Take a fresh look at your lifestyle.

कांग्रेस गठबंधन की सरकार बनी तो किसानों का कर्जा माफ होगा : राहुल गांधी

0

Simdega (Jharkhand) : कांग्रेस के पूर्व अध्यक्ष राहुल गांधी ने छत्तीसगढ़ की दुहाई देकर झारखंड विधानसभा चुनाव में वोट मांगा. उन्होंने कहा कि देश में अंबानी-अडाणी की सरकार चल रही है, अगर झारखंड में कांग्रेस गठबंधन की सरकार बनेगी तो छत्तीगढ़ की तरह यहां के किसानों का कर्जा भी माफ किया जाएगा. आदिवासी हितों की रक्षा की जाएगी. उद्योगपतियों से जमीन छीनकर आदिवासियों को देंगे. झारखंड में जल, जंगल, जमीन, धन की रक्षा के लिए कानून बनाएंगे. बरोगजारी खत्म करने के लिए भी कांग्रेस गठबंधन की सरकार काम करेगी. मैं आश्वासन देता हूं कि कांग्रेस की सरकार आएगी तो जो आपको डराया-धमकाया जाता है, वो हम नहीं होने देंगे.

सोमवार को राहुल गांधी सिमडेगा में कांग्रेस पार्टी के उम्मीदवार भूषण बाड़ा और कोलेबिरा से कांग्रेस के नमन विक्सल कोंगाड़ी के पक्ष में आयोजित जनसभा को संबोधित कर रहे थे. झारखंड में महागठबंधन की सरकार बनाने का आह्वान करते हुए राहुल ने कहा कि कांग्रेस प्यार बांटती है लेकिन भाजपा हिंसा को बढ़ावा देती है. झारखंड में किसानों और गरीबों की ही सरकार बनेगी. मैं आपको गारंटी देता हूं कि आपकी यहां रक्षा होगी. जहां भी भाजपा की सरकार बनती है, वहां लोगों को दबाया जाता है, कुचला जाता है. भाजपा सरकार धर्म, विचारधारा, संस्कृति के नाम पर लोगों को कुचलने का काम कर रही है. यह विभिन्न विचारधारा वाले लोगों का देश है. हम हिंसा नहीं प्यार से काम करते हैं. देश में अलग धर्म है, अलग जाति है लेकिन कांग्रेस सबको साथ लेकर चलती है. छत्तीसगढ़ की सरकार आपके सामने एक उदाहरण है. कांग्रेस की सरकार ने जो काम छतीसगढ़ में किया, वही काम कांग्रेस की महागठबंधन की सरकार झारखंड में करेगी.

अपने भाषण की शुरुआत में उन्‍होंने बिरसा मुंडा, जयपाल सिंह मुंडा को याद करते हुए कहा कि उन्‍होंने रास्‍ता दिखाने का काम किया है. छत्तीसगढ़ में धान 2500 रुपये क्विंटल मिल रहा है. झारखंड में धन की कोई कमी नहीं है इसके बावजूद ऐसा नहीं हो रहा है. चुनाव के समय भाजपा ने कहा था कि ऐसा किया ही नहीं जा सकता है. जहां भी भाजपा की सरकार है, वहां उद्योगपतियों को जमीन दी जाती है, लेकिन किसानों को धान के उचित मूल्य नहीं मिलते. जिस प्रदेश में भी भाजपा की सरकार है वहां किसानों के कर्ज माफ नहीं हुए लेकिन जहां भी कांग्रेस की सरकार आई, किसानों के कर्जा माफ कर दिये गये. यही वादा यहां करने आया हूं. जैसे छत्तीसगढ़ में आदिवासियों और किसानों की जमीन की रक्षा की गई है, किसानों के कर्जा माफ किये गये हैं, वैसे ही यहां सरकार बनने के बाद किसानों के कर्ज माफ किये जाएंगे और जमीनों की रक्षा की जाएगी.

हम लोकसभा चुनाव हार गए और न्‍याय योजना नहीं ला पाए

सीएनटी-एसपीटी एक्ट में कोई बदलाव बर्दाश्त नहीं किया जाएगा. लोकसभा चुनाव के दौरान हमने न्याय योजना की बात की थी. इससे एक भी गरीब आदमी नहीं बचता. हम लोकसभा चुनाव हार गए और न्‍याय योजना नहीं ला पाए. इससे युवाओं को रोजगार मिलता. आज लोगों के पास पैसा नहीं है. लोगों ने माल खरीदना बंद कर दिया. कारखाने बंद हो गए. पूरे देश में बेरोजगारी बढ़ गई. गरीबी दूर करना है तो उनकी जेब में पैसा डालना होगा. नरेंद्र मोदी इस बात को नहीं समझते. उन्‍होंने नोटबंदी, जीएसटी लागू कर विजय माल्‍या, नीरव मोदी जैसे लोगों की जेब में पैसे डाले. ये मोदी की सरकार नहीं, ये अंबानी-अडाणी की सरकार है. सरकार का लक्ष्य लोगों की जेब से पैसे निकालना है. पहले 35 किलो अनाज मिलता था. आज 5 किलो मिल रहा है. मनरेगा का पैसा बंद कर चुनिंदा लोगों को दिए गए. अगर आप जल, जंगल, जमीन की रक्षा करना चाहते हैं तो झारखंड में महागठबंधन की सरकार बनाना ही होगा.

एक साल के अंदर बदल दिया छत्तीसगढ़ का चेहरा

राहुल गांधी ने कहा कि एक साल के अंदर कांग्रेस ने छतीसगढ़ का चेहरा बदल दिया. पहले भाजपा की सरकार में वहां भी आदिवासियों की जमीन छीन ली जाती थी और उद्योगपतियों को दे दी जाती थी, लेकिन कांग्रेस की सरकार छतीसगढ़ में आने के बाद हमने एक कानून लाकर किसानों, गरीबों और आदिवासियों की जमीनों की रक्षा की. हमारी सरकार आई तो हिंदुस्तान में पहली बार टाटा कंपनी से जमीन वापस लेकर जिन आदिवासियों की थी, उन्हें लौटाई. जब कांग्रेस की सरकार दिल्ली में थी, हम जमीन अधिग्रहण बिल लेकर आए थे जिसका काम आदिवासियों, गरीबों और किसानों की जमीन की रक्षा करना था. उसमें था कि अगर किसी की जमीन उद्योगपति को दी जाएगी, पांच साल के अंदर अगर उद्योग नहीं लगा तो वो जमीन उसके मालिक के हवाले कर दी जाएगी.

15 से 20 बड़े उद्योगपतियों के तीन लाख 50 हजार करोड़ के कर्ज माफ

राहुल गांधी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री रघुवर दास हर भाषण में रोजगार की बात करते हैं. मेक इन इंडिया की बात करते हैं. मैं पूछना चाहता हूं कि झारखंड के कितने युवाओं को रोजगार मिला. आपको एक भी व्यक्ति ऐसा नहीं मिलेगा, जिसे रोजगार मिला हो. मोदी ने कहा था कि कालेधन के खिलाफ लड़ाई लड़नी है. नोटबंदी कर दी गई. उस वक्त एक भी उद्योगपति लाइन में नहीं खड़ा था. किसान, बेरोजगारों को मोदी ने लाइन में खड़ा कर दिया. आपकी जेब से पैसे निकाल लिये गये. इन पैसों को मोदी ने हिंदुस्तान के बड़े उद्योगपतियों को दे दिया. तीन लाख 50 हजार करोड़ रुपये 15-20 बड़े उद्योगपतियों के माफ किये गये. नोटबंदी और जीएसटी का फायदा सिर्फ हिंदुस्तान के 15-20 बड़े उद्योगपतियों को मिला है. ऐसी सरकार हमें नहीं चाहिए.

दूसरे चरण में 7 दिसम्बर को डाले जाएंगे वोट

झारखंड विधानसभा चुनाव के तहत दूसरे चरण में 7 दिसंबर को सिमडेगा समेत 20 सीटों पर मतदान होगा. इसमें सिमडेगा के अलावा बहरागोड़ा, घाटशिला, पोटका, जुगसलाई, जमशेदपुर पूर्वी, जमशेदपुर पश्चिमी, सरायकेला, चाईबासा, मझगांव, जगन्नाथपुर, मनोहरपुर, चक्रधरपुर, खरसांवा, तमाड़, तोरपा, खूंटी, मांडर, सिसई और कोलेबरा शामिल हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More