तेजस्वी यादव ने ट्विटर पर वीडियो किया जारी, कहा- तीन दिन में अरेस्ट हो विधायक

by

Patna: बिहार के पूर्व डिप्टी सीएम और विपक्ष के नेता तेजस्वी यादव ने आज बिहार की कानून व्यवस्था पर सवाल करते हुए एक वीडियो ट्वीट किया है. गोपालगंज में 24 मई को हुई हत्या को लेकर नीतीश कुमार पर निशाना साधते हुए तेजस्वी ने कहा कि बिहार में विधायकों के आतंक को फैलने नहीं देंगे.

तेजस्वी यादव ने किया ट्वीट

तेजस्वी ने ट्वीट में लिखा, ” आदरणीय मुख्यमंत्री नीतीश कुमार जी, फिर एक बार आपके आतंकी MLA की बर्बरता से एक ही परिवार की 3 अर्थियां एक साथ उठी हैं. एकमात्र बचे घायल गवाह ने आपके MLA को नामित किया है. विनम्रता से कह रहे हैं अगर 3 दिन में इस आतंकी को गिरफ्तार नहीं किया गया तो आप समझियेगा. पुलिस उसे बचा रही है.”

दिन के अंदर विधायक को अरेस्ट करवाइए-तेजस्वी यादव

तेजस्वी यादव ने कहा कि जांच के नाम पर लीपापोती मत करवाइए और जनता की अदालत में ना ही लीपापोती का यह खेल अब और चलेगा. नागरिकों की जान इतनी सस्ती नहीं कि जब मर्जी आपके विधायक उन्हें सपरिवार मौत के घाट उतार दें. क्या आपने कभी समीक्षा की है लॉकडाउन में कानून व्यवस्था की क्या दुर्गति हुई है? हम आपके बाहुबली विधायकों को आतंक नहीं फैलाने देंगे. जल्द से जल्द 3 दिन के अंदर विधायक को अरेस्ट करवाइए.

क्या है मामला

बिहार के गोपालगंज में जेपी यादव के परिवार को सरेआम गोलियों से भून दिया गया था. जिसमें जेपी यादव के बुजुर्ग मां-बाप के बाद सोमवार को घायल भाई की मौत हो गयी. जबकि जख्मी जेपी यादव को इलाज के लिए पीएमसीएच पटना रेफर किया गया है. वहीं पुलिस ने इस मामले में जेपी यादव के बयान पर जेडीयू विधायक अमरेंद्र कुमार उर्फ पप्पू पांडेय, विधायक के बड़े भाई सतीश पांडेय, भतीजे जिला पार्षद अध्यक्ष मुकेश पांडेय के खिलाफ एफआईआर दर्ज कर सतीश पांडेय और मुकेश पांडेय को गिरफ्तार कर जेल भेज दिया.

पुलिस और ग्रामीणों के बीच झड़प

एक ही परिवार के तीन अर्थियां निकलते ही रूपनचक गांव में पुलिस और ग्रामीणों के बीच झड़प हुई. गोपालगंज के एसपी मनोज कुमार तिवारी ने बताया कि इस ट्रिपल मर्डर के आरोप में सतीश पांडेय और उसके बेटे जिला पार्षद के अध्यक्ष मुकेश पांडेय को गिरफ्तार कर लिया गया है. इन दोनों से पूछताछ करने के बाद जेल भेज दिया गया. जबकि जेडीयू विधायक अमरेंद्र पांडेय उर्फ पप्पू पांडेय के हथुआ स्थित आवास के बाहर पुलिस बल को तैनात कर दिया गया है.

चश्मदीद का क्या कहना है

विजय यादव, मृतक के भाई ने कहा कि मुकेश पांडेय अपने पांच कुख्यात अपराधियों के आये और अंधाधुंध फायरिंग करने लगे. यहां पर हमारे घर से सभी सदस्य थे, उनपर फायरिंग करने लगे. हमारा भाई तो सामाजिक कार्यकर्ता था. उनसे कोई विवाद था नहीं. अब रिजन क्या है मालूम नहीं, लेकिन राजनीतिक साजिश है.

गोपालगंज थानाध्यक्ष अशोक कुमार का कहना है कि सूचना हमको मिली कि रूपनचक गांव में अज्ञात अपराधी आये और एक परिवार के सदस्यों को गोली मारकर भाग गए. पुलिस तत्काल घटनास्थल पर पहुंची तो एक महिला और उनके पति की मौत हो चुकी थी.

किनकी हुई मौत

रूपनचक गांव के रहनेवाले महेश चौधरी (70) और इनकी पत्नी संकेशिया देवी (65) बतायी जा रही है. वहीं शांतनम चौधरी (36) और जेपी यादव (30) को घायल अवस्था में गोपालगंज सदर अस्पताल में लाया गया. जहां घायल की स्थिति गंभीर होने पर डॉक्टरों ने बेहतर इलाज के लिए मेडिकल कॉलेज गोरखपुर रेफर कर दिया है. घटना की वजह राजनीतिक साजिश बतायी जा रही है.

Categories Bihar

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.