सचिन तेंदुलकर ने निवेश के लिए अनएकेडमी के साथ मिलाया हाथ

by

Mumbai: देश के सबसे बड़े शिक्षण मंच अनएकेडमी ने आज दिग्गज क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर के साथ रणनीतिक साझेदारी करने का एलान किया. इस साझेदारी का उद्देश्य अनएकेडमी के लर्नर्स को संपूर्ण शिक्षण प्रदान करना है.

इस साझेदारी के तहत सचिन तेंदुलकर लाइव इंटरएक्टिव कक्षाओं की एक सीरीज का संचालन करेंगे, जो लर्नर्स के लिए अनएकेडमी के प्लेटफॉर्म पर निशुल्क उपलब्ध होगी. इसके साथ ही अनएकेडमी के ब्रांड एंबेसडर के रूप में सचिन तेंदुलकर की एंट्री हो गई है.

अनएकेडमी ग्रुप के को-फाउंडर और सीईओ गौरव मुंजाल कहते हैं, ‘‘अनएकेडमी में हमने हमेशा ही शिक्षा को सभी लोगों के लिए उपलब्ध कराने और पारंपरिक तौर-तरीकों से अलग एक संपूर्ण शिक्षण प्रदान करने पर ध्यान केंद्रित किया है. सचिन का जीवन और उनका अब तक का सफर भी रास्ते की तमाम दुर्गम बाधाओं के बावजूद अपने मजबूत संकल्प के साथ लगातार आगे बढ़ते रहने का प्रतीक है. इस साझेदारी के साथ सचिन अपने जीवन के सबक अनएकेडमी के लर्नर्स के साथ साझा करेंगे और उन्हें ट्रेनिंग देने का प्रयास करेंगे और इस तरह अनएकेडमी के लर्नर्स के लिए यह सीखने का एक बेजोड़ अनुभव साबित होगा. हम एक गहरी और शिक्षण सामग्री आधारित साझेदारी विकसित करने पर काम कर रहे हैं, जिसके बारे में और अधिक जानकारी आने वाले महीनों में हो सकेगी.’’

दिग्गज पूर्व क्रिकेटर और चेंजमेकर सचिन तेंदुलकर कहते हैं, ‘‘मैंने हमेशा खेल की शक्ति को एक ऐसे माध्यम के रूप में समझा है, जो न केवल लोगों को एकजुट करता है, बल्कि ऐसे अमूल्य सबक भी देता है, जो लोगों के लिए उनके जीवन के किसी भी क्षेत्र में मददगार साबित हो सकते हैं. मेरा हमेशा से यही प्रयास रहा है कि मैं खेलों से जुड़े अपने अनुभवों को प्रतिभाशाली नौजवानों के साथ शेयर करूं और उन्हें कुछ ऐसी प्रेरणा दे सकूं कि वे अपने आपको एक बेहतर प्रतिभा के तौर पर पेश कर सकें. एक लर्निंग प्लेटफॉर्म के तौर पर अनएकेडमी ने देश के किसी भी हिस्से में रहने वाले लोगों के लिए लर्निंग को सुलभ बनाया है और इस तरह भौगोलिक दूरियों को पाटने का प्रयास किया है. जब मैंने देखा कि अनएकेडमी का विजन भी मेरे विजन से मेल खाता है, तो हमने लर्निंग के तौर-तरीकों को एक अनूठा अनुभव बनाने के लिए मिलकर साथ काम करने का फैसला किया.’’

साझेदारी के एक हिस्से के रूप में अनएकेडमी ने सचिन के साथ मिलकर स्पोर्ट्स लर्निंग श्रेणी में एक प्रभावी कंटेंट-लेड इंटीग्रेशन विकसित किया है, जिसकी विस्तृत जानकारी अगले कुछ महीनों में सामने आएगी.

व्यापक रूप से क्रिकेट के इतिहास में सबसे महान क्रिकेटरों में से एक के रूप में प्रतिष्ठित सचिन तेंदुलकर ने नवंबर 2013 में मुंबई के वानखेड़े स्टेडियम में वेस्टइंडीज के खिलाफ अपना 200 वां टेस्ट मैच खेलने के बाद संन्यास ले लिया था. उन्होंने नवंबर 1989 में कराची में चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान के खिलाफ 16 साल की उम्र में टेस्ट क्रिकेट में अपने कदम रखे और अपने 24 साल के लंबे करियर के दौरान दो बार भारत की कप्तानी की.

सचिन को 2014 में तत्कालीन राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी ने देश के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार ‘भारत रत्न’ से सम्मानित किया था. अपने रिटायरमेंट के बाद से ‘द मास्टर ब्लास्टर’ और ‘गॉड ऑफ क्रिकेट’ यानी सचिन एक परोपकारी और निवेशक-उद्यमी की भूमिका में सक्रिय हैं. साथ ही, एक सकारात्मक और अधिक जीवंत भारत बनाने की दिशा में प्रयास करने वाले लाखों-करोड़ों युवाओं के लिए भी उन्होंने प्रेरक की भूमिका निभाई है.

अनएकेडमी ग्रुप के बारे में

अनएकेडमी एक एजुकेशन टैक्नोलॉजी प्लेटफॉर्म है, जिसकी स्थापना 2015 में गौरव मुंजाल, रोमन सैनी और हेमेश सिंह ने की थी. इसे 2010 में गौरव मुंजाल द्वारा एक यूट्यूब चैनल के रूप में शुरू किया गया था. बेंगलुरू में मुख्यालय वाला अनएकेडमी भारत का एक ऐसा शिक्षण मंच है जो लाखों शिक्षकों को उन विद्यार्थियों के साथ एक मंच पर लाता है, जिन्हें गुणवत्तापूर्ण शिक्षा की आवश्यकता है. 49,000 से अधिक पंजीकृत शिक्षकों और 5,000 शहरों में 14 भाषाओं में 40 मिलियन से अधिक शिक्षार्थियों के साथ अनएकेडमी भारत के सीखने के तौर-तरीकों को बदल रहा है. अनएकेडमी समूह में अनएकेडमी, प्रेपलेडर, कोडशेफ, मास्ट्री और ग्राफी शामिल हैं. कंपनी को टाइगर ग्लोबल, ड्रेगोनियर इनवेस्टमेंट ग्रुप, सॉफ्टबैंक विजन फंड 2, फेसबुक, जनरल अटलांटिक, सिकोइया इंडिया, एसएआईएफ पार्टनर्स, नेक्सस वेंचर पार्टनर्स, स्टीडव्यू कैपिटल और ब्लूम वेंचर्स जैसे प्रमुख निवेशकों का समर्थन हासिल है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.