Take a fresh look at your lifestyle.

तन्वी डोगरा ने &tv के ‘संतोषी मां- सुनाये व्रत कथायें’ में भक्त की भूमिका निभाने के लिये अपनाया व्रत का रास्ता

0

व्रत के काॅन्सेप्ट के पीछे धार्मिक कारण होते हैं, लेकिन सेहत को मिलने वाले कई सारे फायदों की वजह से अब यह दुनियाभर में काफी चर्चित हो गया है। आध्यत्मिक कनेक्शन इसकी एक वजह हो सकती है, वहीं इसके साथ जुड़ा सेहत का फायदा इसे कई लोगों को जीवनशैली के रूप में अपनाने के लिये प्रेरित करता है। टेलीविजन में कई सारी भूमिकाएं निभाने वालीं, अभिनेत्री तन्वी डोगरा नियमित रूप से फास्ट करने वाले क्लब से जुड़ने वाली नई सदस्य हैं और थोड़े-थोड़े अंतराल पर व्रत करने के अपने तरीके पर चल रही हैं। जल्द ही वह -ज्ट के नये सामाजिक-धार्मिक फिक्शन शो ‘संतोषी मां- सुनाये व्रत कथाएं’ में संतोषी मां की सबसे बड़ी भक्त का किरदार निभाने वाली हैं। तन्वी का कहना है कि व्रत की यह चुनौती लेना अपने किरदार की तैयारी करने का एक तरीका है।

दिल से आध्यत्मिक इंसान होने के कारण तन्वी पिछले दो सालों से धार्मिक कारणों की वजह से कभी-कभी व्रत रखती आ रही हैं। यह जानकर कि इससे सेहत को कई सारे फायदे मिलते हैं, तन्वी ने नियमित रूप से व्रत रखने की चुनौती ली, वह दिनभर में केवल एक बार खाना खाती हैं। व्रत को लेकर कई सारे मिथकों को तोड़ते हुए, तन्वी कहती हैं, ‘‘सबसे बड़ा मिथक जो मैंने सुना है कि व्रत रखना खुद को भूखा मारने जितना ही अच्छा है और मुझे लगता है कि यह गलतफहमी है। मेरे लिये व्रत का मतलब केवल खुद को खाने से दूर रखना नहीं है, बल्कि अपने दिमाग को पवित्र और किसी भी प्रकार की नकारात्मक सोच से दूर रखना है। किसी के भी दिमाग को तरोताजा और सकारात्मक रखते हुए, यह खुद को डिटाॅक्स करने की प्रक्रिया है।’’

किस तरह का रूटीन उन्होंने बनाया है, इस बारे में बताते हुए तन्वी कहती हैं, ‘‘मैंने हाल में थोड़े-थोड़े अंतराल पर नियमित रूप से व्रत करना शुरू किया है, जहां मैं अपने दिन की शुरुआत 10 मिनट ध्यान के साथ करती हूं। पूरे दिनभर में, मैं पानी की बोतल साथ-साथ लेकर चलती हूं और खुद को हाइड्रेट रखने के लिये खूब पानी पीती हूं। चूंकि, मैं काफी लंबे घंटे तक शूटिंग करती हूं, इसलिये मैंने फैसला किया है कि मैं लंच के समय सिर्फ एक बार खाऊंगी। इसमें मैं सेहतमंद, पोषण से भरपूर और पेट भरने वाला खाना खाती हूं, ताकि मैं काम करती रह सकूं।’’ व्रत की शुरुआत करने का कारण बताते हुए तन्वी आगे कहती हैं,‘‘ पहले इस किरदार को निभाने को लेकर मैं थोड़ी असमंजस में थी, क्योंकि मैं इस बात को लेकर बहुत आश्वस्त नहीं थी कि अपने अंदर के आध्यत्मिक इंसान को किस तरह दिखाऊंगी। व्रत के नियमों का पालन करने से कहीं ना कहीं मुझे इस किरदार में ढलने में मदद मिली, वहीं ध्यान करने से मुझे आध्यत्मिक रूप से जुड़े रहने में मदद मिली। यह एक चुनौती है और मुझे उम्मीद है कि बेहतर कर पाऊंगी।’’

ममता , शांति, त्याग, सद्भावना और संतोष की देवी के रूप में विख्यात संतोषी मां के पास काफी सारी गुप्त शक्तियां है और ऐसा माना जाता है कि वह ज्यादातर अपना समय धरती पर ही बिताती हैं, जहां वह भक्तों की मदद करती हैं। वही जादू एक बार फिर लेकर आ रहा है, संतोषी मां की एक नई कहानी के साथ कि किस तरह वह व्रत करने के सही कारणों और मान्यताओं को स्थापित करती हैं। साथ ही पूजा करने के सही तरीकों के बारे में बताती हैं। -ज्ट अपने नये सामाजिक-धार्मिक शो ‘संतोषी मां- सुनाये व्रत कथायें’ को लाॅन्च करने को पूरी तरह तैयार है। यह शो पूरी श्रद्धा के साथ भक्ति करने से सफलता मिलने का संदेश देती है। संतोषी मां के दैवीय किरदार में वापसी करेंगी, बाॅलीवुड अभिनेत्री ग्रेसी सिंह। वहीं उनकी सबसे बड़ी भक्त, स्वाति का किरदार तन्वी डोगरा निभा रहीं हैं।

‘संतोषी मां- सुनाये व्रत कथायें’ जल्द आ रहा है -ज्ट पर।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More