Take a fresh look at your lifestyle.

झारखंड लोकसभा चुनाव 2019 की खास बातें

मतदाता सूची में 2,24,04,179 मतदाताओं के नाम किए गए दर्ज

0

Ranchi: 2019 के आम चुनाव को लेकर झारखंड में अंतिम रुप से 2,24,04,179 मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में दर्ज किए गए थे. इसमें पुरुष मतदातओं की संख्या 1,16, 98,304, महिला मतदाताओं की संख्या 1,06,65,268, थर्ड जेंडर के मतदाताओं की कुल संख्या 231, सेवा मतदाताओं की कुल संख्या 40376, ओवरसीज मतदाताओं की कुल संख्या 40 और नए मतदाताओं (18-19 साल के) की कुल संख्या 3,32,960 थी. नए मतदाताओं में पुरुषों की संख्या 1,98,217, महिलाओं की संख्या 1,34,324 और थर्ड जेंडर की संख्या 19 रही.

1,05,881 दिव्यांग मतदाताओं ने वोट किया

2014 के लोकसभा चुनाव में दिव्यांग मतदाताओं ने बढ़-चढ़कर हिस्सा लिया. भारत निर्वाचन आयोग द्वारा दिव्यांग मतदाताओं की सहूलियत के लिए मतदान केंद्रों पर व्हील चेयर, रैंप के साथ उन्हें घर से लाने-ले जाने के लिए मुफ्त वाहन की सुविधा उपलब्ध कराई गई थी. झारखंड में 1,24,377 दिव्यांग मतदाताओं के नाम मतदाता सूची में दर्ज थे, जिनमें 1,05,881 दिव्यांग मतदाताओं ने अपने मताधिकार का बखूबी इस्तेमाल किया. इसमें दिव्यांग पुरुष मतदाताओं की संख्या 64602 औऱ महिला दिव्यांग मतदाताओं की संख्या 41279 रही. दिव्यांग मतदाताओं के मतदान का प्रतिशत 85.12 रहा.

1,29,636 मतदान कर्मियों की रही भागीदारी

झारखंड में चार चऱणों में 14 सीटों के लिए हुए चुनाव में 1,29,636 मतदानकर्मियों को प्रतिनियुक्त किया गया था. सभी मतदान केंद्रों पर मतदान प्रक्रिया के सफल संचालन में इनका अहम योगदान रहा. इसके अलावा महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केंद्रों में महिला मतदानकर्मियों के साथ महिला सुरक्षाकर्मियों को तैनात किया गया था.

29,464 मतदान केंद्रों पर मतदाताओं ने किया मताधिकार

झारखंड में 14 लोकसभा सीटों के चुनाव के लिए कुल 29,464 मतदान केंद्र बनाए गए थे. ये मतदान केंद्र 20053 भवनों में अवस्थित थे.इन सभी मतदान केंद्रों पर शांतिपूर्ण एवं निष्पक्ष चुनाव कराने के लिए आर्म्ड पुलिस फोर्स की तैनाती की गई थी. इस बार चुनाव की खास बात रही कि किसी भी मतदान केंद्र में किसी भी तरह की कोई गड़बड़ी नहीं हुई.

1432 आदर्श मतदान केंद्र, 448 महिलाओं द्वारा संचालित मतदान केंद्र

2019 के आम चुनाव को लेकर झारखंड़ में 1432 आदर्श मतदान केंद्र बनाए गए थे. इसके साथ 448 मतदान केंद्र महिलाओं द्वारा संचालित थे. इन मतदान केंद्रों पर मतदाताओं की सहूलियत के लिए कई सुविधाएं मुहैय्या कराई गई थी.

2775 मतदान केंद्रों की वेबकास्टिंग

मतदान केंद्रों की गतिविधियों की निगरानी के लिए पुख्ता इंतजाम किए गए थे. इसके तहत 2775 मतदान केंद्रों की वेबकास्टिंग की गई, वहीं सभी मतदान केंद्रों पर चुनाव प्रक्रिया की निगरानी के लिए वीडियोग्राफी भी कराई गई. इसके अलावा माइक्रो प्रेक्षकों द्वारा भी मतदान केंद्रों की निगरानी की गई.

14 सामान्य, 29 व्यय और 12 पुलिस प्रेक्षक किए गए प्रतिनियुक्त

झारखंड के 14 लोकसभा सीटों के चुनाव को लेकर भारत निर्वाचन आय़ोग की ओर से 14 सामान्य प्रेक्षक, 29 व्यय प्रेक्षक औऱ 12 पुलिस प्रेक्षक नियुक्त किए गए थे. इसके अलावा 2207 माइक्रो प्रेक्षकों को भी प्रतिनियुक्त किया गया था.

मतदान को लेकर निगरानी हेतु 5 हेलीकॉप्टरों का भी इस्तेमाल किया गया और किसी भी तरह की आपातकालीन परिस्थिति के लिए एक एय़र एंबुलेंस की भी व्यवस्था की गई थी.

झारखंड के 14 सीटों के लिए 229 प्रत्याशियों ने आजमाई किस्मत –25 महिला प्रत्याशी

झारखंड में 14 सीटों के लिए कुल 229 प्रत्याशियों ने चुनाव में किस्मत आजमाई है. इनमें 25 महिला प्रत्याशी भी शामिल हैं. इनमें ए.आई.टी.सी के 6, बहुजन समाज पार्टी के 13, भारतीय जनता पार्टी के 13, सीपीआई के 3, सीपीआई एम के 1, भारतीय राष्ट्रीय कांग्रेस के 7, आजसू के 1, झारखंड मुक्ति मोर्चा के 4, झारखंड विकास मोर्चा (प्र) के 2 और राष्ट्रीय जनता दल के 2 प्रत्याशियों के अलावा मान्यता प्राप्त राजनीतिक दल ( मान्यता प्राप्त राष्ट्रीय व राज्यस्तरीय राजनीतिक दल के अलावा) के 81 और 95 निर्दलीय प्रत्याशी भी चुनाव मैदान में खड़ा हुए.

23 मई को मतों की गिनती की जाएगी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More