रामलला बुलेट प्रूफ अस्थाई फाइबर मन्दिर में शिफ्ट होंगे

by

Ayodhya: जन्म भूमि पर विराजमान रामलला अपने भाइयों समेत बुलेट प्रूफ अस्थाई फाइबर मन्दिर (Bullet Proof Ram Mandir) में राम नगरी के ऐतिहासिक चैत रामनवमी मेले के पूर्व शिफ्ट हो जाएंगे. रामलला के नए अस्थाई मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा में मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) शामिल होंगे.

रामलला के नए अस्थाई मंदिर के प्राण प्रतिष्ठा कार्यक्रम में शरीक होने के लिए मुख्य मंत्री योगी आदित्यनाथ का कार्यक्रम गुरुवार को जारी हुआ है जिसमें बताया गया है कि वह 24 मार्च को अयोध्या में रात्रि प्रवास कर 25 मार्च को रामनवमी (25 March 2020 Ramnavami) के प्रथम दिन राम लला के अस्थाई नए मंदिर में रामलला का दर्शन पूजन करेंगे.

श्री राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की पहली बैठक 4 अप्रैल को

श्री राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट की अयोध्या में पहली बैठक कार्तिक पूर्णिमा मेले के बाद 4 अप्रैल को होगी. इस बैठक में जन्मभूमि पर राम मंदिर निर्माण को लेकर शिलान्यास के तिथियों पर चर्चा की जा सकती है. अयोध्या विवाद में सुप्रीम कोर्ट के फैसले के बाद केंद्र सरकार की ओर से जन्मभूमि पर भव्य राम मंदिर निर्माण के लिए श्री राम जन्म भूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट का गठन किया गया है.

ट्रस्ट की दिल्ली में आयोजित पहली बैठक में श्री राम जन्मभूमि और श्री कृष्ण जन्म भूमि न्यास के अध्यक्ष और मणिराम दास छावनी के महंत नृत्य गोपाल दास को ट्रस्ट का अध्यक्ष और विश्व हिंदू परिषद के अंतरराष्ट्रीय उपाध्यक्ष चंपत राय को ट्रस्ट का महासचिव तथा पीएम मोदी के खास नौकरशाह नृपेंद्र मिश्र को राम मंदिर निर्माण समिति का चेयरमैन चुना गया है. पदाधिकारियों के चयन के बाद राम मंदिर निर्माण समिति के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्र अयोध्या का दौरा कर चुके हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.