. राजधानी पटना का शनिवार का न्यूनतम तापमान 26.2 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया.

मध्य प्रदेश

राज्य के 13 शहर गर्मी और लू की चपेट में हैं. हालांकि भोपाल में बूंदाबांदी और बादल छाने के बावजूद शनिवार को पारा 44 डिग्री के पार पहुंच गया. यह सामान्य से 4 डिग्री ज्यादा रहा. यहां रात का तापमान भी 29.2 डिग्री दर्ज किया गया. यह भी सामान्य से 2 डिग्री अधिक रहा.

छत्तीसगढ़

यहां बिलासपुर में शनिवार को पारा 42.8 डिग्री सेल्सियस दर्ज किया गया. मौसम विभाग के अनुसार, दो-तीन दिन तक मौसम दोपहर में साफ रहेगा और लू के साथ गर्मी बढ़ेगी. उत्तर पूर्वी उत्तर प्रदेश के ऊपर हवा का चक्रवात जरूर बना है लेकिन इसकी वजह से गर्मी कम होने की संभावना काफी कम है. दक्षिण छत्तीसगढ़ से नम हवा आ रही हैं. पश्चिम की गरम हवा की वजह से नम हवा का असर काफी कम हो रहा है. नमी की मात्रा काफी कम है.

महाराष्ट्र में 8 की मौत

महाराष्ट्र के भी ज्यादातर हिस्से भीषण गर्मी और लू की चपेट में हैं. यहां इस सीजन में गर्मी से अबतक आठ लोगों की मौत हो चुकी है. इसके अलावा 456 लोगों के बीमार होने के मामले सामने आए हैं. नागपुर और अकोला जैसे क्षेत्रों में लू से मौत और बीमार पड़ने की घटनाएं ज्यादा हुई हैं.

तेलंगाना में 40 की मौत

आंध्र प्रदेश में इस सीजन में गर्मी और लू से अब तक 14 लोगों की और तेलंगाना में 40 लोगों की मौत हो चुकी है. आंध्र प्रदेश के स्वस्थ्य विभाग के अनुसार इस साल 433 पीड़ितों का उपचार विभिन्न अस्पतालों में किया गया है. तेलंगाना में राज्य सरकार ने लू की स्थिति को देखते हुए स्कूलों में 11 जून तक ग्रीष्मकालीन अवकाश घोषित कर दिया है.

भारतीय मौसम विभाग के मुताबिक तेलंगाना के रामागुंडम में अधिकतम तापमान  47.2 डिग्री सेल्सियस तापमान दर्ज किया गया, जो इस मौसम का सर्वाधिक तापमान है. तेलंगाना के वारंगल, आदिलाबाद, करीमनगर और रंगारेड्डी में 44  से 46 डिग्री तापमान दर्ज हुआ.

आंध्र प्रदेश में भी कमोबेश हालात इसी तरह के हैं. गोदावरी, गुंटूर, कृष्णा, प्रकाशम और नेल्लूर जिलों में शनिवार को 44 से 46 डिग्री तापमान दर्ज हुआ.

उल्लेखनीय है कि दोनों राज्यों में 2015 में भीषण लू ने कहर ढाया था. उस समय अकेले आंध्र प्रदेश में लू लगने से 1,369 लोगों और तेलंगाना में 541 लोगों की मौत हुई थी. वहां पिछले साल भी 27 लोगों की मौत हुई थी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More