Take a fresh look at your lifestyle.

राबड़ी ने ऐश्वर्या का सारा सामान घर से बाहर फेंका

0 8

Patna: बिहार के दो पूर्व मुख्यमंत्रियों लालू प्रसाद और राबड़ी देवी के घर का ड्रामा खत्म होने का नाम नहीं ले रहा है. अभी पटना की एक अदालत ने लालू-राबड़ी के बड़े पुत्र तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या राय को हर महीने गुजरा भत्ता के रूप में 22 हजार रुपये देने का आदेश सुनाया था कि राबड़ी देवी के सरकारी आवास से बुधवार शाम ऐश्वर्या राय का सामान निकलकर उसके पिता चन्द्रिका राय के आवास पर डंप कर दिया गया.

ऐश्वर्या के पिता चन्द्रिका राय ने लगाया आरोप

ऐश्वर्या के पिता चन्द्रिका राय का आरोप है कि उनकी बेटी की अनुपस्थिति में राबड़ी देवी के आवास में ऐश्वर्या के कमरे का ताला तोडकर उसका सामान मेरे घर लाकर फेंक दिया गया है. हम इस मामले की शिकायत अदालत से करेंगे.

बता दें कि दो दिन पूर्व ही अदालत ने तेजप्रताप को हर महीने गुजारा भत्ता के रूप में 22 हजार रुपये देने का आदेश दिया है. साथ ही ऐश्वर्या को तलाक के इस मामले में कोर्ट आने के बाद जो पैसे खर्च करने पड़े हैं उसमें हर्जाना के रूप में तेजप्रताप को दो लाख रूपये अलग से देने होंगे.

कमरे का ताला तोड़ दिया

बुधवार शाम अचानक शुरू हुए नए घटनाक्रम में ऐश्वर्या राय का सामान दो पिकअप वैन में लादकर चन्द्रिका राय के आवास पर पहुंचा दिया गया. जबकि चन्द्रिका राय का कहना है कि ऐश्वर्या को पांच दिन पूर्व जब राबड़ी देवी के आवास से बाहर निकाला गया था तब वह अपने कमरे में ताला लगाकर आई थी लेकिन बिना उसकी इजाजत के ही उसके कमरे का ताला तोड़ दिया गया और सामान निकालकर मेरे दरवाजे पर फेंक दिया गया. इसमें कई जरुरी सामान गायब हैं जिसमें ऐश्वर्या का पासपोर्ट और मोबाइल फोन भी शामिल है.

चन्द्रिका राय ने यह भी कहा कि हम ऐश्वर्या का सामान इस तरह स्वीकार नहीं करेंगे क्योंकि मामला अभी अदालत में लम्बित है. हम इस मामले में कोर्ट जाएंगे. मेरे घर के दरवाजे पर ऐश्वर्या का जो सामान पड़ा है, उसे हम पुलिस के सुपुर्द कर रहे हैं.

लालू-राबड़ी के बड़े पुत्र व बिहार के पूर्व स्वास्थ्य मंत्री तेजप्रताप यादव की पत्नी ऐश्वर्या राय ने पिछले सप्ताह अपने पति समेत पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी और अपनी बड़ी ननद व राज्यसभा सांसद मीसा भारती पर दहेज़ के लिए मारपीट करने तथा घर से निकाल देने का आरोप लगाया है.

फिलहाल इस मामले में पुलिस ने कोई कार्रवाई नहीं की है जबकि इसके लिए एसआईटी गठित की गयी है. इसके बावजूद अभी तक न तो राबड़ी देवी से पूछताछ की गई है और न ही तेजप्रताप और उनकी बड़ी बहन मीसा भारती से ही.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.