सरयू राय ने मुख्य सचिव को पत्र लिख सीआईडी में कागजात नष्ट किए जाने की जताई आशंका

by

Ranchi: झारखंड के कार्यवाहक मुख्यमंत्री रघुवर दास को झारखंड विधानसभा चुनाव में हराकर चर्चा में आए पूर्व मंत्री सरयू राय ने सीआइडी में अहम कागजात व फाइलें नष्ट किए जाने की आशंका जताई है. इस संबंध में उन्होंने गुरुवार को मुख्य सचिव डीके तिवारी को पत्र लिखा है. पत्र में उन्होंने कहा है कि पुलिस विभाग के स्पेशल ब्रांच और सीआइडी में अहम कागजात नष्ट किए जा रहे हैं.

राय ने पत्र में कहा कि संबंधित विभाग के कुछ अधिकारी फाइलों को घर भी ले गये हैं. इन विभागों और सचिवालय पर विशेष ध्यान देने का आग्रह किया है.

साथ ही कहा है कि विश्वस्त सूत्रों से यह जानकारी मिली है कि पुलिस विभाग के स्पेशल ब्रांच और सीआईडी प्रभागों में कई महत्पूर्ण सूचनाओं से संबंधित कागजातों और फाइलों को नष्ट किया जा रहा है.

इसमें गृह विभाग के अंतर्गत आने वाले इन विभागों में रखी गई अनौपचारिक सूचनाएं एवं जांच प्रतिवेदन शामिल हैं. इसी प्रकार भवन निर्माण विभागए पथ निर्माण विभाग एवं उर्जा विभाग में भी महत्वपूर्ण सूचनाओं से संबंधित फाइलों को नष्ट किया जा रहा है.

उन्‍होंने मुख्‍य सचिव से इन सूचनाओं के आलोक में आवश्यक कार्रवाई की अपेक्षा जताई है. उन्‍होंने अनुरोध किया है कि मंत्रिमंडल निगरानी विभाग के अधीन कार्यरत एसीबी आदि से संबंधित मामलों के निष्पादन की कार्रवाई नहीं हो.

नए मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण की तिथि 29 दिसंबर निर्धारित की गई है इसलिए मुख्यमंत्री सचिवालय कार्यालय को तत्काल प्रभाव से मात्र कार्यवाहक कार्यालय तक ही सीमित रहने का निर्देश आपके स्तर से दिया जाना चाहिए. किसी प्रकार के नीतिगत विषयों पर निर्णय लेने से परहेज करना चाहिए.

रघुवर पर लगाया जासूसी कराने का आरोप

इससे पहले मीडिया से बातचीत में सरयू राय ने आरोप लगाया था कि रघुवर दास मेरी जासूसी कराते थे. 24 घंटे स्पेशल ब्रांच के अफसर मेरी जासूसी करते थे. कौन मुझसे मिलने आता हैं. मैं कहां आता-जाता हूं, इसकी जानकारी के लिए जासूस लगाये गये. एकबार मैं राजभवन में राज्यपाल से मिलने गया तो बाहर एक व्यक्ति संदिग्ध स्थिति में अपने मोबाइल फोन से रिकॉर्डिंग कर रहा था.

जब मैने पूछा तो उन्होंने खुद को स्पेशल ब्रांच का ऑफिसर बताया. उसने यह भी कहा कि एडीजी साहब का आदेश है. मैं संथाल परगना गया तो वहां भी एक अधिकारी आकर रिकॉर्डिंग कर रहा था. ऐसी परिस्थिति में आवाज उठाने के अलावा किसी व्यक्ति के पास क्या विकल्प बचता है. ऐसे कई भ्रष्ट ऑफिसर हैं जो इनके भ्रष्टाचार में भागीदार हैं. मैं सबके काले कारनामे उजागर करूंगा.

रघुवर को हराकर चुनाव जीते सरयू

रघुवर कैबिनेट में खाद्य आपूर्ति मंत्री रहे सरयू राय ने विधानसभा चुनाव के दौरान भाजपा से इस्तीफा दे दिया था. इसके बाद उन्होंने निर्दलीय उम्मीदवार के रूप में जमशेदपुर पूर्वी से रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ा और करीब 16 हजार मतों से हराकर विधायक बने. सरकार में मंत्री रहते हुए वह कई मुद्दों पर रघुवर कैबिनेट के फैसलों का विरोध करते रहे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.