Take a fresh look at your lifestyle.

Nigeria के प्रतिनिधिमंडल को CM Raghubar Das ने बताया- 4 सालों में 100% ODF हुआ Jharkhand

0

Ranchi: Jharkhand के मुख्यमंत्री Raghubar Das ने कहा है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की सोच को झारखंड सरकार साकार कर रही है. प्रधानमंत्री ने पूरे देश में स्वच्छ भारत मिशन कार्यक्रम को लागू किया है. झारखंड सरकार केंद्र सरकार के साथ कदम से कदम मिलाकर स्वच्छ भारत मिशन के तहत संपूर्ण झारखंड को खुले में शौच मुक्त करने का कार्य किया है.

Like पर Click करें Facebook पर News Updates पाने के लिए

मुख्‍यमंत्री ने कहा कि राज्य की बहू बेटियां सम्मान की जिंदगी जिए इसके लिए राज्य सरकार ने मिशन मोड में हर घर में शौचालय बनाने का कार्य किया है. साल 2014 से पहले झारखंड मात्र 18 फीसदी खुले में शौच मुक्त राज्य था. लेकिन, वर्तमान सरकार गठन के बाद पिछले 4 सालों में झारखंड राज्य को शत-प्रतिशत (100% ODF) खुले में शौच मुक्त बनने का गौरव प्राप्त हुआ है.

Raghubar Das ने कहा कि राज्य को पूर्ण ODF करने में झारखंड की मेहनतकश एवं ईमानदार महिलाओं का महत्वपूर्ण योगदान रहा है. राज्य की रानी मिस्त्रीयां, जल सहिया एवं महिला स्वयं सहायता समूहों की दीदियों के अथक प्रयास का ही परिणाम है कि आज पूरा झारखंड ODF (100%) हो चुका है.

मुख्यमंत्री Raghubar Das यह  बातें झारखंड मंत्रालय में Nigeria से भारत भ्रमण पर आए 36 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल को संबोधित करते हुए कहीं.

महिला सशक्तिकरण के लिए सरकार प्रतिबद्ध

मुख्यमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा महिला सशक्तिकरण की दिशा में सकारात्मक कार्य किए गए हैं. राज्य सरकार ने झारखंड में मुख्यमंत्री सुकन्या योजना प्रारंभ की है. इस योजना का मुख्य उद्देश्य यही है कि बेटियों के जन्म के बाद से ही उनके पढ़ाई लिखाई में सरकार सहारा बन सके.

उन्होंने कहा कि बेटियों के जन्म लेने पर मां के बैंक खाते में 5000 की सहायता राशि उपलब्ध कराई जा रही है. उसी प्रकार पहली कक्षा में नामांकन के बाद ₹5000 की सहायता राशि दी जा रही है. पांचवी कक्षा, आठवीं कक्षा, दसवीं कक्षा एवं 12वीं कक्षा उत्तीर्ण होने पर 5-5 हजार की सहायता राशि सरकार उपलब्ध कराएगी. बच्चियों के अट्ठारह वर्ष पूर्ण होने पर 10 हजार की सहायता राशि तथा अगर उनकी शादी होती है तब राज्य सरकार ₹30 हजार की अनुदान राशि बच्चियों के खाते में सीधे डीबीटी के माध्यम से देगी. इस योजना का लाभ परिवार में दो बच्चियों को मिल सकेगा.

मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में सुदूरवर्ती क्षेत्रों में रहने वाली महिलाओं में शिक्षा की कमी होने के कारण बाल विवाह जैसी चुनौतियां व्याप्त हैं. ग्रामीण क्षेत्रों में महिलाओं को जागरुक करके ही इन चुनौतियों को समाप्त किया जा सकेगा. राज्य सरकार महिलाओं के सर्वांगीण विकास के लिए प्रतिबद्धता के साथ कार्य कर रही है. मुख्यमंत्री ने कहा कि राज्य में महिलाएं संपत्ति का मालकिन बन सके इसलिए महिलाओं के नाम पर एक रुपए में 50 लाख तक की संपत्ति का रजिस्ट्री कराया जा रहा है. इस योजना का लाभ अभी तक 1 लाख 20 हजार से ज्यादा महिलाओं को मिल चुका है. महिलाएं अब सशक्त और आत्मनिर्भर हुई हैं.

2022 तक किसानों की आय दोगुना करेंगे

मुख्यमंत्री Raghubar Das ने कहा कि राज्य में मुख्यमंत्री कृषि आशीर्वाद योजना का शुभारंभ किया गया है. इस योजना के तहत राज्य के 22 लाख से भी अधिक किसानों को कृषि कार्य के लिए सालाना प्रति एकड़ ₹5000 की अनुदान राशि दी जा रही है. इस योजना का लाभ 5 एकड़ तक के भूमि धारक किसान ले सकेंगे. बीज खाद के लिए किसानों को किसी से ऋण लेने की आवश्यकता नहीं पड़ेगी. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी का सपना है कि वर्ष 2022 तक किसानों कि आय को दोगुना करना है. राज्य सरकार द्वारा गांव गरीब और किसान के लिए कई विभिन्न जनकल्याणकारी योजनाओं को भी प्रतिबद्धता के साथ धरातल पर उतारने का कार्य किया गया है.

झारखंड में हो रहा विकास प्रभावित करता है

Nigeria से आए प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री के समक्ष झारखंड भ्रमण के अनुभवों को साझा किया. प्रतिनिधि मंडल द्वारा मुख्यमंत्री को जानकारी दी गई कि 36 सदस्य टीम को भारत भ्रमण के दौरान झारखंड आने का सौभाग्य प्राप्त हुआ.

प्रतिनिधिमंडल ने कहा कि झारखंड सरकार द्वारा राज्य में बहुत ही सराहनीय कार्य हो रहे हैं. प्रतिनिधिमंडल राज्य के हजारीबाग जिले का भ्रमण कर चुकी है. प्रतिनिधिमंडल ने स्वच्छ भारत मिशन के तहत हुए कार्यों की जमकर सराहना की.

प्रतिनिधिमंडल के लोगों ने मुख्यमंत्री से कहा कि राज्य में रानी मिस्त्रीयों द्वारा शौचालय निर्माण कार्य की बारीकियों को प्रतिनिधि मंडल के सदस्यों ने जानने और सीखने का कार्य किया है. प्रतिनिधिमंडल ने ODF के क्षेत्र में हुए कार्यों की जमकर सराहना की.

झारखंड के लोग सरल और ईमानदार हैं

प्रतिनिधिमंडल ने मुख्यमंत्री से कहा कि झारखंड के लोग बहुत ही सरल स्वभाव और ईमानदार हैं. झारखंड की भौगोलिक स्थितियां और Nigeria की भौगोलिक स्थितियां काफी मिलती-जुलती हैं. राज्य सरकार ने महिला के सर्वांगीण विकास के लिए जो कार्य किया है. इसी तरह के कार्यों का संचालन Nigeria में भी किया जा सकता है. झारखंड में ODF के क्षेत्र में हुए कार्य अनुकरणीय है.

Nigeria के विभिन्न राज्यों से आए प्रतिनिधिमंडल में 3 सदस्य भारत सरकार की ओर से शामिल थे. प्रतिनिधिमंडल के साथ यूनिसेफ, वाटरशेड, डब्लूएसएससी तथा वर्ल्ड बैंक के प्रतिनिधि भी उपस्थित थे. प्रतिनिधिमंडल का झारखंड में पारंपारिक स्वागत भी किया गया है.

इस अवसर पर पेयजल एवं स्वच्छता सचिव आराधना पटनायक ने मुख्यमंत्री के समक्ष यह जानकारी दी कि Nigeria से आए प्रतिनिधिमंडल हजारीबाग जिले का भ्रमण किया है तथा यहां की कार्य संस्कृति के विषय में जानकारी प्राप्त की है. प्रतिनिधिमंडल के साथ इससे पहले भी समन्वय स्थापित कर पेयजल एवं स्वच्छता विभाग के साथ बैठक आयोजित की गई हैं. प्रतिनिधिमंडल का नेतृत्व मुख्य रूप से डायरेक्टर वाटर सप्लाई Nigeria सरकार बेनसन एजीसीगिरि कर रहे थे.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More