Raksha Bandhan 2018: बहनों को नहीं दें गिफ्ट का सामान #GiftASkill

#GiftASkill : महिला अधिकारिता की दिशा में एक प्रयास करते हुए पेट्रोलियम और प्राकृतिक गैस, कौशल विकास और उद्यमिता मंत्री श्री धर्मेन्द्र प्रधान ने अपील की है कि Raksha Bandhan 2018 के अवसर पर भाई अपनी बहनों को ‘हुनर उपहार में दें’. धर्मेन्द्र प्रधान ने, देश के आर्थिक विकास में महिलाओं के योगदान के महत्व पर जोर देते हुए यह अपील अपने सोशल मीडिया एकाउंट में जारी एक वीडियों में की है.

हुनर उपहार में देकर बहनों को करें आत्‍मनिर्भर

रक्षाबंधन के शुभ अवसर पर, मैं कामना करता हूं कि प्रेम और विश्वास का बंधन हम सभी को सदा बांध कर रखे. रक्षा बंधन न सिर्फ एक रस्म है बल्कि बहन की रक्षा करने, और जीवन की अनिश्चिताओं से उसे बचाने का पवित्र वादा है. बदलते समय के साथ बहन की रक्षा के प्रति हमारी समझ भी नई कल्पनाओं से भरी होनी चाहिए.

Read Also  रांची में हनुमान मंदिर घुसकर मूर्ति तोड़ी, पुलिस ने बिना जांचे आरोपी रमीज को बताया विक्षिप्‍त

1490596248_WxV3fv_skill-development

बहन को आर्थिक दृष्टि से आत्मनिर्भर बनाकर, उसे निर्भरता के बंधन से निकाल कर, हुनर उपहार में देकर उसकी रक्षा की जा सकती है. हालांकि महिलाएं हमेशा से अर्थव्यवस्था में योगदान देती रही हैं लेकिन उनके श्रम का अधिकांश हिस्सा आर्थिक गणना में शामिल नहीं किया जाता है. अतः उनका कार्य दिखाई नहीं देता और दर्जा कम हो जाता है. अब समय आ गया है कि जब हमें इस स्थिति को बदलना चाहिए क्योंकि महिलाओं की सफलता में ही राष्ट्र की सफलता है.

रक्षा बंधन पर धर्मेंद्र प्रधान की  #GiftASkill कीअपील

मैं आज आपके पास एक अपील के साथ आया हूं. इस वर्ष अपनी बहनों को सामान के बजाय हुनर उपहार में दें जिसका भावनात्मक मूल्य होगा और उसे अधिकार संपन्न बनाया जा सकेगा. किसी कौशल कार्यक्रम में उसे भर्ती कराने के लिए उसकी फीस का भुगतान करें. उसे कौशल परामर्श केन्द्र ले जाएं. आज निजी और सरकारी दोनों क्षेत्रों में अनेक अवसर हैं – उसे इनका पता लगाने के लिए प्रोत्साहित करें. उसकी रूचि पता लगाएं जिससे वह सम्मानपूर्ण जीवन जी सके. जिम्मदारी के मिशन को आज ही हाथ में लें. इस कार्य को न केवल अपने परिवार की बहनों के लिए बल्कि उस बहन के लिए भी हाथ में लें जो आपके घर में नौकरानी है, आपके ड्राइवर की पत्नी, सब्जी बेचने वाली, उसकी बेटियां हैं जो हमारी तरह विशेष अधिकार प्राप्त नहीं हैं उन्हें ज्ञान, उम्मीद, संभावनाओं का उपहार दें.

Read Also  36th national games 2022 उद्घाटन समारोह में पीएम के सामने बिना ब्‍लेजर मार्च पास्‍ट करेगी झारखंड टीम

Mauritius PM meet Petroleum Minister Dharmendra Pradhan

नये भारत, जिसकी माननीय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने कल्पना की है, मैं महिलाओं को आर्थिक विकास के केन्द्र में रखा गया है. आइए एक हुनरमंद, सक्षम और आत्मनिर्भर कार्यबल का निर्माण करने के लिए मिलकर कार्य करें जिसमें हमारी बहनों को अग्रिम मोर्चे पर रखा जाए. इस रक्षा बंधन में हुनर उपहार में दें और आजीवन अपनी बहन की रक्षा करें.

लोग इस अपील पर अपनी पहल और टिप्पणियां हैशटैग #GiftASkill का इस्तेमाल करते हुए पोस्ट कर सकते हैं. यह महिलाओं को अधिकार संपन्न बनाने, कार्यबल में उनकी भागीदारी बढ़ाने और युवाओं को आवश्यक हुनर देने के लिए सरकार द्वारा उठाए गए कदमों की श्रृंखलाओं में इजाफा है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.