धनतेरस-दिवाली से पहले सोने के दाम में आएगा बड़ा बदलाव

दिवाली-धनतेरस तक सोने के दाम (Gold Price) 54,000 रुपये प्रति दस ग्राम पहुंच सकता है. ऐसा सोने के दाम का प्रीमियम में बड़ा उछाल आने से होने की आशंका है. दरअसल, घरेलू बाजार में सोने के दाम का प्रीमियम तीन महीने के उच्च स्तर पर पहुंचा गया है.

त्योहारों के कारण बढ़ी मांग को देखते हुए गोल्ड डीलर्स पिछले हफ्ते के एक डॉलर के मुकाबले अब सोने की कीमत पर पांच डॉलर प्रीमियम प्रति औंस वसूल रहे हैं. इसके साथ ही भारत में आयातित सोने पर 12.5% आयात शुल्क और तीन फीसदी जीएसटी भी लगता है. इससे आने वाले दिनों में सोने की कीमत में तेजी से बढ़ोतरी होने की उम्मीद है.

शुक्रवार को एमसीएक्स पर सोने का भाव 50,866 रुपये प्रति दस ग्राम और चांदी 62,425 प्रति किलो रही थी. वहीं, अगस्त में वायदा बाजार में सोने का भाव 56,200 रुपये और चांदी 80,000 रुपये पहुंच गया था.

ज्वैलर्स का मानना है कि इस त्योहारी सीजन पर माहौल पिछले साल जैसा तो नहीं रहेगा क्योंकि इस बार कोरोना वायरस ने स्थिति में काफी बदलाव किया है. हालांकि, पिछले कुछ महीनों से जो हालात थे, उसमें काफी सुधार आएगा. विजयदशमी से मांग में बढ़ोतरी का सिलसिला धनतेरश और दिवाली तक रहने वाला है.

54 हजार छू सकता है सोने का दाम

एंजेल ब्रोकिंग के कमोडिटी और करेंसी सेगमेंट के वाइस प्रेसिडेंट अनुज गुप्ता ने बताया कि कोरोना संकट के बाद से निवेशकों की पहली पसंद सोना बना हुआ है. इसका असर से सोने के भाव में तेजी जारी है.

जहां तक घरेूल सर्राफा बाजार की बात है तो इस बार अक्षय तृतीय के समय लॉकडाउन रहने के कारण सोने की खरीदारी बिल्कुल नहीं हो पाई. इसलिए त्योहारी सीजन में उम्मीद है कि लोग जमकर खरीदारी करेंगे.

दशहरा, करवाचौथ, धनतेरस और दिवाली में सबसे अधिक सोने के गहने की खरीदारी होता है. इसके चलते भारतीय बाजार में सोने की कीमत 53 से 54 हजार रुपये प्रति दस ग्राम जा सकता है. वहीं, अमेरिकी चुनाव को देखते हुए अंतरराष्ट्रीय बाजार में भी सोने की कीमत 1980 से 2000 प्रति औंस डॉलर तक पहुंच सकती है.

हल्के ज्वैलरी की हो रही बिक्री

मैनुवेल मालबार ज्वलैर्स के प्रबंध निदेशक एम मैनुवेल ने बताया कि नवरात्रि शुरू होने के साथ ही सोने की मांग में तेजी दर्ज की गई है. हम उम्मीद कर रहे हैं कि जैसे-जैसे करवाचौथ, धनतेरस और दिवाली नजदीक आएंगे मांग और बढ़ेगी. हालांकि, इस बार एक बड़ा बदलाव यह देखने को मिल रहा है कि सोने की बढ़ी कीमत के चलते लोग हल्के ज्वैलरी की खरीदारी कर रहे हैं. हम उम्मीद कर रहे हैं कि धनतेरस और दिवाली में भारी गहनों की मांग बढ़ेगी.

गोल्ड बांड के निवेशक सोने की खान पर बैठे

जिन निवेशकों ने पांच साल पहले सॉवरेन गोल्ड बांड का पहला इश्यू खरीदा था, उन्हें 90 फीसदी का रिटर्न हाथ लगा है. वे अगले महीने बांड से प्रीमैच्योर रिडेंप्शन कर सकते हैं. बांड का पहला इश्यू नवंबर 2015 में आया था तब कीमत 2,684 रुपए प्रति ग्राम तय की गई थी.

अभी गोल्ड बांड की कीमत 5,135 रुपए प्रति ग्राम है. इस तरह निवेशकों को जबरदस्त रिटर्न मिला है. इतना ही नहीं पहले इश्यू में 1 लाख रुपए निवेश करने वाले को सालाना 2.75 फीसदी की दर से 5 साल में कुल 13,750 रुपए का ब्याज भी मिला है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.