रांची में 70 साल पुराना दुर्गा पूजा बंद कराने का आदेश, मंदिर भी हटाने को कहा

Ranchi: रांची रेलवे स्टेशन के पास 17 वर्षों से हो रही दुर्गा पूजा को रोकने का फरमान रेलवे ने जारी किया है. रेलवे रांची के एसएसई ऑफिस ने आरपीएफ को पत्र लिखकर कहा कि रेलवे परिसर में बिना अनुमति के दुर्गा पूजा पंडाल बन रहा है जिससे तुरंत रोके.

पत्र 3 अगस्त को जारी किया गया है. इस पर सांसद संजय सिंह ने कहा कि हिम्मत है तो डीआरएम रोक कर दिखाए. इधर कोलकाता से आए कलाकार 20 दिन से पूजा पंडाल का निर्माण कर रहे हैं. लगभग आधा बन चुका है. इस साल पंडाल पर करीब 3000000 खर्च हो रहा है. पंडाल का थीम मशरूम क्लाउड है. अब पूजा में करीब 50 दिन शेष रह गए हैं.

Read Also  रांची में डांडिया नाइट की धूम, बाजार में बढ़ी लहंगा की डिमांड 

ज्ञात हो कि पहले पूजा पंडाल रांची रेलवे स्टेशन के मुख्य गेट के ठीक सामने बनता था. लेकिन स्टेशन के विस्तारीकरण से तत्कालीन डीआरएम द्वारा 2018 में पीछे शिफ्ट कर दिया गया था.

रांची रेलवे स्टेशन दुर्गा पूजा समिति के अध्यक्ष मुनचुन राय ने कहा कि 70 सालों से दुर्गा पूजा हो रही है. 2018 में तत्कालीन डीआरएम ने ही यहां पूजा के लिए जगह आवंटित किया था. अचानक पूजा पंडाल के निर्माण को रोकने का आदेश जारी करना सही नहीं है.

रांची डीआरएम प्रदीप गुप्ता ने कहा कि हम पंडाल बनाने से नहीं रोक रहे हैं. पर नियम के तहत परमिशन ले. हम परमिशन देंगे. अस्थाई तौर पर कोई स्ट्रक्चर खड़ा नहीं होने दिया जाएगा. स्टेशन डेवलपमेंट प्रोजेक्ट के तहत जहां दुर्गा पूजा होती है, उस रोड का चौड़ीकरण होना है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.