शाहजहांपुर रैली : हम पूछते रह गये, वो अविश्वास का कारण भी नहीं बता पाये और गले पड़ गये – पीएम मोदी

by

News Highlights

Read Also  Modi 2.0: 7 राज्यों की विधानसभा चुनाव के पहले कैबिनेट में बड़े बदलाव की तैयारी

Shahjahanpur : उत्तर प्रदेश के शाहजहांपुर रैली में प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने गन्ना किसानों और उनके समर्थन मूल्य को लेकर कई बातें कही. उन्होंने कहा कि गन्ने से बना एथनॉल पेट्रोल में मिक्स किया जाता है. 160 करोड़ लीटर एथनॉल उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है. प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कछुए की चाल से काम होने के चलते गन्ना किसानों के पैसे फंसे हुए हैं.

live updates

-हम पूछते रह गये, वो अविश्‍वास का कारण नहीं बता पाये और गले पड़ गये

-हमारा निरंतर प्रयास है कि गन्ना किसान की एक-एक पाई उस तक समय पर पहुंचे. पुरानी सरकारों ने दशकों से जो व्यवस्थाएं बना रखी थीं, जो गठजोड़ बना रखे थे, उनको तोड़ा जा रहा है. पहले की सरकारों ने जो हज़ारों करोड़ का बकाया छोड़ रखा था उसको निश्चित समय सीमा में निपटाया गया : पीएम मोदी

-चीनी के आयात पर 100% शुल्क लगाया गया है, 20 लाख टन चीनी निर्यात करने की अनुमति दे दी गयी है और चीनी के लिए एक न्यूनतम मूल्य तय किया गया है ताकि चीनी मिल नुकसान का बहाना ना बना पाएं. प्रति क्विंटल पर 5.50 रुपये की अतिरिक्त मदद सीधे किसानों के खाते में जमा की जा रही है : पीएम मोदी

-प्रधानमंत्री ने कहा- किसान में वो ताकत होती है, अगर उसे पानी मिल जाए, तो वह मिट्टी से सोना निकाल सकता है.

– आज जो किसानों के लिए घड़ियाली आंसू बहा रहें है उनके पास भी ये काम करने का मौका था लेकिन उनके पास किसानों के लिए कार्य करने की फुर्सत नहीं थी : पीएम मोदी

-चीनी के लिए न्यूनतम मूल्य तय किया गया.

-160 करोड़ लीटर एथनॉल उत्पादन का लक्ष्य रखा गया है.

-धीमे फैसले से किसानों का पैसा फंसा

– पीएम मोदी ने कहा- हमारी सरकार ने यह फैसला किया है कि देश के गन्ना किसानों को गन्ने पर लागत मूल्य के ऊपर लगभग 80% सीधा लाभ मिलेगा. धान, मक्का, दाल और तेल वाली 14 फसलों के सरकारी मूल्य में 200 रुपये से 1800 रुपये कि बढ़ोतरी देश के इतिहास में कभी नहीं हुई है.

-कुछ दिन पहले कुछ गन्ना किसान मुझसे मिलने दिल्ली आये थे और मैंने उनसे कहा था कि जल्द ही गन्ना किसानों को एक खुशखबरी सुनने को मिलेगी और वही वादा निभाने मैं शाहजहांपुर आया हूं : पीएम मोदी

– शाहजहांपुर रैली में प्रधानमंत्री ने अपना भाषण शुरू किया

– किसान रैली से ठीक पहले दिल्ली एटीएस ने बरेली जिले के बहेड़ी से एक आतंकी को गिरफ्तार किया है. खबरों के मुताबिक, आंतकी शाहबाज दुबई में नौकरी करता था. उसके आतंकी गतिविधियों में संलिप्त होने के कारण उसे दिल्ली एटीएस ने उठाया है. इस गिरफ्तारी से दिल्ली से लेकर लखनऊ तक इंटेलिजेंस एजेंसी और पुलिस में खलबली मची हुई है.

– शाहजहांपुर में 36 डिग्री तापमान उमस भरी गर्मी के बीच शनिवार को होने जा रही प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की किसान कल्याण रैली के लिए बड़ी संख्या में लोग पहुंच रहे हैं. गजब का उत्साह देखा जा रहा है. करीब 8 जिलों के किसान, तमाम योजनाओं के लाभान्वित व्यक्ति और भाजपा कार्यकर्ता रैली स्थल पर पहुंच चुके हैं. मैदान पर कुछ ही देर में तिल रखने की भी जगह नहीं बचेगी.

तीन तलाक पीड़िता निदा खान से मिलेंगे

अपने शाहजहांपुर दौरे के दौरान प्रधानमंत्री तीन तलाक का शिकार हुई निदा खान से मिलेंगे. निदा के खिलाफ बरेली के मौलाना द्वारा फतवा भी जारी किया गया है. केंद्रीय मंत्री मुख्तार अब्बास नकवी की बहन फरहत नकवी इस दौरान निदा खान के साथ रहेंगी. दोनों महिलाओं इस कार्यक्रम में शामिल होने के लिए बरेली से बीजेपी विधायक राजेश कुमार मिश्रा द्वारा आधिकारिक न्यौता दिया है.

Read Also  झारखंड में पहाड़िया जनजाति के दरवाजे पर विकास की दस्तक

1 दिन पूर्व हुई बारिश का असर इस मैदान पर साफ देखने को मिल रहा है. यहां पंडाल के अंदर भी कीचड़ जैसे हालात है, ऊपर मैट डाली गई है, उसके बाद ही पानी भरा हुआ है. 2 मंच बनाए गए हैं, जिसमें एक मुख्य और दूसरा मंच सांस्कृतिक मंच बनाया गया है. रैली स्थल पर तीन पंडाल बनाए गए हैं, जिसमें बैठने के लिए भारी भीड़ है, लोगों को लाइन लगानी पड़ रही है. अंदर तक जाने के लिए मंच पर गोंडा के भाजपा नेता काव्य पाठ कर रहे हैं.

11:11 बजे प्रदेश के मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य, केंद्रीय मंत्री संतोष गंगवार, ब्रज क्षेत्र के अध्यक्ष रजनीकांत, सिंचाई मंत्री धर्मपाल सिंह, लखीमपुर के सांसद अजय मिश्र टेनी, धौराहरा कि सांसद रेखा वर्मा पहुंच चुकी हैं.

Read Also  #InternationalDayOfYoga : कोरोना संक्रमण के बीच योग के लिए उत्‍साह

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.