Take a fresh look at your lifestyle.

Pulwama terror attack पर Pakistan बोला- हमें ऐसे न घसीटे India

0 0

New Delhi: Pakistan ने गुरुवार को जम्मू और कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले से पल्ला झाड़ा और कहा कि India और वहां का मीडिया ऐसे आरोप न लगाए. उसने यह भी कहा कि पुलवामा जिले में आतंकवादी हमला ‘गंभीर चिंता का विषय’ है.

Pakistan ने कहा, ‘हम बिना किसी जांच के हमले का संबंध Pakistan से जोड़ने के भारतीय मीडिया और सरकार के किसी भी आरोप को खारिज करते हैं.’ गौरतलब है कि जम्मू  कश्मीर में अब तक के सबसे बड़े आतंकी हमले में एक फिदायीन हमलवार ने श्रीनगर-जम्मू राजमार्ग पर अपनी विस्फोटकों से लदी एसयूवी केंद्रीय रिजर्व पुलिस बल (सीआरपीएफ) की बस से टकरा दी और उसमें विस्फोट कर दिया. इस आतंकी हमले में सीआरपीएफ के 37  जवान शहीद हो गए. जम्मू कश्मीर में 1989 में आतंकवाद शूरू होने के बाद से यह सबसे बड़ी घटना है.

इस हमले की जिम्मेदारी Pakistan समर्थित आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ने ली है. जैश का सरगना मसूद अजहर है जिसे हाल में Pakistan में India और कश्मीर के खिलाफ भाषण देते सुना गया था. India ने Pakistan की कड़ी आलोचना की और उससे आतंकवादियों को सहयोग देना बंद करने और उसकी जमीन से चल रहे आतंकी ठिकानों को खत्म करने की मांग की. हालांकि Pakistan ने इन आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया और कहा कि उसका पुलवामा हमले से कोई लेना देना नहीं है.

Pakistan की ओर से जारी बयान में कहा गया कि Pakistan ने दुनिया के किसी भी हिस्से में हिंसा की हमेशा निंदा की है. उसने कहा, ‘हम बिना किसी जांच के हमले का संबंध Pakistan से जोड़ने के भारतीय मीडिया और सरकार के किसी भी आक्षेप को खारिज करते हैं.’

इधर India के विदेश मंत्रालय ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय आतंकवादी घोषित हो चुका मसूद अजहर जैश का सरगना है जिसे पाकिस्तानी सरकार ने अपने नियंत्रण वाले इलाकों में शरण दी है. विदेश मंत्रालय ने यह भी कहा कि अजहर को आतंकी गतिविधियां चलाने और आतंकी ठिकाने बढ़ाने के साथ ही India पर हमले करने की Pakistan ने पूरी छूट दे रखी है.

गुरुवार के हमले में एक फिदायीन हमलावर ने विस्फोटकों से लदी अपनी कार सीआरपीएफ की एक गाड़ी में टकरा दी जिसमें जवान जा रहे थे. एसयूवी चला रहे आत्मघाती हमलावर ने करीब सवा तीन बजे बस में टक्कर मारी, जिससे काफी घातक विस्फोट हुआ. घटना उस वक्त की है, जब 78 गाड़ियों के काफिले में 2,547 सीआरपीएफ जवान जम्मू के ट्रांजिट शिविर से श्रीनगर की ओर जा रहे थे. हमला इतना जबरदस्त था कि सीआरपीएफ बस के परखच्चे उड़ गए. एक रिपोर्ट में कहा गया कि एसयूवी में 200 किलो विस्फोटक भरे हुए थे. आशंका जताई जा रही है कि हमलावर की गाड़ी में आरडीएक्स भी हो सकता है.

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.