Take a fresh look at your lifestyle.

सिल्ली मेरी कर्मभूमि और विचारों की जननी है, चूल्हा प्रमुख इसे थाम लें: सुदेश

0

Ranchi: आजसू पार्टी (AJSU Party) के केंद्रीय अध्यक्ष सुदेश कुमार महतो (Sudesh Kumar Mahto) ने कहा है कि सिल्ली (Silli) मेरी कर्मभूमि है और विचारों की जननी है. सिल्ली के एक-एक घर को उन्होंने परिवार समझा और बनाया. रिश्ते की इस डोर को कोई तोड़ तो नहीं सकता, लेकिन गांठ डालने की कोशिशें की गई. हमने बड़े ही जतन और मेहनत के साथ गांव-गांव जाकर जनसंवाद किया है. नए सफर पर चलने के लिए सबकी बातें सुनी है. पांच साल में सिल्ली ने विपरीत परिस्थतियों का सामना किया है. इसे बदलने के लिए ही चूल्हा प्रमुखों के हाथों अहम जिम्मेदारी सौंपी है. समय बिल्कुल नजदीक है. एक पल गंवाये बिना चूल्हा प्रमुख अपनी महती जिम्मेदारी के साथ सिल्ली को थाम लें.

आज सिल्ली स्टेडियम (Silli Stadium) में चूल्हा प्रमुखों के सम्मेलन (Chulha Pramukh Sammelan) में वे बोल रहे थे. इसमें 48 पंचायत के 481 गांवों के चूल्हा प्रमुख और पार्टी कार्यकर्ताओं, और बुद्धिजीवियों के बड़ा जुटान को देखकर सुदेश कुमार महतो भावुक भी हुए. उन्होंने कहा कि पांच सालों में सिल्ली का विश्वास कुचला गया. जनभावना की अनदेखी की गई. साथ ही विकास के पहिया को रोक कर रखा गया.

श्री महतो ने कहा कि आज आपकी बारी है. शपथ लेकर मुहिम पर निकलें कि जो दायित्व आपको मिलेगा उसे निभाने में आप कोई कसर नहीं छोड़ेंगे. सिल्ली इसलिए अलग है क्योंकि यही मेरा अयोध्या है जहां आपलोगों ने मुझे वनवास दिया. और उस वनवास को मैंने सहृदय स्वीकार किया. जबकि इन 5 सालों में बहुत काम होने थे. 

इस बार, बुद्धिजीवी मेरे मुख प्रचारक होगें, इसकी जिम्मेदारी यहां आए हुए 4 हजार बुद्धिजीवीयों को लेना होगा, एक दूसरे का सम्मान करिए, आजसू के विचारों को जन जन तक पहुँचाने का काम आपसबों को करना होगा, इसलिए अबकी बार गाँव की सरकार.

उन्होने कहा कि सिल्ली की तस्वीर तो बदली जा सकेगी. आपका साथ लेकर भविष्य भी संवार लेंगे. लेकिन हम सभी ने पांच साल का वक्त खोया है. यह दर्द आपके और हमारे सीने में ताउम्र रहेगा.

इसके साथ ही सुदेश कुमार महतो हमें खुशी है कि हर गाँव, हर परिवार में उन पलों से बाहर निकलने के लिए नए सिरे से कारवां में शामिल हो चुका है. सिल्ली की इमारत ऐसी और ताकत इतनी हो कि यह पूरे राज्य का भार संभालने में सक्षम हो. इसलिए नेतृत्व बदलने का समय आ गया है.

श्री महतो ने कहा कि नेता सिर्फ माहौल बनाता है. लेकिन वोट तो सिर्फ कार्यकर्ता ही दिलाता है. अब हमरे पार्टी की राजनीति की परिपाटी बदली है. जीत का श्रेय कार्यकर्ता और चूल्हा प्रमुख को ही मिलेगा. उससे पहले रायशुमारी करेंगे. उसकी बात पहले सुनी जाएगी.

केंद्रीय प्रवक्ता डा देवशरण भगत ने सम्बोधित करते हुए कहा सिल्ली के विकास की शक्ति को सिल्ली की आवाम की खुशियों को कुछ लोगों ने रोकने का प्रयास किया है, अब कोई ताकत उनके बुझे हुए चेहरे में मुस्कान लाने के लिए रोक नहीं सकता है, कोई भी घर का चूल्हा बुझे नहीं इसकी शपथ आज लेने की आवश्यकता है, आजसू सभी को जोड़कर नया झारखंड बनाने की बात करती है कुछ लोग धर्म और जाति के नाम पर बांटने की राजनीति करते हैं ऐसे पार्टी और लोगों को पहचानने की जरूरत है.

बुद्धिजीवी मंच के केंद्रीय अध्यक्ष डोमन सिंह मुंडा ने सम्बोधित करते हुए कहा सिल्ली की बेटियों की मुस्कुराहट पुनः वापस लाने के लिए, सिल्ली विधानसभा को सँवारने के लिए, पूरे विधानसभा से आए हुए बुद्धिजीवी मंच के सभी साथी माननीय सुदेश कुमार महतो जी को भारी मतों से जिताने की प्रतिज्ञा लेते है.

पूर्व झामुमो नेता मनोज चटर्जी ने कहा 12 दिसंबर में केला के बटन को इतना दबाइए कि 23 दिसंबर को विरोधियों के होश उड़ जाए. 

सम्मेलन का संचालन केंद्रीय सचिव सुनील सिंह तथा धन्यबाद ज्ञापन जिप सदस्या वीणा देवी ने की. मौके पर मुकुंद मेहता, सुकरा मुंडा, जयपाल सिंह, चितरंजन महतो, संजय सिद्दार्थ, सुशील महतो, श्याम महतो, गौतम कृष्णा साहू, रजिया खातुन, वीणा मुंडा, रेखा देवी, लम्बोदर महतो, विजय चंद्र महतो, प्रफुल्य कुम्हार, जितेन्द्र नाथ बड़ाईक, रंग बाहादुर महतो, शंकर बेदिया, भरत देव साई समेत सभी जॉन के पदाधिकारी गण उपस्थित थे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More