लालू प्रसाद के चिट्ठी का जवाब देना छोड़ रघुवंश प्रसाद सिंह ने लिखा सीएम नीतीश कुमार को पत्र

by

Patna: बिहार में इस साल होने वाले विधानसभा चुनाव के पहले राष्ट्रीय जनता दल (RJD) में हलचल तेज है. पार्टी के अध्यक्ष लालू प्रसाद यादव (Lalu Prasad Yadav) को चिट्ठी भेजकर पार्टी से इस्तीफा दे चुके पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश प्रसाद सिंह (Raghuwansh Prasad Singh) ने बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (Nitish Kumar) को पत्र भेजकर कुछ मांगें रखी हैं. इससे पहले लालू प्रसाद ने भी रघुवंश के इस्तीफे के बाद गुरुवार को उन्हें पत्र लिखा था, लेकिन रघुवंश ने अब तक उसका कोई जवाब नहीं दिया है.

रघुवंश के पत्र में झारखंड और रांची का जिक्र

पूर्व केंद्रीय मंत्री रघुवंश ने बिहार के मुख्यमंत्री को पत्र लिखकर कहा है कि वैशाली गणतंत्र की जननी है. उन्होंने पत्र में मुख्यमंत्री से आग्रह किया है कि वे 15 अगस्त को पटना में और 26 जनवरी को वैशाली में राष्ट्रध्वज फहराने का फैसला करें. उन्होंने इसके लिए 2000 के पहले झारखंड बंटवारे का जिक्र करते हुए कहा है कि तब 26 जनवरी को रांची में झंडोत्तोलन होता था.

इसके अलावे रघुवंश ने मनरेगा से जुड़े कार्यो में भी कुछ बदलाव की मांग की है. रघुवंश प्रसाद ने भगवान बुद्ध का पवित्र भिक्षापात्र अफगानिस्तान से वैशाली लाने की भी मांग रखी है. रघुवंश ने पत्र में कहा कि वे इस मुद्दे को लोकसभा में भी उठा चुके हैं.

लालू प्रसाद को रघुवंश प्रसाद सिंह का पत्र

उल्लेखनीय है कि कल रघुवंश प्रसाद सिंह ने लालू प्रसाद को एक पत्र लिखा था, जिसमें उन्होंने कहा था, कर्पूरी ठाकुर के निधन के बाद 32 सालों तक आपके पीठ के पीछे खड़ा रहा, लेकिन अब नहीं.

उन्होंने पत्र में लोगों से माफी मांगते हुए आगे लिखा था, पार्टी, नेता, कार्यकर्ता और आमजन ने बड़ा स्नेह दिया, क्षमा करें. सूत्रों का कहना है कि RJD से इस्तीफा दिए जाने के बाद बीजेपी और JDU के कई नेता रघुवंश सिंह से संपर्क में हैं.

लालू प्रसाद यादव ने जेल से लिखा रघुवंश प्रसाद यादव को पत्र

इस पत्र के बाद बिहार की सियासत गर्म हो गई है. इसके बाद लालू प्रसाद ने जेल से ही रघुवंश को पत्र लिखकर ‘डैमेज कंट्रेाल’ में जुट गए.लालू प्रसाद ने पत्र में लिखा, आपकी तरफ से कथित तौर पर लिखी एक चिट्ठी मीडिया में चलाई जा रही है. मुझे तो विश्वास ही नहीं होता. अभी मेरे, मेरे परिवार और मेरे साथ मिलकर सिंचित राजद परिवार आपको शीघ्र स्वस्थ होकर अपने बीच देखना चाहता है.

पत्र में लालू ने आगे लिखा, चार दशकों में हमने हर राजनीतिक, सामाजिक और यहां तक कि पारिवारिक मामलों में मिल-बैठकर ही विचार किया है. आप जल्द स्वस्थ हो जाएं, फिर बैठकर बात करेंगे. आप कहीं नहीं जा रहे हैं, समझ लीजिए.

रघुवंश और लालू दोनों अस्‍पताल में हैं भर्ती

फिलहाल रघुवंश प्रसाद सिंह स्वास्थ्य कारणों से दिल्ली एम्स में इलाजरत हैं, जबकि चारा घोटाले में सजा काट रहे लालू प्रसाद स्वास्थ्य कारणों से रांची के रिम्स में हैं.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.