Take a fresh look at your lifestyle.

पूर्वा एक्सप्रेस हादसा: साजिश की आशंका, जांच के लिए एटीएस की टीम पहुंची कानपुर

0

Kanpur: हावड़ा से नई दिल्ली जा रही पूर्वा एक्सप्रेस (12303) (Kanpur train Accident) शुक्रवार-शनिवार की दरम्यानी रात करीब 12.54 बजे कानपुर से 15 किलोमीटर दूर रूमा कस्बे के पास दुर्घटनाग्रस्त हो गयी. इस हादसे के पीछे साजिश की आशंका को देखते हुए यूपी एटीएस की टीम जांच करने कानपुर पहुंच गयी है.

ट्रेन दो हिस्सों में बंटने के बाद जोरदार आवाज के साथ पलट गयी और 11 डिब्बे पटरी से उतर गये. अंधेरे में यात्रियों में चीख पुकार मच गयी. हादसे में 20 से अधिक यात्री घायल हो गये हालांकि रेलवे ने 14 यात्रियों के घायल होने की पुष्टि की है, जिनमें से तीन की हालत गम्भीर बतायी जा रही है. तीनों घायलों का इलाज हैलट अस्पताल में चल रहा है.

यह ट्रेन कानपुर के महाराजपुर थाना इलाके में गुजरते समय रूमा के पास दो हिस्सों में बंट कर पटरी से उतर गयी. हादसे की जानकारी मिलते ही कमिश्नर,आईजी, जिलाधिकारी, एसएसपी, 30 एंबुलेंस, फायर ब्रिगेड और जिला पुलिस घटना स्थल पर पहुंची. घायलों को काशीराम ट्रामा सेंटर और हैलट अस्पताल भेजा गया.

11 ट्रेन रद्द, कई के रूट बदले

हादसे के चलते अभी तक रेलवे की तरफ से 11 ट्रेनों को कैंसिल कर दिया गया है और कई का रूट डायवर्ट किया गया है. मामूली रूप से घायलों को प्राथमिक उपचार के बाद व अन्य यात्रियों को विशेष ट्रेन से उनके गंतव्य तक भेजा जा रहा है. हादसे में डिब्बे पलटने से काफी दूर तक पटरियां उखड़कर गयीं. रूट पर रेल सेवा ठप हो गयी है.

घटना के कारणों की जांच कराई जाएगी. महानिरीक्षक कानपुर जोन आलोक सिंह ने रेल हादसे को लेकर बताया कि अभी तक किसी भी यात्री की मौत की खबर नहीं है.

सेना व एनडीआरएफ की टीमें राहत कार्य में जुटीं

पूर्वा एक्सप्रेस के पटरी से उतरने की जानकारी पर सेना की मदद ली गयी. सेना के जवान अंधेरे में ही राहत व बचाव कार्य करने पहुंच गये. इसके बाद जैसे ही शनिवार को सुबह की किरण फूटी और उजाला हुआ वैसे ही 45 लोगों की राष्ट्रीय आपदा प्रतिक्रिया बल (एनडीआरएफ) की टीम मौके पर पहुंच गयी.

एनडीआरएफ, सेना के जवान, जिला व पुलिस प्रशासन की टीमें राहत एवं बचाव कार्यों में युद्ध स्तर पर जुटी हुई हैं. रेलवे विभाग टूटे ट्रैक की मरम्मत में जुट गया है, ताकि हावड़ा रेल मार्ग पर गाड़ियों का संचालन जल्द से जल्द बहाल किया जा सके.

सेन्ट्रल स्टेशन पर दुर्घटना राहत ट्रेन (एआरटी) की व्यवस्था रेलवे द्वारा करा दी गयी है. घटनास्थल से कानपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन ले जाने के लिए 15 रोडवेज बसों की व्यवस्था की गयी है.

साजिश की आशंका पर पहुंची यूपी एटीएस

पूर्वा एक्सप्रेस हादसे में गहरी साजिश की आशंका जताई जा रही है. इसके चलते यूपी स्पेशल टॉस्क फोर्स (एसटीएफ) शनिवार सुबह तड़के कानपुर के रूमा स्थित दुर्घटना स्थल पर पहुंच गये. टीम में शामिल कर्मियों ने गहनता से पटरी व आसपास के स्थल पर छानबीन की.

इसके साथ ही गाड़ी के चालक व टीटीई सहित गाड़ी में मौजूद एस्कॉर्ट से भी पूछताछ करने के बात सामने आ रही है. हालांकि राहत कार्य व मलबा हटाने के बाद ही साजिश की आशंका का सही पता लगने की बात एटीएस द्वारा कही जा रही है.

यात्रियों को स्पेशल ट्रेन से दिल्ली भेजा

उत्तर मध्य रेलवे के प्रवक्ता सुनील कुमार गुप्त के अनुसार इस हादसे में कुल 14 घायल हुए हैं. इनमें से 11 यात्रियों को प्राथमिक उपचार के बाद छोड़ दिया गया, जिन्हें कानपुर सेंट्रल स्टेशन लाया गया था. तीन यात्रियों को उपचार के लिए हैलेट अस्पताल ले जाया गया.

उन्होंने बताया कि पूर्वा एक्सप्रेस के अगले हिस्से के कोचों को, जो बेपटरी नहीं हुए थे, उन्हें कानपुर सेंट्रल स्टेशन लाया गया. दुर्घटनाग्रस्त ट्रेन के सभी यात्रियों को स्पेशल ट्रेन से सुबह 5.45 बजे दिल्ली के लिए रवाना कर दिया गया. पटरियों की मरम्मत का काम युद्ध स्तर पर जारी है. डाउन लाइन को सुबह 6.15 बजे पूरी तरह से आवाजाही के लिए फिट कर दिया गया है.

रेलवे ने जारी किया हेल्प लाइन नंबर

इलाहाबाद -1072 (रेलवे नंबर)

कानपुर – 0512- 2323015, 2323016, 2323018

टुंडला-0561-220337, 220338

इटावा -0568-8266382, 8266383

अलीगढ़-0571-2403458

मिर्जापुर– 0544-2220095

पुरानी दिल्ली– 011-23967332

हजरत निजामुद्दीन (दिल्ली)– 011-24359748

आनंद विहार (दिल्ली) -9717632791

नई दिल्ली-011-2334295

Leave a Reply

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.

This website uses cookies to improve your experience. We'll assume you're ok with this, but you can opt-out if you wish. Accept Read More