Take a fresh look at your lifestyle.

झारखंड: पहला कोरोना पॉजिटिव मिलने के बाद रांची जिला प्रशासन हुआ और सतर्क

0 265

Ranchi: झारखंड में कोरोना से संक्रमित पहला मरीज रांची में पाए जाने के बाद उपायुक्त रांची ने वरीय पुलिस अधीक्षक और सदर अनुमंडल पदाधिकारी रांची के साथ प्रेस कॉन्फ्रेंस की. प्रेस कॉन्फ्रेंस में उपायुक्त जिला दंडाधिकारी राय महिमापत रे ने संक्रमित मरीज के बारे में विस्तार से जानकारी दी.

मलेशिया की रहने वाली है महिला

प्रेस कॉन्फ्रेंस में उपायुक्त ने बताया कि आज दोपहर 3:30 बजे झारखंड में कोरोना के पहले मामले की पुष्टि की गई. उन्होंने बताया कि यह मलेशियन महिला 16 मार्च की शाम को राजधानी एक्सप्रेस से दिल्ली से रांची आई थी और 17 मार्च को रांची पहुंची. महिला ने राजधानी एक्सप्रेस के B1 कोच में ट्रेवल किया था.

उन्होंने बताया संक्रमित महिला ए सिमटोपोटिक है, स्क्रीनिंग से संक्रमण की जानकारी नहीं मिल सकती थी. जानकारी मिलने के बाद पुलिस प्रशासन द्वारा इस महिला को क्वॉरेंटाइन फैसिलिटी में रखा गया. महिला की जांच कराई गई जिसके बाद यह महिला कोरोना से संक्रमित पाई गई.

इसे भी पढ़ें: कोरोना के खिलाफ जंग के लिए मठ-मंदिरों ने खोले खजाने

B1 में सफर किया तो खुद दें जानकारी

श्री रे ने लोगों से अपील की है कि जिन लोगों ने B1 कोच में ट्रेवल किया, वह खुद सामने आए और अपनी जानकारी जिला प्रशासन को दें. जिन लोगों ने B1 कोच में या आसपास के कोच में होते हुए टॉयलेट आदि का इस्तेमाल किया वह एहतियातन अपनी जांच कराएं. ऐसे व्यक्ति 1950 या उपायुक्त के मोबाइल नंबर पर जानकारी दे सकते हैं.

उन्होंने कहा कि रेलवे द्वारा यात्रियों की लिस्ट मांगी गई है अगर लोग खुद सामने आते हैं तो 6 से 8 घंटे का वक्त बचेगा.

इसे भी पढ़ें: दूसरे राज्‍यों से झारखंड पहुंचे सैकड़ों लोग रामगढ़ में क्‍यूरोंटाइन

सोशल मीडिया पर अफवाह ना फैलाएं

उपायुक्त रांची ने बताया जिला प्रशासन पूरी तरह से मुस्तैद है. सोशल मीडिया के अफवाहों पर ना जाएं जिला प्रशासन द्वारा वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए पूरे प्रयास किए जा रहे हैं 20 से ज्यादा टीमें स्क्रीनिंग में लगी है. हिंदपीढ़ी में होम स्क्रीनिंग की जाएगी और उसके बाद उस इलाके से आउटवार्ड स्क्रीनिंग की जानी है.

संक्रमित महिला के संपर्क में आने वालों की होगी जांच

उपायुक्त ने बताया कि संक्रमित महिला के संपर्क में आने वालों की जांच कराई जाएगी. जो लोग महिला के संपर्क में आए हैं, ज़िला प्रशासन का सहयोग करते हुए खुद निकल कर सामने आए, लिस्ट बनाकर उनकी जांच कराएगी जाएगी.

हिंदपीढ़ी थाना क्षेत्र में कर्फ्यू

प्रेस कॉन्फ्रेंस में उपायुक्त रांची ने बताया के वायरस के संक्रमण की रोकथाम के लिए हिंदपीढ़ी थाना क्षेत्र में कर्फ्यू लगा दिया गया है. किसी को आवश्यक वस्तुओं की जरूरत है तो वह हेल्पलाइन नंबरों पर संपर्क कर सकता है.

मीडिया का धन्यवाद

प्रेस कॉन्फ्रेंस में उपायुक्त श्री राय महिमापत रे ने मीडिया का भी धन्यवाद किया. उन्होंने कहा कि मीडिया का रोल सराहनीय रहा है, पुष्टि होने के बाद ही किसी तथ्य को प्रकाशित या प्रसारित किया गया, यह अहम पहलू है. उन्होंने मीडिया कर्मियों से अपनी सुरक्षा पर भी ध्यान देने की अपील की.

सोशल मीडिया में अफवाह फैलाने पर कानूनी कार्रवाई-एसएसपी

प्रेस कॉन्फ्रेंस में वरीय पुलिस अधीक्षक अनीश गुप्ता ने बताया कि वायरस के संक्रमण से रोकथाम सामाजिक जिम्मेदारी है.

उन्होंने कहा कि वायरस का संक्रमण जाति, धर्म, लिंग देख कर नहीं आता. जो लोग सोशल मीडिया पर अफवाह फैला रहे हैं, सामाजिक कटुता फैला रहे हैं उनके खिलाफ कड़ी कानूनी कार्रवाई की जाएगी.

हिंदपीढ़ी के मस्जिद से विदेशी नागरिकों मिलने के मामले में उन्होंने कहा कि फॉरेन एक्ट और वीजा रूल्स के तहत उन पर कार्रवाई की जाएगी. लोगों से लॉक डाउन का पालन करने की अपील करते हुए उन्होंने कहा कि वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए यह जरूरी है, लोग इसे गंभीरता से लें, जो लोग लॉक डाउन का उल्लंघन कर रहे हैं, उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.