शराब के साथ सोडा या कोल्‍ड ड्रिंक्‍स आपको ले जाता है मौत के बेहद करीब

New Delhi: शराब (Liquor) पीने के लिए सोडे या कोल्ड ड्रिंक्स (Soda-Cold Drinks) का इस्तेमाल किया जाता है. भारतीय में ये काफ़ी लोकप्रिय है.

मानो लोग सोडे के बिना शराब (Alcohol without soda) पीने की कल्पना भी नहीं कर सकते. लेकिन क्या आपको पता है शराब को सोडा और कोक के साथ मिलाकर पीना आपको मौत के बेहद करीब ले जाता है.

शराब में Soda या Coke ही क्यों

सोडा या कोक (Soda-Coke) के साथ शराब पीने से शराब की कड़वाहट कम महसूस हो, इसलिए भारत में लोग सोडा, कोल्ड ड्रिंक, जूस और न जाने क्या-क्या मिलाकर शराब पिया करते हैं.

दरअसल सोडा आसानी से उपलब्ध है, यह सस्ता है और इसमें मिला हुआ कार्बन डाई ऑक्साइड अल्कॉहल (Carbon Dioxide Alcohol ) को बुलबुले वाला खूबसूरत टेक्स्चर देता है. और तो और, सोडे में मिला कार्बन डाई आक्साइड (Carbon Dioxide) हमारे खून में घुलकर हमें नशे का तुरंत एहसास कराता है. शायद यही वजह है कि शराब के साथ सोडा भारत में इतना चलन में है.

शराब के साथ सोडा खतरनाक क्यों

सोडे में फास्फोरिक एडिड (Phosphoric Adid) भी होता है, जो शरीर में मौजूद कैल्शियम का क्षरण करता है और बाद में यह कैल्शियम यूरीन (Calcium Urine) के रास्ते शरीर से बाहर निकलता जाता है. कैल्शियम के इस तरह घुलकर शरीर से निकल जाने से हमारी हड्डियां वक्त के साथ नर्म पड़ते हुए कमजोर होने लगती हैं.

Cold Drink भी नुकसानदायक

कोल्ड ड्रिंक में Soda के अलवा चीनी बहुत ज्यादा मात्रा में होती है. यह हमारे खून में शुगर के लेवल को बहुत ज्यादा बढ़ा देता है. इसके अलावा, शुगर की वजह से हमारे शरीर द्वारा एल्कॉहल को सोखने की प्रक्रिया धीमी पड़ने लगती है.

एक स्टडी के मुताबिक, बिना कुछ मिलाए शराब पीने वालों के मुकाबले में सॉफ्ट ड्रिंक मिलाकर पीने वालों में ब्लड एल्कॉहल कॉन्सनट्रेशन 18 % (Blood Alcohol Concentration 18%) ज्यादा पाई गई. इन Cold Drinks में कैफीन भी काफी होती है.

एल्कॉहल और कैफीन (Alcohol-Caffeine) विपरीत ढंग से काम करती हैं। एल्कॉहल जहां लोगों को सुस्त बनाती है, वहीं कैफीन सुस्ती को खत्म करते हुए नींद भगाने में मदद करती है। ऐसे में कैफीन और शराब, दोनों एक साथ शरीर में जाना बेहद नुकसानदायक है। जानकार मानते हैं कि नियमित तौर पर कोल्ड ड्रिंक के साथ शराब पीने वालों को डीहाईड्रेशन और हैंगओवर की समस्याएं भी हो सकती हैं।

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.