तेजस्वी ने बिहार के लोगों को बाढ़ से लड़ने के लिए छोड़ दिया: तेज प्रताप

by

Patna: अपने छोटे भाई तेजस्वी यादव पर हमला तेज करते हुए तेजप्रताप यादव ने आरोप लगाया है कि तेजप्रताप यादव ने ऐसे समय में बिहार की जनता को छोड़ दिया है, जब बाढ़ ने राज्य के कई हिस्सों को तबाह कर दिया है दिल्ली चले गए हैं.

इस तरह के आरोप पहले सत्ता पक्ष द्वारा लगाए गए थे, लेकिन अब दो युद्धरत भाइयों के बीच प्रतिद्वंद्विता ने बिहार के एनडीए के नेताओं को एक नया एजेंडा दिया है.

तेजस्वी यादव राष्ट्रीय अध्यक्ष लालू प्रसाद के साथ पार्टी के मामलों पर चर्चा करने के लिए दिल्ली गए राजद में चल रही उथल-पुथल, जो तेज प्रताप यादव द्वारा पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह के खिलाफ बयानों के बाद शुरू हुई.

तेज प्रताप ने कहा, तेजस्वी यादव बिहार के लोगों को बाढ़ में संघर्ष करने के लिए छोड़ कर दिल्ली चले गए. उनका उनके सलाहकार संजय यादव ने ब्रेनवॉश किया, जिनकी सलाह पर तेजस्वी काम कर रहे हैं. हरियाणा के रहने वाले संजय यादव दिल्ली में एक मॉल बना रहे हैं. हर सदस्य नेता राजद के लोग उनके बारे में जानते हैं.

तेज प्रताप ने कई राजद नेताओं की तुलना महाभारत के पात्रों से भी की. उन्होंने दावा किया कि वह खुद पार्टी के कृष्णा हैं. उन्होंने तेजस्वी यादव को अर्जुन नाम भी दिया है.

दिलचस्प बात यह है कि तेज प्रताप जगदानंद सिंह शिशुपाल संजय यादव को दुर्योधन बता रहे हैं.

तेज प्रताप ने कहा, जैसे महाभारत में शिशुपाल द्वारा कृष्ण को गाली दी गई थी, वैसे ही मैं जगदानंद के अपशब्दों का शिकार हूं. लोग यह भी जानते हैं कि दुर्योधन कैसे मारा गया था. यह कृष्ण थे जिन्होंने दुर्योधन की जांघों पर हमला करने का सुझाव दिया था.

इससे पहले तेजस्वी यादव ने शुक्रवार को कहा था कि तेज प्रताप यादव उनके बड़े भाई हैं लेकिन उन्हें पार्टी के अनुशासन का पालन करना होगा. तेजस्वी ने कहा, हमारे माता-पिता ने हमें बड़ों का सम्मान करना सिखाया.

इस पर प्रतिक्रिया देते हुए तेज प्रताप ने कहा कि जगदानंद सिंह के माता-पिता ने उन्हें ऐसी सलाह नहीं दी, इसलिए वह राजद के गरीब नेताओं को अपमानित कर रहे हैं.

उन्होंने कहा कि कई नेताओं का कहना है कि पार्टी प्रमुख लालू प्रसाद पार्टी के हर विकास पर नजर रख रहे हैं.

तेज प्रताप ने कहा, अगर यह सच है तो लालू प्रसाद कौन सही कौन गलत में फर्क क्यों नहीं कर रहे हैं. अगर उन्हें पार्टी की चिंता है, तो वह गलत करने वालों के खिलाफ कार्रवाई क्यों नहीं कर रहे हैं. मैं दिल्ली जाऊंगा उनसे मिलूंगा. लालू प्रसाद द्वारा खुद कार्रवाई करने का समय आ गया है.

सूत्रों ने बताया है कि तेजस्वी यादव अपने बड़े भाई तेज प्रताप यादव से काफी खफा हैं. तेजस्वी ने कहा कि वह पार्टी की छवि बना रहे हैं तेज प्रताप इसे कीचड़ में घसीट रहे हैं. तेजस्वी तेज प्रताप यादव के खिलाफ सख्त कार्रवाई की मांग कर रहे हैं.

Categories Bihar

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.