हेमंत सरकार ने कोरोना काल में दिया जोर का झटका, झारखंड में पेट्रोल-डीजल पर टैक्स बढ़ाने का फैसला

by

Ranchi: कोरोना काल में लॉकडाउन में छूट के बाद महंगाई की मार झेल रहे लोगों पर हेमंत सरकार के फैसले के बाद महंगाई और ज्‍यादा बढ़ेगी. हेमंत सोरेन की सरकार ने बुधवार को कैबिनेट में प्रस्‍ताव पारित कर पेट्रोल-डीजल, आवास, समेत कई आश्‍वयक वस्‍तुओं में टैक्‍स बढ़ाने का फैसला लिया है.

बता दें कि लॉकडाउन में छूट के बाद टैक्‍सी, ऑटो रिक्‍शा, कैब जैसे पब्लिक ट्रांसपोर्ट को सोशल डिस्‍टेंसिंग के साथ चलने की छूट दी गई हैं. इस वजह से इनका किराया 2 से 10 गुनी पहले ही बढ़ी हुई हैं. पेट्रोल डीजल में बढ़ने के बाद एक ओर जहां आम लोगों के आवाजाही का किराया बढ़ सकता है. वहीं दूसरी ओर आश्‍वयक वस्‍तुओं का ट्रांसपोर्टिंग का किराया में भी बढ़ोतरी होगी. इससे जरूरी चीजों के दामों में भी इजाफा होगा. कृषि कार्य में भी इसका असर पड़ेगा और फलो, सब्जियों अनाज के दाम बढ़ेंगे.

हेमंत सरकार ने 2018 में रघुवर सरकार द्वारा पेट्रोल उत्पाद की कीमतों में आए उछाल के बाद जनता को दी गई छूट को अब वापस ले लिया है. सरकार ने पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर प्रति लीटर 2.50-2.50 रुपये की छूट दी थी. वाणिज्यकर विभाग ने बताया कि पेट्रोल पर 15 रुपये या 22 फीसदी दोनों में से जो ज्यादा होगा, उस पर वैट वसूला जाएगा. वहीं, डीजल पर 8.37 रुपये या 22 फीसदी दोनों में से जो ज्यादा होगा, उसे लिया जाएगा.

झारखंड में जहां डीजल की कीमत 66.07 रुपए थी, वो बढ़कर 66.83 रुपए हो जाएगा. वहीं पेट्रोल 71.24 रुपए से बढ़कर 73.24 रुपए हो जाएगा.

झारखंड सरकार ने सिर्फ पेट्रोल डीजल की किराया में बढोतरी नहीं की है, बल्कि एविएशन फ्यूल की कीमतों में भी बढ़ोतरी का निर्णय लिया है. सरकार ने 4 फीसदी वैट को बढ़ाकर 20 फीसदी कर दिया है.

झारखंड राज्य में खनन करने वाली कंपनियों को अब वैश्विक महामारी कोविड-19 टैक्स देना होगा. कोयला खनन का काम करने वाली कंपनियों को 10 रुपए प्रति एमटी (मीट्रिक टन) सेस देना होगा. लोह अयस्क पर पांच रुपए प्रति एमटी, बोक्साइड पर 20 रुपए, लाइम स्टोन पर 10 रुपए प्रति एमटी और मैंग्नीजस पर पांच रुपए प्रति एमटी के हिसाब से सेस देना होगा.

इधर झारखंड में पेट्रोल-डीजल पर वैट बढ़ाए जाने का विपक्षी दल बीजेपी ने कड़ा विरोध किया है. बीजेपी प्रदेश अध्यक्ष दीपक प्रकाश ने कहा कि कोरोना संकट के बीच लॉक्ड डाउन में व्यवसाय बंद होने से आम आदमी की आर्थिक स्थिति खराब है, ऐसे में पेट्रोल डीजल के दाम वृद्धि से महंगाई बढ़ेगी. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार द्वारा पेट्रोल-डीजल पर वैट बढ़ाए जाने का हम कड़ा विरोध करते हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.