Take a fresh look at your lifestyle.

मुस्लिम वोटरों को लुभाने के लिए Tejashwi Yadav ने खेला बड़ा दांव

0

Araria: बिहार के मुस्लिम वोटरों को लुभाने के लिए लालू प्रसाद यादव के छोटे बेटे तेजस्‍वी यादव ने बड़ा दांव खेला है. तेजस्‍वी यादव ने कहा है कि अगर पार्टी सत्‍ता में आती है तो वह अपनी सरकार में मुसलमानों को पर्याप्‍त प्रतिनिधित्‍व देंगे. बिहार में विधानसभा चुनाव को अभी एक साल से ज्यादा का समय है लेकिन मुख्य विपक्षी दल राजद ने मतदाताओं को लुभाना शुरू कर दिया है.

सीएम नीतीश पर तेजस्‍वी का तंज

तेजस्वी यादव ने बिहार के मुख्‍यमंत्री नीतीश कुमार के उपर भी तंज कसा. उन्होंने कहा कि, 2013 में बीजेपी से अलग होने वाले नीतीश कुमार ने 2014 के लोकसभा चुनावों में नरेंद्र मोदी के पीएम कैंडीडेट बनाए जाने का विरोध किया था, अब वे खुद बीजेपी के साथ खड़े हुए हैं.

बिहार के अररिया में अपनी यात्रा के दौरान जेएनयू छात्र संघ के नेताओं कन्हैया कुमार और उमर खालिद तेजस्वी यादव के साथ एक ही मंच पर दिखे थे. इस पर बोलते हुए तेजस्वी ने कहा कि, हमने कभी भी सांप्रदायिक ताकतों के खिलाफ कोई समझौता नहीं किया है.

तेजस्‍वी ने कहा- नीतीश से सावधान रहें मुसलमान

साथ में उन्होंने यह भी कहा कि विशेष रूप से मुसलमानों को नीतीश कुमार की चाल से सावधान रहना चाहिए. वह पटना से लगभग 300 किलोमीटर दूर अररिया में मुस्लिम नेता स्वर्गीय एमडी तस्लीमुद्दीन की याद में आयोजित एक समारोह में बोल रहे थे.

पूर्व केंद्रीय मंत्री और अररिया के सांसद तस्लीमुद्दीन का पिछले साल 11 मार्च को निधन हो गया था. जिसके बाद लोकसभा उपचुनाव कराए गए थे, इसमें उनके बेटे सरफराज ने राजद उम्मीदवार के रूप में संसदीय सीट जीती थी. यादव ने कहा, पृथ्वी पर कोई भी शक्ति हमारे दोनों परिवारों (यादव और तस्लीमुद्दीन के) के बीच सौहार्दपूर्ण संबंधों को खराब नहीं कर सकती है.

यादव ने भाजपा नेता गिरिराज सिंह पर निशाना साधते हुए कहा कि उन्होंने कहा था कि, अगर सरफराज आलम अररिया उपचुनाव जीतते हैं अररिया एक आतंकवादी केंद्र में बदल जाएगा. उन्होंने कहा कि, भाजपा ने नफरत फैलाने की कोशिश की थी, यह देश किसी की संपत्ति नहीं है. कन्हैया कुमार और उमर खालिद ने भी इस अवसर पर अपनी बात रखी. उन्होंने बिहार में नीतीश कुमार के नेतृत्व वाली एनडीए सरकार की विफलताओं पर जमकर हमला बोला.

कन्हैया कुमार ने कहा कि राज्य अपराधियों और असामाजिक तत्वों की चपेट में है. राज्य में AK47 राइफलें गर्म केक की तरह बेची जा रही हैं. इस कार्यक्रम में कांग्रेस के नेता अनुपस्थित रहे. भाजपा के बागी सांसद शत्रुघ्न सिन्ह ,पूर्व मुख्यमंत्री जीतन राम मांझी, वीआईपी पार्टी के मुकेश सहनी समते कई नेता इस कार्यक्रम में नहीं पहुंचे. बरारी राजद के विधायक नीरज यादव, जो अररिया जिले के राजद प्रभारी भी हैं, ने कहा, इस कार्यक्रम ने आगामी चुनावों के लिए बिगुल फूंक दिया है और हम इन चुनावों में सफल होने जा रहे हैं.

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More