हेमंत सोरेन के लिए ढाल बने सरयू राय, रघुवर दास के पीछे पड़े हाथ धोकर

हेमंत सोरेन के लिए ढाल बने सरयू राय, रघुवर दास के पीछे पड़े हाथ धोकर

Ranchi: सरयू राय, यह नाम जब भी आता है झारखंड बिहार के दो पूर्व मुख्‍यमंत्री मधु कोड़ा और लालू यादव के भ्रष्‍टाचार और उनके जेल की सजा सब याद करते हैं. झारखंड विधानसभा चुनाव 2019 में सरयू ने अपपनी सरकार के मुख्‍यमंत्री रघुवर दास के खिलाफ चुनाव लड़ा. इसके बाद सरयू बागी तेवर लगातार देखा जा रहा है और अब वह हेमंत सोरेन पर लगे भ्रष्‍टाचार के आरोपों पर ढाल बनकर चुनाव प्रचार कर रहे हैं.

पूर्वी जमशेदपुर में दूसरे चरण का चुनाव खत्‍म होने के बाद से सरयू राय हेमंत सोरेन और झारखंड मुक्ति मोर्चा के उम्‍मीदवारों के लिए चुनाव प्रचार कर रहे हैं. तीसरे और चौथे चरण के चुनाव खत्‍म होने के बाद वह अब अंतिम चरण के चुनाव प्रचार में अपनी पूरी ताकत लगा दी है.

Read Also  रामकुमार दीपक बने जीडीएस संघ के प्रमंडलीय सचिव

सरयू राय अब तक संताल में हेमंत के लिए चुनावी सभा की है. इस दौरान सरयू राय हेमंत सोरेन के विरोधियों को मुंहतोड़ जवाब देते आ रहे हैं. चुनावी मैदान में सरयू हेमंत के लिए ढाल बनकर खड़े हैं.

सरयू राय चुनाव प्रचार में न केवल मंच साझा कर रहे हैं, बल्कि झामुमो के प्रेस कांफ्रेंस में भी शामिल हो रहे हैं. झामुमो द्वारा आयोजित एक प्रेस कांफ्रेंस में सरयू राय हेमंत सोरेन के बचाव करते दिखे.

सरयू ने प्रेस कांफ्रेंस में कहा कि सीएनटी-एसपीटी का उल्‍लंघन अनियमितता में आता है, न कि भ्रष्‍टाचार में. ये मामले अभी तक हेमंत पर साबित नहीं हुए हैं. उन्‍होंने कहा कि हेमंत सोरेन सरकार की अनियमितताओं की जांच के लिए मुख्‍यमंत्री ने एसआईटी बनाया. दो-ढाई साल बाद एसआईटी को बंद कर दिया गया. एसआईटी ने जो रिपोर्ट दिया वह सबको पता है.

Read Also  रांची में डांडिया नाइट का जोश, लोगों की फरमाइश पर बदलते गए गीत

सरयू राय ने मीडिया को बताया कि मेरी शिकायत पर बिजली विभाग में गड़बड़ी की जांच के लिए अनिल पाल्‍टा की अध्‍यक्षता में एसआईटी बनी. जांच के बाद उन्‍होंने अपनी रिपोर्ट में बताया कि धड़ल्‍ले से कैसे बिजली चोरी हो रही है. जमशेदपुर के आसपास खूब बिजली चोरी हो रही है.
सरयू राय ने कहा कि मैने नाम देकर बताया कि कौन बिजली चोरी कर रहा है. मीटर की जांच कराने को कहा. लेकिन आज तक नहीं हुआ. 850 करोड़ के टेंडर में गड़बड़ी भी हुई. इसके पीछे कौन है. इस सवाल को आगे भी ले जाएंगे.

उन्‍होंने कहा कि इन सब गड़बडि़यों को लेकर मैंने मुख्‍यमंत्री से भी मुलाकात की थी और सबूत के साथ अपनी बात रखी थी. सरयू ने बताया कि मैने सीएम से मिलकर कहा कि आपका खान विभाग है. आपके इस विभाग में 1 अप्रैल 2017 से 31 दिसंबर 2017 तक धड़ल्‍ले से अवैध खनन हो रही है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

Scroll to Top