शरद पवार ने रांची में रैली कर एनसीपी में जान फूंकने की कोशिश की, धोनी को लेकर कही बड़ी बात

by

Ranchi: महाराष्‍ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री शरद पवार ने कहा है कि भाजपा के हाथ में हुकूमत जाने के बाद देश में सांप्रदायिक जहर बढ़ रहा है. किसान आंदोलन कर रहे हैं. प्रधानमंत्री को विदेश जाने की फुर्सत है, पश्चिम बंगाल जाने के लिए फुर्सत है, लेकिन 20 किमी दूर पर मौजूद किसानों से मिलने की फुर्सत नहीं है. वे आज रांची के हरमू मैदान में आयोजित राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की जनसभा को संबोधित कर रहे हैं.

शरद पवार ने कहा कि बिरसा की धरती पर आना मेरे लिए गौरव की बात है. उन्‍होंने क्रिकेट को इस ऊंचाई पर पहुंचाने के लिए धौनी को क्रेडिट दिया. कहा कि राहुल द्रविड़ कप्तानी छोड़ने आए तो मैंने सचिन तेंदुलकर को कप्तानी स्वीकारने के लिए कहा लेकिन उन्होंने धौनी का नाम सुझाया. मुझे गर्व है कि मैं धौनी की धरती पर आया हूं.

मराठा क्षत्रप पवार ने कहा कि यूरोप में कोविड की समस्या बढ़ रही है और इधर देश में भी बढ़ रही है. ऐसी समस्या में जिम्मेदारी सरकार की होती है. महाराष्ट्र की तरक्की में झारखंड, बिहार, मध्यप्रदेश और उत्तरप्रदेश के लोगों की मेहनत का योगदान है. उन्‍होंने सवाल पूछते हुए कहा कि मोदी ने क्या किया. भाजपा के कार्यकर्ताओं से कहा कि थाली बजाओ और लोगों को जागरूक करो. हम थाली बजाने वाले नहीं, थाली में खाना कैसे जुटे उसकी चिंता करते हैं.

पश्चिम बंगाल में एक महिला को जिसे लोगों ने मुख्यमंत्री बनाया, उसके खिलाफ केंद्रीय एजेंसियों का प्रयोग कर रहे हैं. इनके हाथ में सत्ता नहीं आए, यह हमें सुनिश्चित करना है. रैली के बाद शरद पवार ने रांची के धुर्वा स्थित पार्टी के ऑफिस में प्रेस कांफ्रेंस किया. यहां उन्‍होंने कहा कि वे पश्चिम बंगाल चुनाव में ममता बनर्जी को साथ देने पर विचार कर रहे हैं. कहा कि भाजपा असदुद्दीन ओवैसी के कारण जीत रही है. कमलेश सिंह झारखंड के हुसैनाबाद विधानसभा क्षेत्र से विधायक हैं. राष्‍ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के इस राज्‍यस्‍तरीय कार्यक्रम में पार्टी के नेता मौजूद हैं. इससे पूर्व आज वे रांची पहुंचे. उनके साथ विधायक कमलेश सिंह भी मौजूद हैं. जनसभा को संबोधित करने के बाद वे रांची धुर्वा स्थित पार्टी के ऑफिस में प्रेस कांफ्रेंस करेंगे. बताया जा रहा है कि वे शाम को मुख्‍यमंत्री हेमंत सोरेन से भी मुलाकात कर सकते हैं. देर शाम उनका मुंबई वापस लौटने का कार्यक्रम है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.