बेहद तेज़ी से फेफड़ो को संक्रमित करता है delta plus वैरिएंट, स्वास्थ्य मंत्रालय ने कहा- हर वैरिएंट पर कारगर हैं Covidshield और Covaxin

by

एक ओर कोरोना वायरस की दूसरी लहर का प्रकोप अभी थमा नहीं है,वहीं दूसरी ओर भारत में कोरोना वायरस के नए वैरियंट डेल्टा प्लस ने लोगों की चिंता बढ़ा दी है। भारत में डेल्टा प्लस दस्तक दे चुका है और तेजी से फैल रहा है। दिल्ली से सटे फरीदाबाद, महाराष्ट्र, तमिलनाडु और मध्य प्रदेश में डेल्टा प्लस से कई लोग संक्रमित हो चुके हैं। केंद्र सरकार ने शुक्रवार को कहा कि अब तक देश में अनुक्रमित (जीनोम) किये गये 45,000 नमूनों में से कोविड-19 के डेल्टा प्लस स्वरूप के 52 मामले 12 राज्यों में सामने आये हैं। इनमें से सबसे अधिक 22 मामले महाराष्ट्र से आये हैं। केंद्र ने इस बात पर जोर दिया कि इस उत्परिवर्तन के अब भी “बहुत सीमित” मामले हैं और यह नहीं कहा जा सकता कि इसमें वृद्धि का रुझान दिख रहा है।

Read Also  Mandar by-election counting मांडर विधानसभा उपचुनाव के नतीजे जारी है

जानें क्या है कोरोना का नया डेल्टा प्लस वैरिएंट

कोरोना वायरस की दूसरी लहर के प्रकोप के बीच अब डेल्टा प्लस वैरिएंट ने भारत में दस्तक दे दी है। डेल्टा प्लस वैरिएंट को बी.1.617.2 स्ट्रेन भी कहते हैं। खास बात है कि कोरोना वायरस के रूप में बदलावों की वजह से डेल्टा प्लस वैरिएंट बना है। भारत के अलावा कई दूसरे देशों में भी इसके मामले सामने आ रहे हैं।

तेजी से फैलता है डेल्टा प्लस वैरिएंट

कोरोना वायरस के नए वैरिएंट डेल्टा प्लस को काफी खतरनाक वैरिएंट बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि डेल्टा प्लस वैरिएंट सबसे तेजी से फैलने वाला है। यहां तक कि इस वैरिएंट को 60 प्रतिशत और ज्यादा संक्रामक बताया जा रहा है। डेल्टा प्लस वैरिएंट कोरोना का नया घातक स्वरूप है। यह बहुत तेजी से फैलता है। डेल्टा प्लस वैरिएंट संक्रमित के फेफड़ों की कोशिकाओं से बहुत मजबूती से चिपकता है। वहीं, इसमें शरीर में रोग प्रतिरोधक क्षमता काफी कमजोर हो जाती है। ऐसे में इस सीक्वेंस को लेकर विशेषज्ञ चिंतित हैं।

Read Also  10वें राउंड में नेहा शिल्पी तिर्की 12 हजार वोटो से आगे

महाराष्ट्र में 22 और तमिलनाडु में 9 केस

राष्ट्रीय रोग नियंत्रण केंद्र (एनसीडीसी) के निदेशक सुजीत सिंह ने कहा कि तमिलनाडु में डेल्टा प्लस के नौ मामले सामने आए हैं जबकि मध्य प्रदेश में सात, केरल में तीन, पंजाब और गुजरात में दो-दो तथा आंध्र प्रदेश, ओडिशा, राजस्थान, जम्मू कश्मीर, हरियाणा और कर्नाटक में एक-एक मामला सामने आया हैं। सिंह ने स्वास्थ्य मंत्रालय की मीडिया ब्रीफिंग में कहा, ”इस उत्परिवर्तन (डेल्टा प्लस) के मामले बहुत सीमित हैं।

डेल्टा प्लस वैरिएंट के लक्षण

कोरोना वायरस के नए डेल्टा प्लस वैरिएंट के अलग-अलग लक्षण देखे जा रहे हैं। जानें इसके लक्षणों के बारे में..

बुखार, सूखी खांसी और थकान महसूस होना
सीने में दर्द होना
सांस फूलना और सांस लेने में तकलीफ होना
इसके अलावा स्किन पर चकत्ते पड़ना
पैर की उंगलियों का रंग बदलना
सामान्य लक्षणों में गले में खराश
स्वाद और महक चले जाना
सिरदर्द और लूज मोशन की दिक्कत

Read Also  सरना धर्मावलंबियों को प्रकृति की अद्भुत शक्ति

ऐसे करें बचाव

घर से बाहर निकलते वक्त डबल मास्क लगाएं
सैनिटाइजर का यूज करें
जरूरी हो तभी घर पर निकले
घर से बाहर निकले तो सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें
जब भी बाहर से घर आएं तो हाथों को करीब 20 सेकेंड तक अच्छे से धोएं
बाहर से लाए हुए सामान को डिसइंफेक्ट करें

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.