Tent City VARANASI: टेंट से बना लग्‍जरी गांव, एक दिन का रेंट 20 हजार रुपये

0
12
Varanasi Tent City: टेंट से बना लग्‍जरी गांव, एक दिन का रेंट 20 हजार रुपये
Varanasi Tent City: टेंट से बना लग्‍जरी गांव, एक दिन का रेंट 20 हजार रुपये

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शुक्रवार को गंगा विलास क्रूज यानी वाराणसी टेंट सीटी का वर्चुअल लोकार्पण किया. वाराणसी में यह गंगापार रेती पर टेंट सिटी है. इस टेंट सिटी से नव्य भव्य काशी विश्वनाथ धाम और गंगा के घाटों की दिव्य छटा के दर्शन किया जा सकता है. खास बात यह है कि यहां गोवा के समुंद्र किनारे स्थित रिसार्ट का आनंद भी मिलेगा.

अगर पीएम मोदी की भाषा में बोलें तो यहां बनारस के सभी राग के साथ सभी स्वाद मिलेंगे. यानी अध्यात्म, संगीत के साथ बनारसी खानपान और हस्तशिल्प उत्पादों की विशेषताएं जानने का अवसर मिलेगा. वहां रहने वाले पर्यटकों को काशी की धार्मिक, सांस्कृतिक झलक मिलेगी.

सुविधा लग्‍जरी, मांस-मदिरा पर बैन

इसका किराया भी इस तरह का रखा गया है ताकि आम लोग भी इसके वैभव का आनंद ले सकें. यहां स्विस कॉटेज, रिसेप्शन एरिया, गेमिंग जोन, रेस्टोरेंट, डायनिंग एरिया, कॉन्फ्रेंस स्थल, स्पा एवं योग केंद्र, लाइब्रेरी एवं आर्ट गैलरी के अलावा वॉटर स्पोर्टस, कैमल, हार्स राइडिंग आदि सुविधाएं मिलेंगी. टेंट सिटी में रहने वालों को गंगा के घाटों का नाव से दर्शन और प्रमुख स्थलों का भ्रमण भी कराया जाएगा. हां, टेंट सिटी में मांस मदिरा का सेवन पूरी तरह प्रतिबंधित है.

क्या है खास

जैसलमेर के सेंड ड्यून्स और गुजरात के रन आफ कच्छ की तर्ज़ पर बसाई गई टेंट सिटी में धर्म और आध्यात्म की झलक मिलेगी तो जीआई उत्पादों से पलक झपकाना भी लोग भूल जाएंगे. तंबुओं के इस शहर को सजाने के लिए विश्व प्रसिद्ध बनारसी साड़ी की रिप्लिका का उपयोग किया गया है.

दुनिया भर में मशहूर भदोही का कारपेट भी टेंट सिटी की शोभा बढ़ा रहा है. पूर्वांचल के भी कई उत्पाद यहां दिखेंगे. सभी टेंट का डेकोरेशन काशी के आसपास के हैंडीक्राफ्ट व अन्य उत्पादों से किया गया है.

गांव का अहसास, लग्जरी होटल जैसी सुविधा

लग्जरी होटलों जैसी सुविधाओं वाली टेंट सिटी में गांव का लुक पर्यटकों को पसंद आएगा. एसी हॉल और प्लाई से बने कमरों की दीवार को मिट्टी के रंग से रंगा गया है. तंबुओं के इस शहर में कैफेटेरिया की तरफ जाने पर गांव में पहुंचने का अहसास होता है.

कैफेटेरिया, मीटिंग हॉल की छत पर पुआल बिछाया गया है. बांस की रेलिंग टेंट सिटी को गांव जैसा लुक देती है. स्नान कुंड में भी पर्यटकों को अलग अहसास मिलेगा. वहीं दूसरे क्लस्टर में घाटों, नृत्यांगना, बनारस के संगीत घरानों की झलत देती होर्डिंग, बैनर टेंट सिटी को खास बना रहे हैं. बाहरी परिसर में सीसीटीवी भी लगाया गया है. पर्यटकों को टेंट सिटी में भ्रमण के लिए ई-कार्ट की सुविधा भी मिलेगी.

टेंट सिटी के रहवासी के सामने होगी साड़ी बुनाई

टेंट सिटी में रहने वाले पर्यटक अपनी पसंद की डिजाइन देकर साड़ी बुनवा सकेंगे. वहां मौजूद बुनकरों से संवाद कर अपने प्रवास काल में ही उस डिजाइन का नमूना भी देख सकेंगे. बनारस क्षेत्र के हस्तशिल्प व हथकरघा उत्पादों के प्रोत्साहन के लिए टेंट सिटी में बनारसी साड़ी की बुनाई लाइव दिखाई जाएगी. इसी तरह लकड़ी के खिलौनों को भी शिल्पी तैयार करेंगे.

टेंट सिटी के रहवासी बनारस की कढ़ुआ, जामदानी, शिकारगाह आदि साड़ियों की बुनाई और उनकी खासियत जान सकेंगे. साड़ी या ड्रेस मैटेरियल तैयार होने के बाद पर्यटकों को कोरियर से भेजा जाएगा. यहां बनारस के ओडीओपी, जीआई उप्तादों को टेंट सिटी में प्रदर्शित किया गया है.

टेंटों का आकार मंदिरों के शहर जैसा

यहां टेंटों का आकार मंदिरों के शहर का अहसास कराएगा. टेंट का आकार मंदिर के शिखर जैसा बनाया गया है. टेंट सिटी में धर्म, अध्यात्म और संस्कृति का संगम दिखेगा. यहां बनारस घराने का संगीत गूंजेगा. पर्यटकों की सुबह किसी न किसी प्रभाती राग से शुरू होगी. बनारस घराने से जुड़े संगीतज्ञों के भजन, शास्त्रीय गायन पर्यटकों को मंत्रमुग्ध करेंगे. यहां इंडोर और आउटडोर खेल (स्नूकर, कैरम, बैडमिंटन, वॉलीबॉल) की भी सुविधा है. योग, स्पा के साथ कैमल, हॉर्स राइडिंग भी की जा सकेगी.

रेड कारपेट से होकर प्रवेश करेंगे पर्यटक

270 टेंट वाले तंबुओं के इस शहर में रविवार से पर्यटकों का आना शुरू हो जाएगा. पर्यटक बजड़े पर सवार होकर टेंट सिटी पहुंचेंगे. वहां रेड कारपेट से गुजरते हुए अपने कॉटेज तक जाएंगे. रविवार को दिल्ली, बंगलुरु, हैदराबाद, तमिलनाडु के 20 पर्यटक टेंट सिटी पहुंचेंगे. उनका भारतीय परंपरा के अनुसार स्वागत होगा.

सोमवार को 100 से अधिक पर्यटक टेंट सिटी पहुंचेंगे. शनिवार को कैटरिंग से जुड़े सभी स्टाफ टेंट सिटी पहुंच जाएंगे. वहीं सांस्कृतिक आयोजनों के लिए शनिवार को स्टेज भी तैयार कर दिया जाएगा.

चार तरह के सूइट्स, ऑफलाइन और ऑनलाइन बुकिंग

टेंट सिटी में 15 जनवरी से पर्यटक रहने लगेंगे. यहां दो क्लस्टरों में अलग-अलग श्रेणी के कॉटेज हैं. एक में 140 और दूसरे में 125 टेंट हैं. इन टेंटों को गंगा दर्शन विला, काशी सुइट, प्रीमियम और डीलक्स श्रेणियों में बांटा गया है. सभी का अलग अलग किराया रखा गया है. सबसे कम किराया डिलक्स का 4000 प्रति व्यक्ति है.

सबसे ज्यादा 20 हजार प्रति व्यक्ति गंगा दर्शन विला का किराया है. दो तरह का फिलहाल पैकेज है. एक रात दो दिन और दो रात तीन दिन का पैकेज बनाया गया है. दो रात तीन दिन के पैकेज में शहर के अन्य पर्यटक स्थलों जैसे बीएचयू और सारनाथ भी घूमाने की व्यवस्था की गई है.

बनारस आकर ऑफ लाइन बुकिंग के साथ ही http://www.tentcityvaranasi.com पर जाकर ऑनलाइन बुकिंग कराई जा सकती है. आइये जानें चारों सूइट्स में क्या है खासियत और अलग अलग किराया कितना है.

गंगा दर्शन विला

गंगा दर्शन विला में एक रात और दो दिन का किराया एक व्यक्ति का 20 हजार रुपए है. 900 स्क्वायर फीट के टेंट के अंदर कई खुबियां हैं. इसकी सबसे बड़ी खासियत प्राइवेट बीच है. जहां केवल आप ही जा सकते हैं. इसके अलावा लिविंग एरिया, प्लंग पूल, रजवाड़ी सोफा, डाइनिंग टेबल, लैंप के साथ स्टडी टेबल, ड्रेसिंग टेबल, मिनी फ्रिज, टीवी, रूम हीटर, बाथरूम में गीजर, वार्ड रोब, इंटरकाम आदि की सुविधा है. इसके अलावा आपको नाव से सभी घाट पर घूमाया जाएगा.

विश्वनाथ मंदिर में भी विशेष दर्शन और गंगा आरती के लिए भी लेकर जाएंगे. इसके अलावा शाम में कल्चरल प्रोग्राम में शिरकत कर सकेंगे. लाइव म्यूजिक के साथ डिनर की व्यवस्था रहेगी. गंगा स्नान फ्लोटिंग जेटी कुंड पर कर सकेंगे. यहां आप 15 हजार में भी रह सकते हैं. इसे बेड और ब्रेक फास्ट का नाम दिया गया है. इसमें शाम में गंगा आरती और कल्चरल प्रोग्राम में शामिल होने का मौका मिलेगा. सुबह फ्लोटिंग जेटी कुंड पर स्नान और ब्रेकफास्ट कर सकेंगे.

काशी सूइट्स

काशी सूइट्स गंगा दर्शन विला से थोड़ा छोटा है. 576 स्क्वायर फीट के इस टेंट में रहने का एक व्यक्ति का किराया एक रात और दो दिन का 12 हजार है. यहां पर भी आपको सुविधाएं तो लगभग गंगा दर्शन विला की तरह की मिलती हैं. केवल प्राइवेट बीच नहीं है. लिविंग एरिया और प्लंग पूल नहीं हैं. उसकी जगह सिटिंग एरिया दिया गया है. रजवाड़ी सोफा, डाइनिंग टेबल, लैंप के साथ स्टडी टेबल, ड्रेसिंग टेबल, मिनी फ्रिज, टीवी, रूम हीटर, बाथरूम में गीजर, वार्ड रोब, इंटरकाम आदि की सुविधा मिलती है.

यहां भी आपको नाव से गंगा घाटों पर घुमाया जाएगा. विश्वनाथ मंदिर और गंगा आरती में शामिल होने का मौका मिलेगा. बेड एंड ब्रेकफास्ट कैटेगरी में आप यहां 8500 में भी रह सकते हैं. इसमें केवल गंगा आरती और कल्चरल प्रोग्राम में शामिल होने की सुविधा मिलेगी. लंच और डिनर शामिल नहीं है.

प्रिमियम टेंट

प्रिमियम टेंट काशी सूइट्स से कुछ छोटे हैं. इन्हें 504 स्क्वायर फीट में बनाया गया है. यहां का एक दिन दो रात का किराए 10 हजार प्रति व्यक्ति है. यहां सुविधाएं काशी सूइट्स जैसी ही मिलती हैं. केवल सिटिंग एरिया नहीं है और किंग साइज बेड की जगह ट्वीन बेड लगाए गए हैं. यहां भी आपको नाव से गंगा घाटों पर घुमाया जाएगा.

विश्वनाथ मंदिर और गंगा आरती में शामिल होने का मौका मिलेगा. यहां आप बेड और ब्रेकफास्ट कैटेगरी में 6500 प्रति व्यक्ति के किराए में भी रह सकते हैं. इसमें लंच और डिनर शामिल नहीं होगा. केवल गंगा आरती और रात में कल्चरल प्रोग्राम में शामिल हो सकेंगे.

डिलक्स टेंट

डिलक्स टेंट 392 स्क्वायर फीट में बनाए गए हैं. यहां ट्वीन बेड की सुविधा मिलेगी. इसका एक दिन और दो रात का किराया 7500 रुपए है. यहां टीवी और फ्रिज जैसी सुविधाएं नहीं मिलती हैं. ट्वीट बेड लगाए गए हैं. सोफा, डायनिंग या सिटिंग एरिया जैसी जगह नहीं है.

यहां आपको नाव से गंगा घाटों पर घुमाया जाएगा. विश्वनाथ मंदिर और गंगा आरती में शामिल होने का मौका मिलेगा. यहां बेड और ब्रेकफास्ट कैटेगरी की कीमत 4000 प्रति व्यक्ति है. इसमें इसमें गंगा आरती और कल्चरल प्रोग्राम में शामिल होने का मौका मिलेगा.

Leave a Reply