देश की पहली निजी होवित्जर तोप फैक्ट्री का PM Modi ने किया उद्घाटन

by

Surat: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने शनिवार को सूरत के हजीरा में देश की पहली निजी होवित्जर तोप फैक्ट्री का उद्घाटन किया. यह फैक्ट्ररी गुजरात के हजीरा में एल एंड टी (लार्सन एंड टूब्रो) द्वारा स्थापित की गई है.

यह भारत की पहली निजी निर्माण फैक्ट्री होगी, जहां स्वचालित के 9 वज्र होवित्जर तोपों का निर्माण किया जाएगा.

गौरतलब है कि ‘एल एंड टी’ ने 2017 में ‘मेक इन इंडिया’ पहल के तहत भारतीय सेना को के 9 वज्र-टी 155 मिलिमीटर ‘ट्रैक्ड सेल्फ प्रोपेल्ड’ तोप प्रणालियों की 100 इकाइयों की आपूर्ति करने के लिए साढ़े चार हजार करोड़ रुपये का अनुबंध हासिल किया था.

खबरों के मुताबिक इस फैक्ट्री से निर्मित 155 एमएम के 9 वज्र होवित्जर तोप वाहन पर बैठकर प्रधानमंत्री ने कुछ देर निरीक्षण भी किया.  प्रधानमंत्री ने ट्वीट करके इसकी तस्वीरें भी जारी की है.

प्रधानमंत्री अपने ट्वीट में लिखा है कि भारत के रक्षा क्षेत्र में यह बेहद अहम योगदान है. इसके लिए मैं लार्सन एंड टूब्रो की पूरी टीम को बधाई देता हूं कि उन्होंने ऐसी शानदार के9 वज्र होवित्ज़र तोप का निर्माण किया. रक्षा क्षेत्र में ‘मेक इन इंडिया’ के तहत ऐसे अभियानों को प्रोत्साहित करने का हमारा प्रयास जारी है.

इस मौके पर रक्षा मंत्री निर्मला सीतारमण भी मौजूद थीं. गौरलतब है कि भारतीय सेना ने पिछले साल ही एलएंडटी द्वारा निर्मित दो होवित्जर तोपों (के9 वज्र और एम-777) को अपने बेड़े में शामिल किया है.

सेना के बेड़े में तीन दशक बाद कोई तोप शामिल की गई हैं. ये तोपें इस बार 26 जनवरी की परेड में भी शामिल की जा रही हैं. इन तोपों की मारक क्षमता 38 किलोमीटर है. एलएंडटी इन्हें दक्षिण कोरिया की रक्षा उत्पादन कंपनी के सहयोग से बना रही है. जानकारी के मुताबिक अभी ये तोपें दो साल में बनकर तैयार हुई हैं.

कंपनी ने इन तोपों के निर्माण के लिए सूरत से करीब 30 किलोमीटर दूर अपने हजीरा स्थित केंद्र में आर्मर्ड सिस्टम्स कॉम्प्लेक्स स्थापित किया है.

यहां स्वचालित आर्टिलरी होवित्जर, भविष्य में पैदल सेना से लड़ने वाले वाहनों, भविष्य के लिए तैयार लड़ाकू वाहनों और भविष्य के मुख्य युद्धक टैंकों जैसे उन्नत बख्तरबंद वाहनों का निर्माण किया जाएगा.

 

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.