सुंदर पिचाई ने बताया गूगल पर “idiot” सर्च करने पर क्‍यों दिखती हैं ट्रंप की तस्‍वीरें

by

सर्च इंजन गूगल पर अचानक से अंग्रेज़ी के इडियट “idiot” शब्द को सर्च किया जाने लगा है. ऐसा इसलिए क्योंकि ख़बर आई कि गूगल में इसे सर्च करने पर अमरीका के राष्ट्रपति डोनल्ड ट्रंप की तस्वीरें दिखने लगती हैं. इस सर्च की बात गूगल के मुख्य कार्यकारी अधिकारी सुंदर पिचाई के साथ अमरीकी सांसदों की एक सुनवाई के दौरान उठी थी.

सुंदर पिचाई से पूछा गया था कि क्या ये गूगल के राजनीतिक पक्षपात का उदाहरण नहीं है जिससे पिचाई ने इनकार किया था. गूगल ट्रेंड्स के मुताबिक़, अभी “idiot” शब्द अमरीका में सबसे ज़्यादा सर्च किया जाने वाला शब्द है. इस सुनवाई में रिपब्लिकन सांसद ज़ो लोफ़्ग्रेन ने सुंदर पिचाई से पूछा कि गूगल में “idiot” टाइप करने पर राष्ट्रपति की तस्वीरें क्यों दिखने लगती हैं.

पिचाई से सांसदों की जिरह

इस पर पिचाई ने जवाब दिया कि गूगल के सर्च रिज़ल्ट अरबों कीवर्ड के आधार पर आते हैं जिन्हें दो सौ से भी अधिक कारणों के आधार पर रैंक किया जाता है जिनमें प्रासंगिकता और लोकप्रियता भी शामिल हैं.

उनका जवाब सुन सांसद लोफ़्रेगेन ने कहा, “यानी इसका मतलब ये नहीं है कि कोई छोटा आदमी किसी पर्दे के पीछे छिपकर ये तय करता है कि यूज़र को क्या परिणाम दिखाया जाए?”

रिपब्लिकन सांसदों ने पिचाई से काफ़ी जिरह की.

इनमें एक सांसद ने पूछा कि ऐसा क्यों है कि वो जब भी अपनी पार्टी के हेल्थ केयर बिल की ख़बर खोजते हैं तो उन्हें केवल नकारात्मक ख़बरें दिखाई देती हैं. इसके जवाब में पिचाई ने कहा कि ठीक इसी तरह लोग अगर गूगल शब्द को सर्च करते हैं तो उसी तरह की नकारात्मक ख़बरें पहले दिखती हैं.

गाने से जुड़े हैं Idiot के तार?

“idiot” शब्द और राष्ट्रपति ट्रंप की तस्वीरों का संबंध सबसे पहले इस साल सामने आया था. तब कुछ लोगों ने इसके तार इस साल जुलाई में ट्रंप के ब्रिटेन दौरे के समय हुए विरोध से जुड़े बताए. तब ब्रिटिश प्रदर्शनकारियों ने American Idiot नाम के एक गाने को ब्रिटेन में म्यूज़िक चार्ट में टॉप करवा दिया था. इसके बाद रेडिट वेबसाट पर यूज़र्स ने ऐसे आर्टिकलों की बौछार कर दी जिनमें ट्रंप की बगल में इडियट शब्द लिखा था.

ये वेबसाइट के सर्च इंजिन डेटाबेस को प्रभावित करने की एक कोशिश थी, जिसे “गूगल बॉम्बिंग” कहा जाता है. सुनवाई के दौरान ये भी पता चला कि कई सांसदों को तकनीकी दुनिया की बहुत ज़्यादा जानकारी नहीं है. वहाँ स्टीव किंग नाम के एक सांसद ने सुंदर पिचाई से पूछा कि उनकी पोती का आईफ़ोन अजीब तरह से क्यों चल रहा है. इसके जवाब में सुंदर पिचाई ने उन्हें समझाया कि आईफ़ोन गूगल ने नहीं बनाया.

साभार: बीबीसी

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.